Logo
Kota Student Suicide: राजस्थान की स्टूडेंट फैक्ट्री कहे जाने वाले शहर कोटा में शनिवार की देर रात एक और स्टूडेंट फंदे पर लटक गया। छात्र दो सालों से JEE की तैयारी कर रहा था।

Kota Student Suicide: राजस्थान की स्टूडेंट फैक्ट्री कहे जाने वाले शहर कोटा में शनिवार की देर रात एक और स्टूडेंट फंदे पर लटक गया। छात्र दो सालों से JEE की तैयारी कर रहा था। सूचना पाकर मौके पर पहुंची पुलिस ने शव को सुपुर्द कर मेडिकल कॉलेज अस्पताल की मोर्चरी में रखवाया है।

कोटा शहर में लगभग हर माह स्टूडेंट सुसाइड के मामले सामने आते रहते हैं। शनिवार की देर रात बिहार के मोतिहारी जिले के रहने वाले आयुष ने भी फंदे पर झूलकर जान दे दी। आयुष कोटा शहर में रहकर दो सालों से JEE की तैयारी में जुटा था।

पुलिस जांच में जुटी
महावीर नगर थाना पुलिस ने बताया कि छात्र की पहचान आयुष तलवंडी के रूप में हुई है, जो बिहार के मोतिहारी का रहने वाला है। कोटा में करीब 2 साल से एक पीजी में रहकर पढ़ाई कर रहा था। सूचना मिलने पर पुलिस की टीम ने मौके पर पहुंचकर घटनाक्रम के बारे में पीजी संचालक से जानकारी ली है। छात्र के परिजनों को सूचना दी गई है। मृतक छात्र के शव का पोस्टमार्टम परिजनों के आने के बाद ही करवाया जाएगा।

पुलिस कमरों की छानबीन में जुटी
महावीर नगर थाना के इंचार्ज महेंद्र मारू द्वारा पुलिस बल के साथ पहुंचकर छात्र जिस कमरे में रह रहा था, उसकी भी छानबीन की गई। लेकिन, पुलिस को आत्महत्या के बारे में किसी ने जानकारी साझा नहीं की। पुलिस अब परिजनों का इंतजार कर रही है। परिजनों के पहुंचने के बाद ही मामले की स्थिति स्पष्ट हो पाएगी। 

कोटा में तेजी से बढ़ रहे स्टूडेंट्स सुसाइड के मामले
बता दें,कोटा में कोचिंग स्टूडेंट्स के सुसाइड के मामले काफी तेजी से बढ़ रहे हैं, जो थमने का नाम नहीं ले रहा है। जिला प्रशासन और पुलिस की ओर से स्टूडेंटस को स्ट्रेस फ्री रहने के लिए अभियान चलाकर प्रशिक्षण भी दिया जा रहा है। पुलिस के मुताबिक पिछले कुछ दिनों में सुसाइड के मामलों में कमी आई है, लेकिन पूर्णतया विराम नहीं लग पाया है।

jindal steel hbm ad
5379487