Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

TB Patients Diet Chart टीबी पेशेंट्स इन 5 चीजों को अपने डाइट में शामिल करें

TB Patients Diet Chart क्षय रोग (Tuberculosis) एक घातक बीमारी है और यदि टीबी के पेशेंट्स को सही देखभाल और समय पर इलाज नहीं मिलता है, तो यह एक गंभीर समस्या बन सकती है। टीबी एक ऐसी बीमारी हैं। जो माइकोबैक्टीरियम ट्यूबरकुलोसिस (Mycobacterium tuberculosis) नामक बैक्टीरिया से होती है। जिन व्यक्तियों में बीमारी से लड़ने की इम्युनिटी पॉवर कम होती है। उन लोगों में टीबी होने का खतरा अधिक होता है। टीबी के कुछ सामान्य लक्षणों में लगातार खांसी, वजन में कमी, कमजोरी और सांस की तकलीफ शामिल है। हालांकि, कुछ खाद्य पदार्थों का सेवन टीबी रोगियों के लिए फायदेमंद हो सकता है। आइए जानते हैं कि टीबी से पीड़ित व्यक्ति को अपने आहार में किन महत्वपूर्ण चीजों को शामिल करना चाहिए।

टीबी पेशेंट्स इन 5 चीजों को अपने डाइट में शामिल करेंTB Patients Diet Chart In Hindi

डॉक्टरों के अनुसार, टीबी से निपटने के लिए ज्यादा आराम और दवा की आवश्यकता होती हैं। टीबी का इलाज संभव हैं, लेकिन इसके इलाज़ के लिए कुछ एहतियात बरतनी पड़ती हैं। जैसे, जब भी कोई मरीज बाहर जाए, उसे तब तक मास्क पहनना चाहिए। जब तक कि वे पूरी तरह से ठीक न हो जाएं। यह संक्रमण से बचाने के लिए आवश्यक है। इसके आलवा टीबी पेशेंट्स को अपने खाने में किन चीजों को शामिल करना चाहिए, जिससे टीबी से लड़ने के लिए उनकी इम्युनिटी पॉवर बढ़ सके।

टीबी पेशेंट्स को अपने भोजन (Diet) में इन चीजों को शामिल करना चाहिए :

फ्रूट्स (Fruits)



टीबी के मरीज़ों के लिए बेहद ज़रूरी है कि वह रोज़ाना उन फलों का सेवन करें। जिसमें विटामिन A, E और विटामिन C भरपूर मात्रा में हों। टीबी के पेशेंट्स को मल्टीविटामिन और पोषक तत्वों से भरपूर आंवला, संतरा, आम, अमरुद और नींबू जैसे फलों का नियमित रूप से सेवन करना चाहिए। जो उनके लिए फायदेमंद हैं।

लहसुन (Garlic)



टीबी के मरीजों के लिए लहसुन एक चमत्कारी दवा के तौर पर काम करता हैं। हर व्यक्ति को रोज सुबह लहसुन की दो या तीन कलियां चबानी चाहिए, इससे कई बीमारियों को खत्म करने में मदद मिलेगी। इसके अलावा, लहसुन टीबी के इलाज में भी प्रभावी है, क्योंकि इसमें मौजूद एलिसिन टीबी के बैक्टेरिया पर सीधा असर डालता हैं। अगर लहसुन को दो-तीन मिनट तक चबाया जाए, तो इससे टीबी पर काबू किया जा सकता हैं।

हरी सब्जियां और अनाज (Green Vegetables & Grains)



टीबी के रोगियों को अपने आहार (Diet) में गाजर, टमाटर, शकरकंद और ब्रोकली जैसी सब्जियों को शामिल करना चाहिए, क्योंकि ये सब्जियाँ एंटीऑक्सिडेंट से भरपूर होती हैं।, जो आपके स्वास्थ्य को सही करने के लिए ज़रूरी हैं। साथ ही टीबी की बीमारी में साबुत अनाज जैसे कि ब्रेड आदि को अपनी डाइट में शामिल करना चाहिए। ये न केवल आपकी भूख को शांत करने में मदद करेंगे बल्कि आपको तेजी से ठीक करने में मदद भी करेंगे।

ग्रीन टी (Green Tea)



अगर आप टीबी जैसी गंभीर बीमारी से पीड़ित हैं, तो चाय और कॉफी का सेवन कम करें, और ग्रीन टी को अपनी आदत में शामिल करें। टीबी के इलाज़ में ग्रीन टी फायदेमंद हैं। क्योंकि यह आपके शरीर से ज़हरीलें पदार्थों (toxins) को बाहर निकालने में मदद करती है।

दूध (Milk)



दूध कैल्शियम और प्रोटीन से भरपूर होता है और इसलिए यह टीबी रोगियों के लिए काफी फायदेमंद माना जाता है। यदि कोई टीबी रोगी रोज़ाना दूध का सेवन करता हैं। तो इससे उनकी प्रतिरोधक क्षमता (Immunity Power) बढ़ती है और शरीर को ताकत मिलती हैं। इसलिए बीमारी से जल्दी छुटकारा पाने के लिए रोगी को बादाम के दूध का सेवन करना चाहिए, क्योंकि यह हल्का, पचने में आसान और विटामिन से भरपूर होता हैं।

इन खाद्य और पेय पदार्थों के अलावा, टीबी रोगी के लिए सूर्य का प्रकाश बहुत महत्वपूर्ण है क्योंकि उन्हें विटामिन डी की कमी होती है, इसलिए उन्हें सुबह की धूप में बैठना चाहिए और विटामिन डी से भरपूर भोजन लेना चाहिए।

Next Story
Top