Logo
election banner
हरियाणा के महेंद्रगढ़ स्थित गांव पाली की ग्राम पंचायत की ओर से बच्चों की ऑनलाईन पढ़ाई को बढ़ावा देने के लिए गांव में आठ जगहों पर वाईफाई सिस्टम लगाए जाएंगे, ताकि गांव के बच्चे घर बैठे ऑनलाईन पढ़ाई करके अपने सपने साकार कर सकें। गांव पाली पहला ऐसा गांव बना था, जिसने सबसे पहले सीसीटीवी लगाए थे।

विकास गोडवाल, Mahendragarh: बदलते प्रवेश में अब शहर की तर्ज पर ग्रामीण क्षेत्र के बच्चे भी हाईटैक होंगे। जिले के गांव पाली की ग्राम पंचायत की ओर से बच्चों की ऑनलाईन पढ़ाई को बढ़ावा देने के लिए गांव में आठ जगहों पर वाईफाई सिस्टम लगाए जाएंगे, ताकि गांव के बच्चे घर बैठे ऑनलाईन पढ़ाई करके अपने सपने साकार कर सकें। गांव पाली पहला ऐसा गांव बना था, जिसने सबसे पहले सीसीटीवी लगाए थे। अब ग्राम पंचायत के प्रयास से गांव में वाईफाई सिस्टम भी लगाया जा रहा हैं। गांव में मुख्य आठ स्थानों पर वाईफाई सिस्टम लगाए जा रहे हैं। गांव के बच्चों को जल्द ही फ्री में नेट सुविधा मिलनी शुरू हो जाएगी।

आठ जगहों पर लगाए गए वाईफाई सिस्टम

गांव बाबा जयराम दास मंदिर, बस स्टैंड के समीप, गांव मुख्य प्रवेश द्वार, होली चौक, महाराणा प्रताप चौक, डेरा चौक, गांव के सरपंच के कार्यालय, सेठ एंव पंडित चौक पर वाईफाई सिस्टम लगाए जा रहे हैं। इन वाईफाई सिस्टम की 50 मीटर रेंज होगी। इसके अलावा ग्राम पंचायत की ओर से 15 वाईफाई सिस्टम लगाने की डिमांड भेजी गई हैं। दो वर्ष तक बीएसएनएल की ओर से वाईफाई का बिल भुगतान किया जाएगा। इसके बाद सरकार के निर्देशानुसार बिल की अदायगी की जाएगी।

45 स्थानों पर लगे हैं सीसीटीवी

गांव पाली की पंचायत ने करीब 13 लाख रुपए की लागत से 45 कैमरे पूरे गांव में लगवाए है। 264 टीबी स्टोरेज की क्षमता के साथ सभी कैमरे चालू कर दिए गए हैं। हर घर सीसीटीवी की नजर में है। गांव के मुख्य चौराहे, गांव के प्रवेश द्वार, दूसरे गांव से जोड़ने वाले मुख्य मार्ग, बस स्टैंड सहित विभिन्न रास्तों पर कैमरे लगाए गए हैं। कैमरों की निगरानी के लिए सरपंच के घर में कंट्रोल रूम भी बनाया गया है। यहां लगे एलसीडी टीवी पर सभी कैमरों की लाइव कवरेज देखी जा सकेंगी। वहीं डीवीआर में कैमरों की रिकॉर्डिंग मौजूद रहेगी।

गांव के लोगों को मिलेगी जल्द ओर सुविधा

गांव पाली के सरपंच देशराज सिंह फौजी ने बताया कि गांव के मुख्य स्थानों पर पहले ही सीसीटीवी लगाए जा चुके हैं। अब आठ जगहों पर वाईफाई लगाए जा चुके हैं। उनका प्रयास है कि गांव के बच्चे घर बैठकर आसानी से पढ़ाई कर सकें। इसके अलावा जल्द गांव में बुजुर्गों व विकलांग की सुविधा के लिए नि:शुल्क ई रिक्शा सुविधा व गांव में डोर टू डोर कूड़ा कलेक्शन का उनका प्रयास जारी हैं।

5379487