Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

ISRO का मिशन गगनयान, जानें कौन है 'व्योममित्र फीमेल रोबो'

बेंगलुरु में इसरो ने आज व्योममित्र फीमेल रोबो लॉन्च किया है। यह फीमेल रोबो Vyommitra सभी तरह के लाइव ऑपरेशन परफॉर्म कर सकती है। यह स्पेस से ISRO को जानकारियां भेजेगी।

ISRO का मिशन गगनयान, फीमेल रोबो Vyommitra जाएगी अंतरिक्षफीमेल रोबो व्योममित्र

भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन (ISRO) ने अपने गगनयान मिशन के लिए व्योममित्र (Vyommitra) नाम का ह्यूमेनॉइड डेवेलप किया है। यह व्योममित्र एक फीमेल रोबोट है, जिसका इस्तेमाल ISRO अपनी पहली मानवरहित उड़ान की टेस्टिंग में करेगा। आज इसरो ने व्योममित्र को मीडिया के सामने पेश किया।

ISRO कर रहा इंसानों को अंतरिक्ष भेजने की तैयारी

व्योममित्र (Vyommitra) फीमेल रोबोट को एक परीक्षण के लिए इस्तेमाल किया जाएगा। इस रोबो को गगनयान की टेस्टफ्लाइट के लिए बनाया गया है। यह टेस्टफ्लाइट इस साल के आखिर तक हो सकती है। इसरो 2022 में पहले परीक्षण के तौर पर इंसानों को अंतरिक्ष में भेजने की तैयारी कर रहा है।

इंसानों की तरह ही काम करेगी व्योममित्र

व्योममित्र फीमेल रोबोट सभी तरह के लाइव ऑपरेशन पर काम कर सकती है। यह रोबो किसी इंसान की तरह ही काम करेगी और स्पेस से ISRO को जानकारियां भेजेगी। व्योममित्र को दो भाषाओं की जानकारी है। बेंगलुरू में इसरो के प्रमुख के सिवन ने कहा कि साल के अंत में मानवरहित मिशन की टेस्टिंग की जाएगी। इसके लिए जनवरी के आखिर में चार लोगों को ट्रेनिंग के लिए रूस भेजा जाएगा। इसरो के प्रमुख के सिवन ने कहा कि हम सभी जानते हैं कि वैज्ञानिक खोज, आर्थिक विकास, शिक्षा, तकनीकी विकास और युवा सभी राष्ट्र के लिए लक्ष्य बन रहे हैं। मानव अंतरिक्ष उड़ान इन सभी उद्देश्यों को पूरा करने के लिए सही मंच प्रदान करती है।

गगनयान में अंतरिक्ष यात्रियों ये सब खाएंगे

गगनयान कार्यक्रम के लिए चार अंतरिक्ष यात्रियों को चुन लिया गया है। इन अंतरिक्ष यात्रियों के लिए खाने का मेन्यू भी तैयार हो चुका है। अंतरिक्ष में उन्हें जो खाना परोसा जाएगा उनमें एग रोल, वेज रोल, इडली, मूंग दाल हलवा और वेज पुलाव को भी शामिल किया गया है। अंतरिक्ष यात्रियों का यह खाना मैसूर स्थित डिफेंस फूड रिसर्च इंस्टीट्यूट के द्वारा तैयार किया जा रहा है। अंतरिक्ष में खाना गर्म करने के लिए ओवन की भी व्यवस्था होगी। इतना ही नहीं अंतरिक्ष यात्रियों के लिए पानी और जूस के साथ-साथ लिक्विड फूड की भी व्यवस्था रहेगी। जीरो गुरुत्वाकर्षण को देखते हुए मिशन गगनयान के लिए खाना तैयार किया जा रहा है।


Next Story
Top