Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

Gallantry Awards 2021: आतंकवाद के खिलाफ देश के इन वीर जवानों को मिला मरणोपरांत 'शौर्य चक्र', यहां देखें लिस्‍ट

राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद (Ramnath Kovind) ने सोमवार को देश के वीर जवानों को वीरता पुरस्कारों (Gallantry Awards) से सम्मानित किया।

Gallantry Awards 2021: आतंकवाद के खिलाफ देश के इन वीर जवानों को मिला मरणोपरांत शौर्य चक्र, यहां देखें लिस्‍ट
X

राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद (Ramnath Kovind) ने सोमवार को देश के वीर जवानों को वीरता पुरस्कारों (Gallantry Awards) से सम्मानित किया। जम्मू कश्मीर पुलिस के सब इंस्पेक्टर इमरान हुसैन टाक (J&K Police Sub Inspector Imran Hussain Tak) को मरणोपरांत सरकार ने शोर्य चक्र से सम्मानित किया। इस मौके पर उनकी पत्नी मौजूद रहीं। वहीं हॉल में पीएम नरेंद्र मोदी भी मौजूद थे।

एएनआई की रिपोर्ट के मुताबिक, जम्मू-कश्मीर पुलिस के एसआई इमरान हुसैन टाक को 2017 में श्रीनगर में गोली लगने से घायल होने के बावजूद एक टॉप आतंकवादी कमांडर को मारने और एक अन्य को गिरफ़्तार करने के लिए मरणोपरांत शौर्य चक्र से सम्मानित किया गया है। इस मौके पर उनकी पत्नी गुलनाज अख्तर को पुरस्कार देकर सम्मानित किया गया।

2018 में भारतीय सेना के लांस नायक संदीप सिंह को जम्मू-कश्मीर में एक ऑपरेशन में एक आतंकवादी को मारने और दो अन्य को घायल करने के लिए मरणोपरांत शौर्य चक्र से सम्मानित किया गया। उनकी पत्नी गुरप्रीत कौर को यह पुरस्कार दिया गया।

वहीं सेना की पंजाब रेजिमेंट के सिपाही ब्रजेश कुमार को 2018 में जम्मू-कश्मीर में एक ऑपरेशन के दौरान आतंकवादी को मारने के लिए मरणोपरांत शौर्य चक्र से सम्मानित किया गया और जम्मू-कश्मीर के एसपीओ आशिक हुसैन मलिक को 2018 में अनंतनाग में एक ऑपरेशन में अपनी बाहदुरी दिखाने पर मरणोपरांत राष्ट्रपति ने सम्मानित किया गया। आतंकवादियों को मारने के लिए राष्ट्रपति ने उनके माता-पिता मकबूल मलिक और शहजादो बानो को यह पुरस्कार दिया।

Next Story