Logo
AIIMS Bhopal: एम्स भोपाल के कार्यपालक निदेशक प्रो. (डॉ.) अजय सिंह के निर्देशन में आयुष विभाग द्वारा गुरुवार 13 जून को शिवाजी नगर में आरुषि केंद्र पर में दिव्यांग बच्चों को योग के अभ्यास के साथ जागरूकता प्रदान की गयी।

AIIMS Bhopal: एम्स भोपाल के कार्यपालक निदेशक प्रो. (डॉ.) अजय सिंह के निर्देशन में आयुष विभाग द्वारा गुरुवार 13 जून को शिवाजी नगर में आरुषि केंद्र पर में दिव्यांग बच्चों को योग के अभ्यास के साथ जागरूकता प्रदान की गयी। इस कार्यक्रम में लगभग 26 बच्चों ने भाग लिया और उन्हें योग के लाभ से अवगत कराया गया। वहीं एम्स भोपाल के डॉ आदेश श्रीवास्तव को यासर्गिल अंतरराष्ट्रीय सम्मेलन में सम्मान मिला है।

योग के अभ्यास से उन्हें शारीरिक, मानसिक और आध्यात्मिक रूप से लाभ मिलेगा। यह अभ्यास उनकी शारीरिक क्षमता में सुधार करेगा और उनके मानसिक स्थिति और सामाजिक अवस्था में भी सुधार लाएगा। योग से उन्हें स्वस्थ मानसिकता, स्थिरता और आत्म-संयम की प्राप्ति होगी। इस योगाभ्यास का आयोजन आरुषि केंद्र के वालेंटियर अनिल मुदगल और कोर्डिनेटर सपना गुप्ता के सहयोग से किया गया।

एम्स भोपाल ने हासिल की कई उपलब्धियां
एम्स भोपाल ने विभिन्न शैक्षणिक मंचों पर कई उल्लेखनीय उपलब्धियां हासिल की हैं। विभिन्न सम्मेलनों और कार्यशालाओं में संकाय सदस्यों की भागीदारी न केवल उनके कौशल को बढ़ाती है बल्कि उन्हें नवीनतम प्रगति के साथ अद्यतन भी रखती है। हाल ही में, एम्स भोपाल के न्यूरोसर्जरी विभाग में एडीशनल प्रोफेसर डॉ. आदेश श्रीवास्तव ने इस्तांबुल, तुर्किये में आयोजित पहली यासरगिल माइक्रोन्यूरोसर्जरी कांग्रेस में फैकल्टी एवं इन्नोवेटर के रूप में भाग लिया। 

600 से भी अधिक प्रसिद्द न्यूरो सर्जन्स ने भाग लिया
4 से 7 जून तक आयोजित इस अंतर्राष्ट्रीय सम्मेलन में विश्व के 600 से भी अधिक प्रसिद्द न्यूरो सर्जन्स ने भाग लिया। इस सम्मलेन में डॉ. आदेश श्रीवास्तव ने उनके द्वारा एम्स भोपाल में विकसित की गयी "बिना न्यूरो नेविगेशन के कीहोल मइक्रोसर्जरी" की तकनीक को प्रस्तुत किया गया था। 

मशीन के बिना किया सफल ऑपरेशन
डॉक्टर आदेश श्रीवास्तव ने न्यूरो नेविगेशन मशीन के बिना, उपलब्ध संसाधनों के द्वारा 3D वर्चुअल रियलिटी के द्वारा नेविगेशन करके मस्तिष्क में स्थित ट्यूमर तक पूरी सटीकता के साथ पहुंचकर उसे ऑपरेशन कर बाहर निकाला। यह तकनीक दुनिया भर में सीमित संसाधनों और अपर्याप्त सुविधाओं वाले केंद्रों में भी उच्च गुणवत्ता वाले न्यूरोसर्जिकल परिणाम देती है।

डॉक्टर आदेश की इस तकनीक की माइक्रो न्यूरोसर्जरी कांग्रेस में विश्व भर से आए न्यूरोसर्जन ने विशेष रूप से सराहना की। एम्स भोपाल के कार्यपालक निदेशक प्रोफेसर (डॉ.) अजय सिंह ने डॉ. आदेश श्रीवास्तव को उनकी इस उपलब्धि के लिए बधाई दी है।

jindal steel hbm ad
5379487