Logo
election banner
UP Board 10th Maths Exam Analysis: उत्तर प्रदेश माध्यमिक शिक्षा परिषद(UP Board Exam)  की परीक्षाएं शुरू हो गई है। आज 10वीं का गणित विषय का तीसरा पेपर था, जो अब खत्म हो गया है। कैसा आया था पेपर, बच्चों ने कैसे किया हल जानिए स्टूडेंट्स से...

UP Board 10th Maths Exam Analysis: उत्तर प्रदेश माध्यमिक शिक्षा परिषद(UP Board Exam)  की 10वीं और 12वीं की परीक्षाएं शुरू है। यूपी बोर्ड 10वीं की मंगलवार यानी 27 फरवरी के दिन गणित का तीसरा पेपर था। जो सुबह 8:30 से लेकर 11:45 तक आयोजित हुआ। परीक्षा केंद्र से बाहर आए स्टूडेंट्स के चेहरों में खुशी देखने को मिली। छात्र-छात्राओं ने बताया की सबसे कठिन विषय मैथ्स का पेपर ज्यादा कठिन नहीं आया था। जानिए कैसा आया था बोर्ड 10वीं का गणित पेपर और पेपर में कहां आई दिक्कत।

और भी पढ़ें: बोर्ड एग्जाम के चलते बच्चों का बढ़ रहा है टेंशन, पैरेंट्स इन तरीकों से दूर करें तनाव, पढ़ाई में लगेगा मन

हरिभूमि की डिजिटल टीम  यूपी बोर्ड की 10वीं कक्षा के गणित विषय के पेपर को लेकर राजा चित्तर सिंह इंटर कॉलेज रामपुरा, जालौन पहुंची और वहां बच्चों से बात की। जहां स्टूडेंट्स केंद्र से बाहर निकलते समय बताया कि गणित 10वीं का पेपर ज्यादा कठिन नहीं आया था। जानिए किसने क्या कहा..

  • परीक्षा केंद्र से बाहर आते छात्र सुगित सिंह ने बताया कि गणित के लिए हमारी तैयारी पूरी थी। पेपर देखकर खुशी हुई क्योंकि पेपर ज्यादा कठिन नहीं आया था। पेपर थोड़ा लंबा था, कई बच्चों के कुछ प्रश्न छूट गए है। मैथ्स की तैयारी के लिए हमने गाइड और इंटरनेट का इस्तेमाल किया था। इसके साथ ही मैथ्स की कोचिंग भी की थी। 70 मार्क्स के इस पेपर में लगभग 55+ नंबर आने की उम्मीद है। 
  • वहीं एक छात्र ललित कुमार ने बताया कि हमको सबसे ज्यादा टेंशन मैथ्स के पेपर की ही थी। मैथ्स के फॉर्मूले  याद करने के लिए हमने इसको लिख लिखकर याद किया था। पेपर थोड़ा कठिन जरूर था लेकिन जिन्होंने फार्मूला याद किए होंगे उनके लिए आसान था। 70 नंबर के पेपर में उम्मीद है कि 50+ नंबर आ जाएंगे।
  • एक छात्रा रिया सिंह राजावत का कहना था कि पेपर बहुत अच्छा था। ज्यादा कठिन नहीं था। सारे प्रश्नों के उत्तर आसानी से बन गए। 70 नंबर के पेपर में उन्हें उम्मीद है कि 65 नंबर आ जाएंगे। रिया ने यह भी बताया कि पहले उन्होंने पेपर को पूरा पढ़ा। फिर जो क्वेश्चन सबसे अच्छे से बन रहा था उसे सबसे पहले किया। ढाई घंटे में ही पूरा पेपर सॉल्व कर लिया। पूरा पेपर करने के बाद कॉपी पर एक बार बारीकी से नजर डाली और फिर परीक्षा केंद्र से बाहर आ गईं।  
  • छात्र कमल सिंह ने बताया कि पेपर हमारी संभावना से काफी अच्छा रहा। सबसे पहले पेपर मिलने के बाद पूरे पेपर को अच्छे से पढ़ और समझा, उसके बाद जो प्रश्न के उत्तर आते थे, उनको पहले सॉल्व किया। लगभग 2:30 घंटे में मेरा पेपर कंप्लीट हो गया। परीक्षा की तैयारी को लेकर कहा कि प्रतिदिन 6-7 घंटे घर में रहकर पढ़ाई की।

और भी पढ़ें: यूपी बोर्ड परीक्षा में मिलेगी कलर आंसर सीट, QR कोड के साथ मिलेगी ये सुविधा

70 नंबर का था पेपर
इस प्रश्न-पत्र के अ और ब दो खण्ड थे। खंड- अ में 1 अंक के 20 बहुविकल्पीय प्रश्न थे, जिनके उत्तर केवल ओ. एम. आर(OMR) पर ही देने थे। जबकि खंड-ब में 50 अंक के वर्णनात्मक प्रश्न थे। खंड-ब में कुल 5 प्रश्न थे। 

5379487