Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

Interview: काजोल ने किया अब तक का सबसे बड़ा खुलासा

काजोल (Kajol) आज भी लोगों की पसंदीदा एक्ट्रेस हैं। लोग उनके बारे में जानना पसंद करते हैं। शादी के बाद एक पत्नी, मां के रूप में वह अपनी जिंदगी कैसे जी रही हैं, कितना एंज्वॉय कर रही हैं? रंगारंग ने इस बात को नजर में रखकर उनसे पूछे हैं कुछ सवाल।

Interview: काजोल ने किया अब तक का सबसे बड़ा खुलासा
काजोल (Kajol) आज भी लोगों की पसंदीदा एक्ट्रेस हैं। लोग उनके बारे में जानना पसंद करते हैं। शादी के बाद एक पत्नी, मां के रूप में वह अपनी जिंदगी कैसे जी रही हैं, कितना एंज्वॉय कर रही हैं? हरिभूमि ने इस बात को नजर में रखकर उनसे पूछे हैं कुछ सवाल...
आप एक हिट हीरोइन, एक पत्नी और एक मां भी हैं। आपने सबसे ज्यादा एंज्वॉय अपने किस रोल में किया है?
वैसे तो मैंने अपने हर रोल को पूरी तरह एंज्वॉय किया है, लेकिन जब मेरी शादी हुई तो मुझे लगा कि मेरा अधूरा जीवन पूरा हो गया। जब मैं एक बेटी की मां बनी तो मुझे लगा कि मैं पूरी तरह एक संपूर्ण स्त्री हो गई हूं।

आपकी कौन-सी ऐसी कला है, जो बचपन से लेकर आज तक आप में है?
मेरे अंदर बचपन से एक कला है, जो अब तक बरकरार है। वो कला है गिरकर संभलने की। मैं बार-बार गिरती रहती हूं लेकिन इसके साथ गिरकर संभलने में माहिर हूं। घर में, शूटिंग में, मॉल में, पार्टी में कहीं भी, कभी भी गिर जाती हूं। बहुत जल्दी संभल भी जाती हूं।
क्या कभी ऐसा हुआ कि आपकी याद्दाश्त सही में चली गई हो?
एक बार ‘कुछ-कुछ होता है’ की शूटिंग के दौरान मेरी याद्दाश्त चली गई थी। करण जौहर मुझे लेकर बेहद परेशान हो गए थे। मैं किसी को पहचान नहीं पा रही थी। काफी समय बाद मैं नॉर्मल हुई, तब करण ने चैन की सांस ली।
आप एक नेचुरल हीरोइन हैं, फैशन भी लिमिटेड करती हैं। क्या कभी कोई फैशन आपको भारी पड़ा?
हां, जब मैं अजय के साथ किसी खास पार्टी में हाई हील्स पहन कर जाती हूं तो अजय के कंधों पर लटक-लटक कर उसकी हालत खराब कर देती हूं। वो मुझसे कहते हैं कि जब तुमको हाई हील्स में चलना नहीं आता तो पहनती क्यों हो? तब मैं कहती हूं यही स्टाइल है। मेरे हाई हील्स वाली सेंडल और शूज वाले फैशन से मुझे तकलीफ हो या ना हो लेकिन अजय को जरूर होती है।
जब आपको किसी की चुगली करने का मन होता है तो आप किसके साथ गॉसिपिंग करना पसंद करती हैं?
हां, मुझे कई बार चुगली या कहें गॉसिपिंग करने का मन करता है। ऐसे में मेरी कोशिश होती है कि अपने करीबी लोगों से गप्पे मारूं। अगर वो बिजी होते हैं, कोई मेरी बात सुनने के लिए नहीं मिलता है तो मैं अजय को लंबा-चौड़ा मैसेज कर देती हूं। इसके बाद मुझे सबसे ज्यादा गुस्सा तब आता है, जब अजय जवाब में सिर्फ ओके लिख कर भेज देते हैं।
क्या आप बच्चों को कभी पढ़ाई के लिए डांटती हैं?
बेटी को तो नहीं, बेटे को जरूर पढ़ाई के लिए डांटना पड़ता है। उसके होमवर्क पर नजर भी रखनी पड़ती है।
क्या आपने कभी अपनी मां से पढ़ाई के लिए मार या डांट खाई है?
पढ़ाई के लिए तो नहीं, एक-दूसरी बात के लिए मुझे एक बार मेरी मां ने बहुत पीटा था। दरअसल, मेरी आदत थी कि अगर मेरी कोई बात पूरी नहीं होती तो मैं दीवार पर अपना सिर पटकती थी। इस हरकत के लिए मेरी मां ने मुझे कई बार रोका, पीटने की भी धमकी दी लेकिन जब मैं नहीं मानी तो एक बार उन्होंने मेरे सिर पटकते ही जो धुलाई की कि मेरी तबीयत हरी हो गई।
क्या आप अपने घर में खाना बनाती हैं?
खाना बनाना तो अच्छे से नहीं आता लेकिन खाना बनवाना अच्छे से आता है। मैं जब खाना बनवाती हूं तो फुल इंस्ट्रक्शन देती हूं कि इसमें नमक कम है, इसमें धनिया-मिर्ची डालो, ऐसा टेस्ट है, वैसा टेस्ट है, इसको ऐसे सही करो। लेकिन सच्चाई यही है कि मुझे पूरी तरह अच्छा खाना बनाना नहीं आता।
क्या आज इतने सालों बाद भी आप अजय पर फिदा हैं?
ऑफकोर्स! अजय मेरे ऑल टाइम फेवरेट हैं। मैं उनसे बेइंतहा प्यार करती हूं। आज भी कल भी और हमेशा करती रहूंगी।
Next Story
Top