logo
Breaking

मेरे बच्चों का इंट्रेस्ट एक्टिंग और डांसिंग में नहीं बल्कि साइंस और हिस्ट्री में है: माधुरी दीक्षित

माधुरी दीक्षित नेने जितनी अच्छी एक्ट्रेस हैं, उतनी ही बेहतरीन डांसर भी हैं। इन दिनों माधुरी कलर्स चैनल के डांस रियालिटी शो ‘डांस दीवाने’ को जज कर रही हैं।

मेरे बच्चों का इंट्रेस्ट एक्टिंग और डांसिंग में नहीं बल्कि साइंस और हिस्ट्री में है: माधुरी दीक्षित

माधुरी दीक्षित नेने जितनी अच्छी एक्ट्रेस हैं, उतनी ही बेहतरीन डांसर भी हैं। इन दिनों माधुरी कलर्स चैनल के डांस रियालिटी शो ‘डांस दीवाने’ को जज कर रही हैं। इस शो से जुड़कर वह बहुत खुश हैं।

इसके अलावा बॉलीवुड में भी अलग-अलग जॉनर की फिल्मों में बिजी हैं। हाल ही में उनसे लंबी बातचीत हुई। पेश है, माधुरी दीक्षित नेने से हुई बातचीत के चुनिंदा अंश-

आप डांस रियालिटी शो ‘डांस दीवाने’ को जज कर रही हैं, इस शो में आपको क्या बात सबसे अच्छी लगती है?

इस शो में हमें अलग-अलग तरह का डांस देखने का मौका मिल रहा है। इसमें तीन अलग-अलग पीढ़ी के डांसर्स अपना टैलेंट दिखा रहे हैं। कई लोग तो अपने डांस परफॉर्मेंस से हैरान कर देते हैं।

मैं भी डांस की दीवानी हूं, इसलिए इस शो से जुड़कर खुश हूं। इस शो में मेरे साथ जज के तौर पर शशांक खेतान और तुषार कालिया हैं। दोनों ही बहुत टैलेंटेड हैं, डांस की अच्छी समझ रखते हैं।

इस शो में तीन पीढ़ी के लोग डांस कर रहे हैं, आपको किस पीढ़ी को डांस करते देखकर सबसे ज्यादा खुशी होती है?

मुझे तो हर पीढ़ी को डांस करते देखकर मजा आ रहा है। हां, सबसे ज्यादा मजा बड़ी उम्र की पीढ़ी का डांस देखकर आता है। इस शो में बड़ी उम्र के सभी डांसर कमाल के हैं।

आप टीवी पर डांस शो ही जज करती हैं, क्या टीवी पर दूसरे रियालिटी शो में इंट्रेस्ट नहीं है?

मुझे डांस शो ही ज्यादा पसंद हैं। मैंने कभी बाकी रियालिटी शोज का हिस्सा बनने के बारे में सोचा नहीं है।

आपके सॉन्ग ‘एक दो तीन…’ का रीमेक हुआ, जिसमें जैकलिन फर्नांडिस ने डांस किया था, इस पर आपका क्या कहना है?

मैंने जैकलिन का डांस देखा था। ‘एक दो तीन…’ पर उसने काफी अच्छा डांस किया है। लेकिन कंपैरिजन तो हर दौर में होता है। जब मैं अपने समय में डांस किया करती थी तो लोग कहते थे कि मधुबाला जी और वैजयंती माला जी जैसा डांस नहीं कर सकती है। इस तरह आज की एक्ट्रेसेस का कंपैरिजन हमसे किया जाता है।

क्या आप पुराने हिट डांस नंबर्स के रीमेक को सही मानती हैं?

मुझे इसमें कोई गलत बात नहीं लगती है। पुराने गानों को आज के हिसाब से बनाकर पेश किया जाता है, जिससे दर्शकों को कुछ नया देखने को मिलता है।

जैसे कि हमने फिल्म ‘टोटल धमाल’ में फेमस सॉन्ग ‘पैसा ये पैसा…’ का रीमेक किया है, इस पर डांस करने का एक्सपीरियंस बहुत अच्छा रहा।

टोटल धमाल में आप किस तरह का रोल कर रही हैं? क्या इसके अलावा भी कोई फिल्म कर रही हैं?

हां, इस समय मैं ‘टोटल धमाल’ नाम की एक कॉमेडी फिल्म कर रही हूं। जिसके गाने के बारे में आपको बताया। एक फिल्म ‘कलंक’ कर रही हूं, इसमें भी मेरा अलग किस्म का रोल है।

लेकिन अभी इन फिल्मों की डिटेल नहीं बताई जा सकती है। कुछ दिनों पहले मेरी पहली मराठी फिल्म ‘बकेट लिस्ट’ भी रिलीज हुई है, इस फिल्म का एक्सपीरियंस भी बहुत अच्छा रहा।

आज भी जब लोग आपसे मिलते हैं तो आपमें कोई बदलाव महसूस नहीं करते हैं, जबकि आप कई साल तक देश से दूर रहीं?

अमेरिका में दस साल रहने के बाद मेरे बात करने के एक्सेंट में थोड़ा फर्क आ गया था। वहां के लोगों के साथ उसी एक्सेंट में बात करनी पड़ती है। बाकी मुझमें ज्यादा बदलाव नहीं आया, क्योंकि मैं समय के साथ बदलने में विश्वास नहीं रखती हूं और न ही पीछे मुड़कर देखना पसंद करती हूं।

क्या आपके बच्चों को भी एक्टिंग, डांस में इंट्रेस्ट है?

जब मैं अमेरिका में थी तब मेरे बारे में बच्चों को ज्यादा कुछ नहीं पता था। लेकिन जब से वे यहां आए हैं, स्कूल जाने लगे हैं, उन्हें मेरे बारे में पता चला है। मेरे बेटे घर आकर कहते हैं कि मम्मी फ्रेंड्स ने बताया कि आप बहुत कूल हो।

खुद भी जब मेरे बच्चों ने मुझे फिल्म ‘गुलाब गैंग’ में देखा तो हैरान रह गए थे। वे सोचने लगे कि मम्मी ने इतना टफ रोल कैसे किया। लेकिन मुझे एक्टिंग करते हुए देखकर भी उनका इंट्रेस्ट एक्टिंग, डांस में नहीं है।

इसके बजाय म्यूजिक को ज्यादा पसंद करते हैं। उन्होंने तबला और प्यानो बजाना सीखा है। इसके अलावा बड़े बेटे को साइंस में इंट्रेस्ट है, वहीं छोटे बेटे को हिस्ट्री में इंट्रेस्ट है।’

Share it
Top