Logo
election banner
Paytm Payments Bank Ban RBI FAQ: आरबीआई ने पेटीएम के पेमेंट्स बैंक, वॉलेट समेत अन्य सेवाओं पर 31 जनवरी को प्रतिबंधों का ऐलान किया था। यह बैन 1 मार्च से लागू होना था, लेकिन अब पेटीएम को 15 दिन की मोहलत दी गई। 

Paytm Payments Bank Ban RBI FAQ: रिजर्व बैंक ने पेटीएम पेमेंट्स बैंक लिमिटेड पर लगाए प्रतिबंधों की डेडलाइन बढ़ाकर 15 मार्च कर दी है। पहले पेटीएम पर बैन 1 मार्च से लागू होने थे। आरबीआई ने पेटीएम ग्राहकों की गफलत दूर करने के लिए अक्सर पूछे जाने वाले सवाल (FAQ) जारी किए हैं। इनमें केंद्रीय बैंक (RBI) ने 30 अलग-अलग सवालों के जवाब स्पष्ट किए हैं। यहां हम आपको प्रमुख सवालों से जुड़ी जानकारी दे रहे हैं। जिसमें आप जान पाएंगे कि आरबीआई से मिली मोहलत के बाद कब और कौन सी तारीख तक पेटीएम की सेवाएं जारी रहेंगी या उन पर प्रतिबंध की स्थिति क्या है?  

1) पेटीएम पेमेंट्स बैंक अकाउंट्स (Paytm Payments Bank):
निकासी और कार्ड इस्तेमाल: आप अपने पेटीएम खाते में उपलब्ध रकम को विदड्राल, ट्रांसफर और बैंक की ओर से जारी डेबिट कार्ड का इस्तेमाल भी कर पाएंगे। 
जमा और क्रेडिट: 15 मार्च, 2024 के बाद किसी प्रकार का डिपॉजिट या ट्रांसफर नहीं हो सकता है, केवल ब्याज, कैशबैक, स्वीप-इन या रिफंड की छूट को छोड़कर।
रिफंड और अन्य क्रेडिट: 15 मार्च, 2024 के बाद भी रिफंड, कैशबैक, स्वीप-इन या ब्याज को खाते में क्रेडिट किया जा सकता है।
अन्य बैंकों के साथ जमा: पेटीएम पेमेंट्स बैंक ग्राहकों के अन्य बैंकों में रखे गए मौजूद जमा को लाने (स्वीप-इन) का फॉर्मूला जारी रहेगा।
वेतन क्रेडिट: 15 मार्च, 2024 के बाद वेतन पेटीएम पेमेंट्स बैंक खातों में नहीं हो सकेगा।
सरकारी सब्सिडी और डायरेक्ट बेनिफिट: 15 मार्च, 2024 के बाद ऐसे कोई भी क्रेडिट पेटीएम पेमेंट्स बैंक खातों में नहीं हो सकेगा। 

2) पेटीएम पेमेंट्स बैंक वॉलेट:
वॉलेट यूज: इससे रकम निकालना, ट्रांसफर करना या वॉलेट टू वॉलेट या बैंक अकाउंट में पैसे ट्रांसफर करने जैसी प्रोसेस वॉलेट में उपलब्ध राशि तक ही कर पाएंगे।
वॉलेट टॉप-अप और क्रेडिट: 15 मार्च, 2024 के बाद वॉलेट में पैसों का टॉप-अप या ट्रांसफर नहीं किया जा सकता है, सिर्फ कैशबैक या रिफंड के लिए इसका इस्तेमाल होगा।
कैशबैक: 15 मार्च, 2024 के बाद भी कैशबैक को वॉलेट में क्रेडिट किया जा सकता है। (रिजर्व बैंक की मोहलत पर पेटीएम फाउंडर ने क्या कहा, पढ़ें पूरी खबर...) 

3) FASTags, NCMC, और अन्य सेवाएं:
FASTags: मौजूदा पेटीएम फास्टैग का इस्तेमाल उपलब्ध बकाया राशि तक टोल भुगतान के लिए किया जा सकता है। 15 मार्च के बाद इसे और फंडिंग या टॉप-अप करने की अनुमति नहीं है।
NCMC कार्ड: इस कार्ड का उपयोग भी शेष राशि तक किया जा सकेगा, लेकिन 15 मार्च के बाद उसमें कोई भी लोडिंग या टॉप-अप नहीं किया जा सकता।

4) मर्चेंट बिजनेस:
मर्चेंट पेमेंट: अगर किसी मर्चेंट का फंड पेटीएम पेमेंट्स बैंक के साथ नहीं जुड़ा है, तो वह इसका उपयोग जारी रख सकता है।
भारत बिल भुगतान सिस्टम (BBPS) और आधार सक्षम भुगतान प्रणाली (AePS): जब तक खाते में बकाया राशि है। BBPS के जरिए पेटीएम पेमेंट्स बैंक खाते से पेमेंट किया जा सकता है। इसके आलावा बायोमेट्रिक प्रमाणीकरण का इस्तेमाल कर AePS के द्वारा वापसी हो सकती है, जब तक खाते में शेष राशि हो।

5) UPI/IMPS:
रकम ट्रांसफर: 15 मार्च, 2024 के बाद आप अपने पेटीएम पेमेंट्स बैंक खाते में UPI/IMPS के जरिए पैसे ट्रांसफर नहीं कर पाएंगे।
विद्ड्रॉल: UPI/IMPS के जरिए पेटीएम पेमेंट्स बैंक खाते से पैसे उपलब्ध शेष रकम तक निकाल सकते हैं।

6) पेटीएम पेमेंट्स बैंक बिजनेस कॉरेस्पॉन्डेंट:
विद्ड्रॉल: पेटीएम पेमेंट्स बैंक बिजनेस कॉरेस्पॉन्डेंट आपको आपके खाते से शेष राशि तक निकास करने में मदद कर सकता है।

7) खाता जमा, फ्रीज की स्थिति:
अगर किसी कस्टमर के खाते/वॉलेट पर किसी कानूनी अथॉरिटीज के निर्देशों के अनुसार कोई फ्रीज (पूर्ण या आंशिक) लग जाता है, तो वह उन अथॉरिटीज द्वारा दिए गए आदेशों के अनुसार रहेगा। पेटीएम पेमेंट्स बैंक की इंटरनल पॉलिसी के कारण होने वाले किसी भी फ्रीज पर आपके खाते/वॉलेट में उपलब्ध बकाया राशि तक वापसी या ट्रांसफर की अनुमति है।

8) नए ग्राहकों को जोड़ना:
आरबीआई की ओर से मार्च 11, 2022 को लागू प्रतिबंध जारी रहेगा। इसमें पेटीएम पेमेंट्स बैंक में नए ग्राहकों को जोड़ने पर रोक लगाई गई थी।

5379487