Web Analytics Made Easy - StatCounter
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

Budget 2019 Highlights : BJP के 'न्यू इंडिया' को कांग्रेस ने बताया 'नई बोतल में पुरानी शराब'

Budget 2019 Highlights : शुक्रवार को मोदी सरकार-2 ने अपना पहला केंद्रीय बजट पेश किया। इस बजट को भारतीय जनता पार्टी जहां समावेशी और प्रगतिशील राष्ट्र की आधारशिला रखने वाला 'न्यू इंडिया' का बजट बताया है वहीं कांग्रेस ने इसे 'नई बोतल में पुरानी शराब' कहकर निराशा जताई।

Budget 2019: BJP ने बजट कोBudget 2019-20: Political Parties leader reactions on budget

Budget 2019 Highlights : शुक्रवार को मोदी सरकार-2 ने अपना पहला केंद्रीय बजट पेश किया। इस बजट को भारतीय जनता पार्टी जहां समावेशी और प्रगतिशील राष्ट्र की आधारशिला रखने वाला 'न्यू इंडिया' का बजट बताया है वहीं कांग्रेस ने इसे 'नई बोतल में पुरानी शराब' कहकर निराशा जताई।

गृहमंत्री अमित शाह ने संसद में शुक्रवार को पेश आम बजट को 'न्यू इंडिया' को साकार करने के लिए प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी की सोच को परिलक्षित करने वाला बजट करार दिया। उन्होंने कहा कि यह किसानों को समृद्ध और गरीब को सम्मानपूर्ण जीवन व्यतीत करने में सहायक होगा।

वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण द्वारा लोकसभा में आम बजट पेश किये जाने के बाद गृह मंत्री ने कहा कि बजट में मध्यम वर्ग को उनके कठिन परिश्रम का फल और भारतीय उद्यमियों को मजबूती मिलेगी। यह सही अर्थो में उम्मीद और सशक्तिकरण का बजट है।

शाह ने ट्वीट करके कहा कि वित्त मंत्री ने नए भारत के निर्माण के लिये बजट पेश किया है जो समावेशी और प्रगतिशील राष्ट्र की बुनियाद रखने वाला है। बजट किसानों, युवाओं, महिलाओं और गरीबों की आकांक्षाओं को पूरा करने वाला है।

उन्होंने कहा कि नए भारत का बजट पिछले पांच वर्षो में अर्थव्यवस्था, आवास, आधारभूत ढांचा और सामाजिक क्षेत्र से जुड़े विविध क्षेत्रों में अभूतपूर्व कार्यो को रेखांकित करता है। उन्होंने कहा कि इस आधार पर यह उम्मीद का भाव जागृत करता है कि आने वाले वर्षो में भारत 5000 अरब डालर की अर्थव्यवस्था बन सकता है।

अमित शाह ने कहा कि वित्त मंत्री ने 'भविष्योन्मुखी बजट' पेश किया है। यह बजट ऐसे क्षेत्रों का समावेशी खाका प्रस्तुत करता है जो हमारे नागरिकों को विकास एवं नवोन्मेष के पथ पर आगे ले जायेगा। उन्होंने कहा कि इसमें स्वच्छ ऊर्जा और कैशलेस लेनदेन पर जोर दिया गया है जो सही दिशा में उठाया गया कदम है।

गृहमंत्री ने कहा कि नए भारत के लिये आज का बजट प्रत्येक नागरिकों को पेयजल, पूरे देश को बिजली सम्पर्क से जोड़ने और विनिर्माण क्षेत्र को मजबूती प्रदान करने के हमारे सामूहिक सपने को पूरा करने का मंच तैयार करता है। यह बजट भारत को अधिक विविधतापर्ण स्टार्ट अप केंद्र बना सकेगा।

वहीं बजट की आलोचना करते हुए लोकसभा में कांग्रेस के नेता अधीर रंजन चौधरी ने कहा कि इसमें कुछ भी नया नहीं है और सिर्फ पुराने वादों को दोहराया गया है। चौधरी ने संसद भवन परिसर में संवाददाताओं से कहा कि इसमें कुछ भी नया नहीं है। पुरानी बातों को ही दोहराया गया है। यह नई बोतल में पुरानी शराब है।

उन्होंने कहा कि वे 'न्यू इंडिया' की बात कर रहे हैं, जबकि कोई नई पहल नहीं की गई है। पेट्रोल और डीजल पर उपकर लगा दिया गया। वे एक ऐसे भारत को पेश कर रहे हैं जो सबके लिए हसीन ख्वाब जैसा है, लेकिन हकीकत में कृषि और अर्थव्यवस्था तथा दूसरे क्षेत्रों को लेकर जो पहले वादे किए गए थे उसमें कुछ नया नहीं किया गया। कांग्रेस के वरिष्ठ नेता मोतीलाल वोरा ने कहा कि इस बजट में आम आदमी के लिए कुछ नहीं है।

पार्टी के मुख्य प्रवक्ता रणदीप सुरजेवाला ने कहा कि गांव, गरीब व किसान' हाशिये पर। क्या थोथे शब्दों से कृषि संकट हल होगा? न किसान की आय दुगनी करने का रास्ता, न न्यूनतम समर्थन मूल्य (एमएसपी) का वादा, अकाल-सूखे से लड़ने का न कोई उपाय, न ग्रामीण अर्थव्यवस्था में संकट का सुधार। केवल डीजल पर दो रुपये का अतिरिक्त भार। केन्द्रीय मंत्री मुख्तार अब्बास नकवी और पूर्व केन्द्रीय मंत्री सुषमा स्वराज ने भी बजट की प्रशंसा की।

Next Story
Share it
Top