logo
Breaking

कैंसर का खतरा महिलाओं से ज्यादा होता है पुरुषों में

पढ़िए ऐसे दस कैंसर जो महिलाओं की अपेक्षा पुरुषों में ज्यादा पाए जाते हैं

कैंसर का खतरा महिलाओं से ज्यादा होता है पुरुषों में
नई दिल्ली. लाइफस्टाइल, आनुवांशिक और कुछ अन्य कारणों की वजह से कुछ कैंसर के होने का खतरा महिलाओं से ज्यादा पुरुषों में होता है। ऐसे दस कैंसर जो महिलाओं की अपेक्षा पुरुषों में ज्यादा पाए जाते हैं।
प्रोस्ट्रेट कैंसर : प्रोस्ट्रेट ग्लैंड सिर्फ पुरुषों में ही पाया जाता है तो जाहिर है कि यह कैंसर महिलाओं को नहीं हो सकता है। डॉक्टर की मानें तो प्रोस्ट्रेट कैंसर एक साइलेंट किलर है और इसका पता ज्यादातर लास्ट स्टेज पर चलता है।
लंग कैंसर : स्मोकिंग और तंबाकू का सेवन लंग कैंसर के प्रमुख कारण हैं। हाल ही में महिला स्मोकर्स में लंग कैंसर के बढ़ते ग्राफ की खबर सामने आई है, लेकिन लंग कैंसर का खतरा महिलाओं से ज्यादा पुरुषों में पाया जाता है।
कोलेरेक्टल कैंसर : कोलेरेक्टल कैंसर का खतरा महिलाओं और पुरुषों दोनो में बराबर होता है। लेकिन कुछ रिसर्च में यह पाया गया है कि कोलेरेक्टल कैंसर का ट्रीटमेंट ले रही महिलाओं का सर्वाइवल रेट पुरुषों से पांच साल अधिक होता है।
स्किन कैंसर
स्किन कैंसर का कारण तो अभी भी ठीक से पता नहीं चल पाया है लेकिन महिलाओं और पुरुषों की स्किन अलग-अलग होने के कारण पुरुषों में इस कैंसर के होने का खतरा ज्यादा होता है।
किडनी कैंसर
किडनी कैंसर का खतरा महिलाओं की अपेक्षा पुरुषों में तीन गुना ज्यादा होता है। स्मोकिंग, आनुवांशिक और लाइफस्टाइल किडनी कैंसर के कुछ प्रमुख कारण हैं।
खबरों की अपडेट पाने के लिए लाइक करें हमारे इस फेसबुक पेज को फेसबुक हरिभूमि, हमें फॉलोकरें ट्विटर और पिंटरेस्‍ट पर-
Share it
Top