Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

dadasaheb phalke birthday: जानिए 'दादा साहेब फाल्के अवार्ड' का इतिहास

दादा साहेब फाल्के पुरस्कार भारतीय सिनेमा का सर्वोच्च पुरस्कार है। जानिए कब ये अवार्ड शुरू हुए और ये अवार्ड अब तक किन हस्तियों को मिल चु के हैं।

dadasaheb phalke birthday: जानिए

दादा साहेब फाल्के पुरस्कार भारतीय सिनेमा का सर्वोच्च पुरस्कार है। ये अवार्ड सूचना और प्रसारण मंत्रालय द्वारा स्थापित संगठन 'राष्ट्रीय फिल्म पुरस्कार' समारोह में हर साल दिया जाता है। इस पुरस्कार के द्वारा उन लोगों को समानित किया जाता है, जिन्होंने भारतीय सिनेमा के विकास और विकास में अपना विशेस योगदान दिया हो। पुरस्कार के रूप में स्वर्ण कमल (गोल्डन लोटस) पदक, शॉल और 1,000,000 रुपए का नकद पुरस्कार दिया जाता है।


पहली बार 1969 में भारत सरकार द्वारा साल 1969 में पहली बार भारतीय सिनेमा में दादासाहेब फाल्के के अमूल्य योगदान को मनाने के लिए इस पुरस्कार की शुरुआत की गयी थी । दादासाहेब फाल्के जिन्हें अक्सर "भारतीय सिनेमा का पिता" के रूप में जाना जाता है, एक भारतीय फिल्म निर्माता थे, जिन्होंने भारत की पहली फुल लेंथ (पूर्ण लंबाई) वाली फीचर फिल्म, राजा हरिश्चंद्र का निर्देशन किया था। ये फिल्म (1913) में रिलीज की हुई थी।


दादा साहेब फाल्के पुरस्कार प्राप्त करने वाली पहली हस्ती थी अभिनेत्री 'देविका रानी'। 'देविका रानी' जिन्हें साल 1969 में 17 वें राष्ट्रीय फिल्म पुरस्कार में इस अवार्ड से सम्मानित किया गया था। साल 2017 तक 49 पुरस्कार दिए जा चुके हैं। जिनमें अभिनेता पृथ्वीराज कपूर (1971), अभिनेता विनोद खन्ना को मरणोपरांत ये अवार्ड साल 2017 में दिया गया।


बॉलीवुड की कई मशहूर हस्तियाँ इस अवार्ड से अबतक सम्मानित की जा चुकी हैं जिनमें पृथ्वी राज कपूर, राज कपूर, शशि कपूर, लता मंगेशकर, आशा भोसले, बलदेव राज चोपड़ा, यश चोपड़ा, देव आनंद, ऋषिकेश मुखर्जी, दिलीप कुमार, अशोक कुमार जैसी हस्तियाँ प्रमुख हैं।

Next Story
Top