Logo
election banner
World Health Day: लाइफस्टाइल में आ रहे बदलावों के कारण लोग कई शारीरिक तथा मानसिक समस्याओं का शिकार होते जा रहे है। इसके अलावा लोग अपने काम के तनाव में अपनी सेहत को भी नजरअंदाज कर देते है। इसलिए वर्ल्ड हेल्थ ऑर्गेनाइजेशन (WHO) सेहत और बीमारी से जुड़े मुद्दों के बारे में जागरूकता फैलाने के लिए प्रति वर्ष 7 अप्रैल को वर्ल्ड हेल्थ डे मनाता है।

World Health Day: मानव को एक अच्छा जीवन व्यतीत करने के लिए सेहतमंद रहना बेहद जरूरी होता है। हालांकि इन दिनों लोगों की जीवनशेली में तेजी से बदलाव आया है, जिसके कारण अब हर कोई किसी न किसी स्वास्थ्य समस्या से जूझ रहा है। बदलती लाइफस्टाइल व गलत खानपान का हमारी सेहत पर सीधा असर पड़ता है। ऐसे में स्वास्थ्य के प्रति लोगों में जागरूकता फैलाने के लिए प्रति वर्ष 7 अप्रैल के दिन वर्ल्ड हेल्थ डे मनाया जाता है। वर्ल्ड हेल्थ ऑर्गेनाइजेशन (WHO) द्वारा इस दिवस को हर साल लोगों में किसी खास मुद्दे तथा बीमारी के बारे में जागरूकता फैलाने तथा दुनियाभर के लोगों को प्रभावित करने वाले हेल्थ मुद्दों के समाधान के लिए यह दिवस मनाया जाता है। 
वर्तमान में लोगों के बीच फिजिकल हेल्थ के साथ मेंटल हेल्थ भी चिंता का विषय बन गया है। अब अधिकतर लोग मानसिक तनाव के कारण कई मेंटल हेल्थ से जुड़ी समस्याओं का शिकार होते जा रहे हैं। इन्हीं में से एंग्जायटी की समस्या हैं जिसके कारण लोग अक्सर तनाव में रहते है। आइए हम जानतें है कि इन समस्याओं को कैसे मैनेज करें।

ट्रिगर्स की पहचान
एंग्जायटी की समस्या से बचने के लिए सर्वप्रथम आप उन ट्रिगर्स की पहचान करें, जो इसकी बढ़ोत्तरी में योगदान करते हैं। इसके अलावा जितना संभव हो उन चीजों के संपर्क में कम से कम आने की कोशिश करें। 

कम सोचे 
कई बार एंग्जायटी की समस्या अधिक सोचने के कारण भी होने लगती है। इसके लिए आप भविष्य के बारे में सोचने या अतीत पर ध्यान देने के बजाय वर्तमान पर ध्यान केंद्रित करें। इससे छुटकारा पाने के लिए आप माइंडफुलनेस टेक्नीक जैसे ग्राउंडिंग टेक्नीक या डीप ब्रीथिंग का सहारा ले सकते है। इससे आपको चिंता को कम करने और अपना ध्यान वर्तमान में एकग्र करने में सहायता मिलेगी। 

फिजिकल एक्टिविटी 
एंग्जायटी की समस्या को खत्म करने के लिए आपको अपनी लाइस्टाइल में कुछ बदलाव लाने की आवश्यकता है। इसके लिए आप अपने डेली रूटीन में फिजीकल एक्टिविटीज और रिलैक्सेशन जैसे- मेडीटेशन, योग, प्राकृति के साथ समय बिताना आदि चीजों को शामिल कर सकते है। शरीर को तंदुरूस्त रखने के लिए फिजीकल एक्टिविटी बेहद जरूरी है। इससे आपका दिमाग तथा मन दोनो को शांत रखने में मदद मिलती है। 

नकारात्मकता को छोड़े
अगर आप भी एंग्जायटी से छुटकारा पाना चाहते है, तो इसे मैनेज करने के लिए निगेटिव विचारों से दूरी बनाना बेहद जरूरी है। इसके लिए आप अपना ज्यादा से ज्यादा ध्यान पॉजिटिव विचारों की तरफ केंद्रित करें। 


 

5379487