Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

चुनाव आयोग ने ममता बनर्जी पर लगाया 24 घंटे का बैन, अब सीएम ने हाथ जोड़कर किया यह निवेदन

पश्चिम बंगाल की सीएम ममता बनर्जी पर चुनाव आयोग ने 24 घंटे का लगाया बैन लगा दिया है। ममता बनर्जी के खिलाफ चुनावी आचार संहिता के उल्लंघन का आरोप है।

bengal election 2021 west bengal cm mamata banerjee banned from campaigning for 24 hours by Election commission
X

सीएम ममता बनर्जी

पश्चिम बंगाल में विधानसभा चुनावों (Assembly elections in West Bengal) के प्रचार-प्रसार के दौरान जहां ममता बनर्जी (Mamata Banerjee) और भाजपा (BJP) आमने-सामने हैं। वहीं पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी (Chief Minister Mamata Banerjee) की पार्टी टीएमसी (TMC) के लिए दुखद खबर सामने आई है। वो है चुनावी आचार संहिता के उल्लंघन (Violation of electoral code of conduct) पर पश्चिम बंगाल की सीएम ममता बनर्जी पर चुनाव आयोग (Election commission) की ओर से 24 घंटे का लगाया बैन लगा दिया गया है। इस बैन काल में ममता बनर्जी अपनी पार्टी के लिए चुनाव प्रचार नहीं कर पाएंगी। चुनाव आयोग ने ममता बनर्जी की मुस्लिम वोटर्स से वोट बंटने ना देने की अपील और महिलाओं से सुरक्षाबलों का घेराव करने की सलाह दिए जाने को लेकर दो नोटिस जारी किए थे। ममता बनर्जी के जवाब से चुनाव आयोग असंतुष्ट हुआ और ममता के खिलाफ यह कार्रवाई कर दी गई।

तत्काल प्रभाव से लागू हुआ बैन का आदेश

सीएम ममता बनर्जी के खिलाफ चुनाव आयोग की ओर से जारी किया गया बैन का आदेश तत्काल प्रभाव से लागू हो गया है। ममता बनर्जी सोमवार रात 8 बजे से मंगलवार रात 8 बजे तक किसी भी प्रकार का प्रचार-प्रसार नहीं कर पाएंगी। चुनाव आयोग ने ममता बनर्जी को आगे से इस तरह का बयान नहीं देने को लेकर भी सख्त हिदायत दी है। ममता बनर्जी के बयानों की निंदा करते हुए चुनाव आयोग ने कहा कि ऐसे बयानों के चलते कानून-व्यवस्था की स्थिति बिगड़ सकती है।

चुनाव आयोग ने जाहिर की निंदा

चुनाव आयोग ने तर्क दिया है कि ममता बनर्जी वर्तमान में राज्य की मुख्यमंत्री भी हैं। उन्होंने चुनाव आचार संहिता के साथ ही जनप्रतिनिधित्व कानून, 1951 की धारा 123 (3) और 3a और आईपीसी, 1860 की धारा 186, 189 और 505 का भी उल्लंघन किया है। ममता बनर्जी की ओर से बेहद भड़काऊ बयान दिए गए हैं। इन बयानों की वजह से प्रदेश की कानून व्यवस्था की स्थिति बिगड़ सकती है। साथ ही चुनावी प्रक्रिया बाधित हो सकती हैं।

ममता बनर्जी ने लगाया पक्षपात का आरोप

पश्चिम बंगाल की सीएम एवं टीएमसी (TMC) नेता ममता बनर्जी ने कहा कि वो चुनाव आयोग से हाथ जोड़कर निवेदन करती हैं। सिर्फ भाजपा की ही ना सुनी जाए, सभी की सुनें और चुनाव आयोग पक्षपाती ना बनें।

ममता बोलीं- वास्तव में दुखी और शर्मिंदा हूं

ममता बनर्जी ने कहा कि वो वास्तव में दुखी और शर्मिंदा हूं। मैंने ऐसा प्रधानमंत्री नहीं देखा जो बोलते समय सभी सीमाओं को लांघ जाता है। मैंने सभी धर्म के लोगों के लिए काम किया है। मैंने क्या नहीं किया है? अब एक ही चीज रह गई है, 'भाजपा हटाओ देश बचाओ'। लेफ्ट और कांग्रेस भाजपा के एजेंट हैं।

Next Story