Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

Balakot एयर स्ट्राइक से तिलमिलाए पाकिस्तान ने अब भारतीय फिल्मों को किया बैन

पाकिस्तान के एक्जीबिटर्स एसोसिएशन ने फैसला किया हैं की अब किसी भी भारतीय फिल्म को पाकिस्तान में नही दिखाया जायेगा साथ ही पाकिस्तान सरकार ने फैसला किया है कि भारत से जुड़े किसी भी विज्ञापन को भी प्रसारित नहीं किया जायेगा। इसके साथ भारतीय टीवी सीरियल को भी अब पाकिस्तान सरकार न दिखाने के प्रस्ताव पर विचार कर रही है।

Balakot एयर स्ट्राइक से तिलमिलाए पाकिस्तान ने अब भारतीय फिल्मों को किया बैन

IAF ने पाकिस्तान पर जबसे एयर स्ट्राइक किया हैं उसी दिन से पाकिस्तान सरकार की न सिर्फ पूरी दुनियाँ बल्कि उनके अपने देश में ही जमकर फ़ज़ीहत हो रही है। भारतीय वायु सेना की जवाबी कार्यवाही से तिलमिलाए पाकिस्तान ने अपनी झुंझुलाहट को कम करने के लिए अब बॉलीवुड फिल्मों को अपना निशाना बनाया हैं।

जिसके परिणाम स्वरूप पाकिस्तान ने भारतीय फिल्मों के प्रदर्शन पर पूरी तरह से बैन लगाने का मन बना लिया है। फिलहाल अभी तक टोटल धमाल, लुका छुपी, अर्जुन पटियाला, मेड इन चाइना, सोन चिड़िया, मिलन टॉकीज़, कबीर सिंह और नोटबुक को पाकिस्तान में रिलीज़ नहीं करने का फैसला किया गया है।

पाकिस्तान के एक्जीबिटर्स एसोसिएशन ने फैसला किया हैं की अब किसी भी भारतीय फिल्म को पाकिस्तान में नही दिखाया जायेगा साथ ही पाकिस्तान सरकार ने फैसला किया है कि भारत से जुड़े किसी भी विज्ञापन को भी प्रसारित नहीं किया जायेगा। इसके साथ भारतीय टीवी सीरियल को भी अब पाकिस्तान सरकार न दिखाने के प्रस्ताव पर विचार कर रही है।

लाहौर हाईकोर्ट मे एक याचिका डाली गयी हैं जिसमें बॉलीवुड फिल्मों के कारोबार और दिखाए जाने पर पूरी तरह से प्रतिबन्ध लगाने कि मांग कि गयी है। याचिका में इम्पोर्ट पॉलिसी आर्डर 2016 का हवाला दिया गया है जिसके तहत सरकार ने भारतीय फिल्मों और कंटेंट पर रोक लगाई थी।

याचिका में नवाज़ शरीफ सरकार का भी ज़िक्र किया गया हैं क्यूंकि पाकिस्तानी फिल्मों को बढ़ावा देने के लिए नवाज़ सरकार ने भारत सहित सभी इंटरनेशनल फिल्मों क प्रदर्शन पर रोक लगा दी थी लेकिन बाद की सरकारों ने सिनेमा मालिकों की मांग और वित्तीय नुकसान को पूरा करने के लिए यह पाबन्दी हटा ली थी।

आपको बता दे कि बॉलीवुड फिल्में और इंडियन टीवी सीरियल्स को पाकिस्तान में बहुत पसंद किया जाता हैं। पाकिस्तान कि आम जनता ख़ासकर महिलाओं में इंडियन टीवी सीरियल्स बेहद पॉपुलर हैं और पाकिस्तान के युवावर्ग में बॉलीवुड फिल्मों का ज़बरदस्त क्रेज़ हैं । यही वजह हैं कि पाकिस्तान में बॉलीवुड कि फिल्में पाकिस्तानी फिल्मों से ज़्यादा कमाई करती हैं।

ज़बरदस्त कंगाली के दौर से गुज़र रहे पाकिस्तानी सिनेमा को बॉलीवुड फिल्मों से हमेशा अच्छी कमाई होती रही हैं अब बॉलीवुड फिल्मों को न दिखाने से इसका पाक सिनेमा पर कितना बुरा असर होगा यह आने वालें समय में पता चल जायेगा।

Next Story
Top