Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

Vladimir Putin Birthday: जानिए कितने ताकतवर हैं रूस के राष्ट्रपति राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन

रूस के राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन (Vladimir Putin) का आज 67वां जन्मदिन (Birthday) है। उन्हें दुनिया के ताकतवर नेताओं (Powerful Leaders) में से एक माना जाता है। उन्होंने केजीबी (KGB) से अपने करियर की शुरूआत की थी। साल 2012 के बाद से वह रूस के राष्ट्रपति (President) हैं।

Vladimir Putin: कितने ताकतवर हैं रूस के राष्ट्रपति राष्ट्रपति पुतिन
X
Vladimir Putin Birthday: Know How Powerful Is President of Russia Vladimir Putin

दुनिया के ताकतवर नेताओं (Powerful Leader) में से एक माने जाने वाले रुस के राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन (Vladimir Putin) का आज जन्मदिन है। पुतिन आज 67 साल के हो गए हैं। कहा जाता है व्लादिमीर स्टालिन (Vladimir Stalin) के बाद रूस में अगर किसी दूसरे नेता ने बड़ी पहचान बनाई है तो वह व्लादिमीर पुतिन हैं। आइए उनके बारे में जानते हैं-



पुतिन का जन्म रूस के लेनिनग्राद (अब सेंट पीट्सवर्ग) में 7 अक्टूबर 1952 को हुआ। उनका पूरा नाम व्लादिमीर व्लादिमीरोविच पुतिन है। पुतिन की मां एक कारखाने में मजदूर थी जबकि उनके पिता सोवियत नेवी में काम करते थे। व्लादिमीर अपने परिवार में तीसरे बच्चे थे और उनके दो भाइयों की बचपन में ही मौत हो गई थी।








15 सालों तक केजीबी में किया काम

पुतिन ने साल 1975 में लेनिनग्राद राजकीय विश्वविद्यलाय से ग्रेजुएशन की डिग्री हासिल की और फिर रूस की गुप्तचर संस्था केजीबी में काम करना शुरु किया। केजीबी में वह साल 1991 तक काम करते रहे। केजीबी में उन्होंने सामान्य ओहदे से शुरूआत की थी। केजीबी में पुतिन बहुत ही साधारण से पद पर तैनात थे, वहां उनके जैसे हजारों थे। सिस्टम और सोवियत संघ से त्यागे जाने के बाद वे मुख्य राजनीति से किनारे हो गए थे। उस समय मेयर ऑफिस को एक मजबूत शख्स की जरूरत थी और पुतिन उसमें फिट बैठ रहे थे। केजीबी में काम करने के नाते पुतिन को राजनीति में प्रवेश मिला और उन्होंने अगले दो दशकों तक चलने वाली अपनी राजनीतिक पारी की सफल शुरुआत की। वह 2012 से अभी रूस के राष्ट्रपति हैं।


राजनीति में किया प्रवेश और राष्ट्रपति तक का सफर

पुतिन ने केजीबी में विदेशी खुफिया अधिकारी के तौर पर 15 साल सेवा की और बाद में 1990 के दशक में राजनीति का रुख कर लिया। 1997 में पुतिन रूस के राष्ट्रपति बोरिस येल्तसिन की सरकार में शामिल हुए जहां उन्हें संघीय सुरक्षा सेवा का प्रमुख (प्रधानमंत्री) बनाया गया। 1999 में जब येल्तसिन ने राष्ट्रपति पद से इस्तीफा दे दिया तो पुतिन कार्यवाहक राष्ट्रपति बने। इसके बाद 2000 और 2004 के राष्ट्रपति चुनावों में जीत हासिल की। हालांकि दोनों चुनावों में जीत के बाद वे रूस के संविधान के मुताबिक तीसरी बार चुनाव नहीं लड़ पाए। लेकिन 2012 में हुए चुनाव की जीत हासिल करने के बाद, 2018 के चुनावों में जीतकर वे चौथी बार राष्ट्रपति बने।



पुतिन के पास कुल कितनी संपत्ति

साल 2007 में विधायी चुनाव के दौरान जो आंकड़े जारी किए गए उसके मुताबिक पुतिन के पास बैंक कातों में लगभग 37 लाख रूसी रूबल (150,000 अमेरिकी डॉलर), सेंट पीटर्सबर्ग में एक निजी 77.4 वर्ग मीटर अपार्टमेंट, सेंट पीटर्सबर्ग बैंक के 260 शेयर और पिता से विरासत में मिले 1960 के दशक के दो युग वोल्गा एम 21 गाड़िया हैं। साल 2012 में पुतिन ने 36 लाख रूबल (1,13,000 अमेरिकी डॉलर) की आय की घोषणा की। उनके लिए 'पुतिन का महल' बनाया गया है।

और पढ़े: Haryana News | Chhattisgarh News | MP News | Aaj Ka Rashifal | Jokes | Haryana Video News | Haryana News App

Next Story