Logo
election banner
India Zindabad: भारतीय नौसेना ने अदन की खाड़ी में ईरान के जहाज पर सवार 23 पाकिस्तानी नागरिकों को समुद्री डकैतों से बचाया। नेवी ने 29 मार्च को रेस्क्यू ऑपरेशन चलाया था। 

India Zindabad: भारतीय नौसेना (Indian Navy) ने ईरान के जहाज पर सवार 23 पाकिस्तानी नागरिकों को सोमालियाई समुद्री डकैतों से बचाया। जिसके बाद पाकिस्तानी नाविकों ने भारत जिंदाबाद के नारे लगाए और इंडियन नेवी को शुक्रिया अदा किया। नेवी को हिंद महासागर में अदन की खाड़ी के पास ईरानी जहाज अल-कंबर के हाईजैक होने की सूचना मिली थी। सोमालिया के 9 हथियारबंद समुद्री लुटेरों ने जहाज को हाईजैक कर लिया था। नेवी ने ऑपरेशन चलाते हुए जहाज को छुड़ाया और पाकिस्तानी नागरिकों को डकैतों के चंगुल से आजाद कराया। 

पाकिस्तानी बोले- इंडिया जिंदाबाद

समुद्री डकैतों को सरेंडर करने के लिए किया मजबूर
इंडियन नेवी को 28 मार्च को देर रात सूचना मिली कि ईरान के मछली पकड़ने वाली जहाज 'Al-Kambar 786' पर समुद्री डकैतों ने कब्जा कर लिया है। इसके बाद नौसेना ने करीब 12 घंटे तक ऑपरेशन चलाकर 29 मार्च को ईरानी जहाज को छुड़ाया और समुद्री डकैतों को सरेंडर करने के लिए मजबूर कर दिया। रेस्क्यू ऑपरेशन को इंडियन नेवी के दो वॉर शिप आईएनएस सुमेधा (INS Sumedha) और आईएनएस त्रिशूल ( INS Trishul) लगाए गए थे। यह दोनों जंगी जहाज गाइडेड मिसाइल से लैस हैं। 

पहले भी कई जहाजों को बचा चुकी है नौसेना
इस महीने की शुरुआत में इंडियन नेवी ने MV Ruen नामक जहाज को समुद्री डकैतों के हमले से बचा लिया था। भारतीय नौसेना ने  40 घंटे तक चले इस ऑपरेशन में जहाज पर कब्जा करने वाले 35 समुद्री डकैतों को  सरेंडर करने के लिए मजबूर कर दिया था। साथ ही 17 क्रू मेम्बर्स को सुरक्षित बचा लिया था। कुछ दिन पहले अदन की खाड़ी में मिसाइल हमले का शिकार हुए एक जहाज को भी इंडियन नेवी ने बचाया था।

jindal steel
5379487