logo
Breaking

"मजाक-मजाक में" सबको क्लीनबोल्ड करेंगे राजू श्रीवास्तव

कॉमेडी शो ‘मजाक-मजाक में’ में नजर आएंगे कॉमेडी किंग राजू राजू श्रीवास्तव

"मजाक-मजाक में" सबको क्लीनबोल्ड करेंगे राजू श्रीवास्तव
मुंबई. टीवी पर किंग ऑफ कॉमेडी का तमगा हासिल कर चुके राजू श्रीवास्तव एक बार फिर दर्शकों को हंसाने-गुदगुदाने के लिए हाजिर हो चुके हैं। लाइफ ओके पर हाल में ही शुरू हुए स्टेंडअप कॉमेडी शो ‘मजाक- मजाक में’ वह नार्दन नमूनों की टीम के कैप्टन के रूप में दिख रहे हैं। इस शो में क्या होगा स्पेशल, बता रहे हैं राजू श्रीवास्तव।
बहुत कम एक्टर ऐसे होते हैं, जिन्हें देखते ही दर्शकों को हंसी आ जाती है। राजू श्रीवास्तव ऐसे ही कॉमेडियन हैं। इन दिनों वह छोटे पर्दे पर बिल्कुल नए कॉन्सेप्ट के कॉमेडी शो ‘मजाक-मजाक में’ अपने जाने-पहचाने अंदाज में दर्शकों को ठहाका लगवा रहे हैं। इस शो को लेकर रंगारंग की उनसे फोन पर बात हुई, पेश हैं उसके प्रमुख अंश।
‘मजाक-मजाक में’ पार्टिसिपेट करने की कोई खास वजह? क्या धमाल मचाने की प्लानिंग है इस बार आपकी?
इस शो को पंकज सारस्वत ने डायरेक्ट किया है, जिन्होंने टीवी पर एक से बढ़कर एक कॉमेडी शोज दिए हैं। उनके साथ पहले भी कई बार काम कर चुका हूं, इसलिए उनके आॅफर को तुरंत एक्सेप्ट कर लिया। शो में आईपीएल की तर्ज पर कॉमेडी का कॉम्पिटिशन होगा। इसमें 5 टीमें हैं। हर टीम में 5 मेंबर हैं। मैं नॉर्दन नमूने टीम का कैप्टन हूं। भरपूर धमाल मचाने की प्लानिंग है।
आप नार्दन नमूने टीम के कैप्टन हैं। आप भी यूपी से बिलॉन्ग करते हैं। यूपी, बिहार के लोगों में वो कौन सी स्पेशिलिटी आपने महसूस की है, जो उन्हें नमूना बनाती है?
हम भले ही उन्हें नमूने कहें लेकिन उनमें बहुत सी अच्छाइयां और भोलापन होता है। उनका जीने का अलग ही अंदाज होता है।
शो की टैग लाइन है ‘सवाल नाक का है’। तो अपनी नाक बचाने के लिए क्या कर गुजरने का इरादा है आपका?
सच कहूं तो मैं अब शोज में एंज्वॉय करने के लिए आता हूं। 30 साल हो गए हैं मुझे कॉमेडी करते। देश-विदेश में 3400 के करीब शोज कर चुका हूं। लोगों का इतना प्यार मिला है कि कुछ पाने को रह नहीं गया है। लेकिन अपना 100 पर्सेंट परफॉर्मेंस तो इसमें भी दूंगा। इतना पक्का है कि नाक कटने नहीं देंगे, बल्कि नाक ऊंची हो जाएगी।
शो का कॉन्सेप्ट आईपीएल की तर्ज पर है। दोनों जजेज शोएब अख्तर और हरभजन सिंह भी क्रिकेटर हैं, तो आपका टार्गेट शो में चौके-छक्के लगाने का है या दूसरी टीम वालों को क्लीन बोल्ड करने का है?
हम लोग पता नहीं क्यों बैट्समैन को हीरो और बॉलर को मजदूर समझते हैं। मैं तो मजदूरों के साथ ही जाऊंगा, यानी मजाक-मजाक में करेंगे सबको क्लीन बोल्ड।
कट-टु-कट
मोस्ट फेवरेट कॉमेडी एक्टर- किशोर कुमार, महमूद साहब
आइडियल स्टेंडअप कॉमेडियन- जॉनी लीवर
फेवरेट कनपुरिया कहावत- बने रहो पगला, काम करेगा अगला
हंसाने में अक्ल ज्यादा काम आती है या शक्ल- अक्ल
आगे की स्लाइड्स में पढ़िए, खबरों से जुड़ी अन्य जानकारी -
खबरों की अपडेट पाने के लिए लाइक करें हमारे इस फेसबुक पेज को फेसबुक हरिभूमि, हमें फॉलोकरें ट्विटर और पिंटरेस्‍ट पर-
Share it
Top