Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

अलीबाबा ग्रुप की कंपनी यूसी वेब के एक पूर्व कर्मचारी का खुलासा, चीन विरोधी खबरों को रुकवाया, गुरुग्राम कोर्ट ने भेजा समन

अलीबाबा और इसके फाउंडर जैक मा को गुरुग्राम की एक डिस्ट्रिक्ट कोर्ट से समन जारी किया गया है।

अलीबाबा ग्रुप की कंपनी यूसी वेब के एक पूर्व कर्मचारी  का खुलासा, चीन विरोधी खबरों को रुकवाया, गुरुग्राम कोर्ट ने भेजा समन
X

अलीबाबा और इसके फाउंडर जैक मा को गुरुग्राम के एक डिस्ट्रिक्ट कोर्ट से समन जारी किया गया है। पूर्व कर्मचारी ने गलत तरीके से नौकरी से निकालने का आरोप लगाते हुए केस दर्ज कराया। जिसके बाद गुरुग्राम की डिस्ट्रिक्ट कोर्ट ने 29 जुलाई तक पेश होने के लिए आदेश जारी कर दिए हैं।

मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक, गुरुग्राम में जिला अदालत की न्यायाधीश सोनिया श्योकंद ने अलीबाबा, जैक मा और एक दर्जन व्यक्तियों के लिए समन जारी किया है। यूसी इंडिया ने एक बयान में कहा कि यह भारतीय बाजार के लिए अपनी प्रतिबद्धता और अपने स्थानीय कर्मचारियों के कल्याण में अटूट है और इसकी नीतियां स्थानीय कानूनों के अनुपालन में हैं।

अलीबाबा और उसके फाउंडर जैक मा को नोटिस जारी

कोर्ट ने अलीबाबा और उसके फाउंडर को एक पूर्व कर्मचारी की शिकायत पर नोटिस जारी किया गया है। पूर्व कर्मचारी ने आरोप लगाया है कि कंपनी ने सेंसरशिप और फेक न्यूज़ का विरोध करने पर उसे बाहर निकाल दिया। अलीबाबा ग्रुप की कंपनी यूसी वेब के पूर्व कर्मचारी पुष्पेंद्र सिंह परमार ने कोर्ट में मामला दर्ज कराया है।

पूर्व कर्मचारियों ने कहा कि बीती 20 जुलाई को पूरा मामला दर्ज कराया। जिसमें उन्होंने कंपनी पर आरोप लगाया कि कंपनी चीन विरोधी कंटेंट को सेंसर करने के लिए संवेदनशील शब्दों का इस्तेमाल कर रही थ। जिसका उन्होंने विरोध किया था।

भारत सरकार ने 59 प्रमुख चीनी ऐप पर प्रतिबंध लगाया। जिसमे प्रसिद्ध मनोरंजन ऐप टिक्कॉक और यूसी ब्राउज़र शामिल हैं। भारतीय और चीनी सेना के लद्दाख के गलवान घाटी क्षेत्र में वास्तविक नियंत्रण रेखा (एलएसी) पर टकरा जाने के बाद मोदी सरकार ने यह निर्णय लिया।

अलीबाबा के यूसी वेब के एक पूर्व कर्मचारी पुष्पेन्द्र सिंह परमार ने आरोप लगाया कि कंपनी चीन के प्रतिकूल देखी गई सेंसर सामग्री का उपयोग करती है और उसके ऐप्स यूसी ब्राउज़र और यूसी न्यूज़ ने सामाजिक और राजनीतिक उथल-पुथल मचाने के लिए झूठी खबरें दिखाईं।

यूसी न्यूज़ को हुआ भारत में कितने करोड़ का नुकसान

अलीबाबा के पूर्व कर्मचारी पुष्पेन्द्र सिंह परमार को सेंसरशिप और कंपनी ऐप्स पर फर्जी खबर के रूप में देखे जाने पर आपत्ति जताने के बाद निकाल दिया गया था। गुरुग्राम की एक जिला अदालत में यह मामला दर्ज किया गया है। जैक मा और अलीबाबा ग्रुप सहित कई लोगों को समन भेजा गया है। सरकार द्वारा हाल ही में ऐप को प्रतिबंधित करने से पहले यूसी ब्राउज़र को भारत में कम से कम 689 मिलियन का नुकसान हुआ।

Next Story
Top