logo
Breaking

मैं और अनिल टपोरी डांसर हैं: शिल्पा शेट्टी

शिल्पा शेट्टी ने फिल्मी पर्दे पर अपने डांस से खूब धमाल मचाई है।

मैं और अनिल टपोरी डांसर हैं: शिल्पा शेट्टी
मुंबई. अपने करियर के शुरुआती दौर से ही शिल्पा शेट्टी डांस को लेकर क्रेजी रही हैं। उन्होंने फिल्मों में एक से बढ़कर एक डांस सॉन्ग किए हैं। आजकल वह भले ही एक्टिंग में एक्टिव ना हों, लेकिन टीवी रियालिटी शोज में जरूर नजर आ जाती हैं। वह बच्चों के डांस रियालिटी शो ‘सुपर डांसर’ को जज कर रही हैं। इस शो में उनके साथ दो और जज हैं, अनुराग बसु और गीता कपूर। शो से जुड़ी बातचीत शिल्पा शेट्टी कुंद्रा से...
‘सुपर डांसर’ में जजिंग करते हुए आप कैसा फील कर रही हैं?
बहुत ही शानदार फीलिंग हो रही है। शो में बच्चों ने कमाल ही कर दिया है। ऐसे डांस किए हैं, जो हम सोच भी नहीं सकते। आप यकीन नहीं करेंगे कि एक बच्चे ने सिर्फ नाड़ा घुमा-घुमा कर ऐसा डांस किया कि हम दंग रह गए। हमारे पास उसको पास करने के अलावा कोई रास्ता नहीं था। इसी तरह एक मासूम लड़की ने ऐसा ब्रेक डांस किया कि ब्रेक डांस करने वाले भी फेल हो जाएं।
सुना है कि आप जब बच्चों को रिजेक्ट करती हैं तो रो देती हैं?
हां, जब मुझे किसी बच्चे को रिजेक्ट करना पड़ता है, तो मेरे दिल पर क्या गुजरती है, मैं ही जानती हूं। बच्चों को रिजेक्ट करने पर मुझे ही रोना आ जाता है। बेचारे वो कितनी उम्मीद और मेहनत से इस प्लेटफॉर्म तक पहुंचते हैं और फिर हमें उनको ना बोलना पड़ता है। ऐसे में दुख होना लाजिमी है। हमारी भी मजबूरी है कि हमें किसी ना किसी को रिजेक्ट करना ही है।
आपने अन्य शोज में यंगस्टर को जज किया है। अब इस शो में बच्चों को जज कर रही हैं, दोनों में क्या फर्क महसूस करती हैं?
बड़े जब डांस करते हैं तो दिमाग से सोच कर डिसीजन लेना पड़ता है, जबकि बच्चे जो डांस करते हैं वो दिल से करते हैं तो हम भी जज दिमाग से ज्यादा दिल से करते हैं।
इस शो के उद्देश्य क्या हैं?
इस शो के जरिए हम अच्छे डांसर को प्लेटफॉर्म देना चाहते हैं, ताकि वो कल के अच्छे डांसर बनें और अपनी प्रतिभा से नाम, शोहरत और पैसा कमा सकें।

शो में किस तरह के डांस को देखने का मौका मिलेगा?
इस डांस शो में हर तरह के डांस देखने को मिलेगा। वेस्टर्न के साथ-साथ इसमें क्लासिकल डांस भी देखने को मिलेगा। खास बात यह है कि कुछ डांस तो ऐसे भी होंगे, जो बच्चों ने खुद क्रिएट किए हैं, उनका अपना ही स्टाइल होगा।
ऐसे शोज में अकसर देखा गया है कि पैरेंट्स भी अपने बच्चों पर बेस्ट देने का लगातर प्रेशर बनाते हैं। इसे आप किस तरह देखती हैं?
जो मां-बाप अपने बच्चों के साथ इस तरह का प्रेशर जबरदस्ती डालते हैं। मैं ऐसे पैरेंट्स के खिलाफ हूं। मेरा मानना है कि पैरेंट्स को चाहिए कि वो अपने बच्चों को यहां एंज्वॉय करने दें, लाइफ में हार-जीत तो लगी रहती है।
आपने अपने अब तक के करियर में हर तरह का डांस किया है। आपको किस तरह का डांस सबसे ज्यादा पसंद है?
मुझे टपोरी डांस ही सबसे ज्यादा पसंद है, जो गणपति विसर्जन पर किया जाता है। मेरा बेटा भी टपोरी डांसर है। मैं चैंबूर की रहने वाली हूं और अनिल कपूर भी यहीं के हैं। हम दोनों ही टपोरी डांस करने में माहिर हैं।
‘सुपर डांसर’ में आपके साथ दो जज अनुराग बसु और गीता कपूर भी हैं। उनके बारे में क्या कहेंगी?
गीता कपूर तो सही में डांस की मां हैं। उनकी तारीफ में कुछ कहना सूरज को रोशनी दिखाने जैसा है, जबकि अनुराग बसु छिपे हुए डांसर हैं। इस शो में हमने उनसे भी डांस करवाया है। इस तरह दोनों जज मेरे फेवरेट हैं। मुझे उनके साथ जजिंग करने में बहुत मजा आ रहा है।

अपने बेटे के लिए ओवर प्रोटेक्टिव हूं
शिल्पा शेट्टी का बेटा चार साल का है। वह भी डांस का शौकीन है। क्या वह अपने बेटे को इस शो में पार्टिसिपेट कराना चाहेंगी? पूछने पर वह साफ-साफ जवाब देती हैं, ‘मैं अपने बेटे के लिए ओवर प्रोटेक्टिव हूं। मैं उसको ज्यादा टीवी भी नहीं देखने देती। लेकिन ‘सुपर डांसर’ के बच्चों को देखने के बाद मैं अपने बेटे को यह शो जरूर देखने दूंगी। जहां तक उसके इस शो में आने का सवाल है, तो मैं ऐसा नहीं कर पाऊंगी। इसकी वजह है कि एक तो वह मेरी तरह टपोरी डांसर है दूसरे अभी बहुत छोटा है।’
खबरों की अपडेट पाने के लिए लाइक करें हमारे इस फेसबुक पेज को
फेसबुक हरिभूमि, हमें फॉलो करें ट्विटर और पिंटरेस्‍ट पर-
Share it
Top