Logo
election banner
लोकसभा चुनाव से पहले मध्यप्रदेश में कांग्रेस को लगातार झटके लग रहे हैं। पार्टी की हालत बिगड़ती जा रही है। बुधवार को कांग्रेस को बड़ा झटका लगा। जबलपुर के महापौर जगत बहादुर अन्नू ने कांग्रेस का साथ छोड़कर भाजपा का दामन थाम लिया है।

भोपाल। लोकसभा चुनाव से पहले मध्यप्रदेश में कांग्रेस को बड़ा झटका लगा है। जबलपुर महापौर जगत बहादुर अन्नू के बीजेपी में शामिल हो गए हैं। मुख्यमंत्री मोहन यादव और भाजपा प्रदेश अध्यक्ष विष्णु दत्त शर्मा की उपस्थिति में बुधवार को महापौर जगत बहादुर ने भाजपा की  सदस्यता ली। महापौर जगत बहादुर के साथ डिंडोरी के जिला पंचायत अध्यक्ष रूद्रेश परस्ते, जिला पंचायत उपाध्यक्ष अंजू जितेंद्र व्योहार सहित 20 से ज्यादा कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने भाजपा की सदस्यता ग्रहण कर ली। इस मौके पर मुख्यमंत्री, लोकसभा चुनाव प्रभारी डॉ. महेंद्र सिंह, सह प्रभारी सतीश उपाध्याय, नगरी प्रशासन मंत्री कैलाश विजयवर्गीय, पीडब्ल्यूडी मंत्री राकेश सिंह, पंचायत मंत्री प्रहलाद पटेल, मंत्री राजेंद्र शुक्ला, विधायक भगवानदास सबनानी, अभिलाष पांडे और नरोत्तम मिश्रा मौजूद थे।

प्राण प्रतिष्ठा का आमंत्राण ठुकराने से आहत हुआ था 
महापौर जगत बहादुर ने कहा कि प्राण प्रतिष्ठा का आमंत्रण ठुकराने से आहत हुआ था। उस दिन सोचा था बीजेपी में आ जाना चाहिए। भाजपा की योजना एवं गारंटी आ रही हैं, उससे प्रभावित हुआ। जबलपुर की उन्नति के लिए अब ट्रिपल इंजन की सरकार चलेगी। जबलपुर में अब विकास की गंगा बहेगी।

Congress joins BJP

एक दिन पहले इन नेताओं ने छोड़ा था कांग्रेस का साथ 
बता दें कि मंगलवार को केंद्रीय मंत्री ज्योतिरादित्य सिंधिया ने चंदेरी में कांग्रेस के कई  वरिष्ठ नेताओं ने भाजपा की सदस्यता दिलाई थी। धनपाल सिंह यादव, प्रदीप सेन, हरपाल सिंह सिख, राजा देवलिया खिरीया और नीरज यादव जंघार कांग्रेस छोड़कर भाजपा में शामिल हुए। पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह के पारिवारिक सदस्य सुमेर सिंह गढ़ा ने भी बीजेपी ज्वाइन की थी। सुमेर सिंह गड़ा लंबे समय से कांग्रेस से जुड़े थे। इससे पहले वे जिला पंचायत अध्यक्ष भी रह चुके हैं।

5379487