Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

Coronavirus India Updates : लगातार चौथे दिन एक लाख से ज्यादा मरीज मिले, कुछ देर में PM मोदी करेंगे मुख्यमंत्रियों से चर्चा, ममता ने बनाई दूरी

भारत में कोरोना के मामले तेजी से बढ़ रहे हैं। पिछले 24 घंटे में कोरोना संक्रमित 1,26,789 नए मामले सामने आए हैं।

Coronavirus India Updates : लगातार चौथे दिन एक लाख से ज्यादा मरीज मिले, कुछ देर में PM मोदी करेंगे मुख्यमंत्रियों से चर्चा, ममता ने बनाई दूरी
X

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी। 

भारत में कोरोना की दूसरी लहर (Corona Second Wave) बेकाबू होती जा रही है। कोरोना के बढ़ते मामलों के मद्देनजर जहां कुछ राज्यों ने नाइट कर्फ्यू (Night Curfew) लागू कर दिया है, वहीं अधिक प्रभावित राज्य वीकेंड लॉकडाउन (Lockdown) लगाने जा रहे हैं। कोरोना महामारी (Corona Epidemic) के बढ़ते मामलों को देखते हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी आज मुख्यमंत्रियों के साथ बैठक करेंगे। वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से होने वाली इस बैठक में कोरोना से निपटने के लिए राज्यों में किए गए उपायों और टीकाकरण अभियान पर चर्चा होगी। खबरों की मानें तो पश्चिम बंगाल (West Bengal) की सीएम ममता बनर्जी (Mamata Banerjee) इस बैठक में शामिल नहीं होंगी। उनकी जगह मुख्य सचिव अलपन बंद्योपाध्याय बैठक में भाग लेंगे।

भारत में कोरोना के मामले तेजी से बढ़ रहे हैं। पिछले 24 घंटे में कोरोना संक्रमित 1,26,789 नए मामले सामने आए हैं। महाराष्ट्र में रिकॉर्ड 59907 नए मरीज मिले हैं, जबकि छत्तीसगढ़ में भी पहली बार मरीजों का आंकड़ा दस हजार पहुंचा है। देशभर में पिछले 24 घंटे के दौरान 685 लोगों की मौत इस महामारी से हो चुकी है। भारत में कुल संक्रमितों की संख्या बढ़कर 1,29,28,574 हो गई है, जिनमें से 8,43,473 एक्टिव मरीज हैं। महामारी से अब तक 1,18,51,393 लोग स्वस्थ हो चुके हैं। बता दें कि लगातार चौथा दिन है, जब कोरोना के नए मरीजों की संख्या एक लाख से ऊपर मिली है।

पीएम ने 17 मार्च को ली थी बैठक

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने 17 मार्च को भी मुख्यमंत्रियों के साथ बैठक कर कोरोना महामारी को लेकर प्रभावी कदम उठाने को कहा था। प्रधानमंत्री के साथ ही तमाम राज्यों के मुख्यमंत्री भी लगातार लोगों से अपील कर रहे हैं कि कोरोना गाइडलाइंस का गंभीरता से पालन करें। इसके बावजूद जिस तरह से केस बढ़ रहे हैं, उसने आंशिक प्रतिबंध लगाने के लिए राज्य सरकारों को विवश कर दिया है। अगर इसी तरह मामले बढ़ते गए तो पूर्ण लॉकडाउन की संभावना से भी इनकार नहीं किया जा सकता।

Next Story