Logo
election banner
Lok Sabha Election 2024: लोकसभा चुनाव के दौरान बीजेपी और जेजेपी एक दूसरे पर निशाना साध रहे हैं। वहीं, पंचकूला में प्रेस वार्ता के दौरान सीएम नायब सैनी ने कहा अगर दुष्यंत चौटाला के खिलाफ एप्लीकेशन आती है, तो उन पर लगे आरोपों की जांच की जाएगी।

Lok Sabha Election 2024: हरियाणा में भारतीय जनता पार्टी (BJP) और जननायक जनता पार्टी (JJP) का गठबंधन टूट चुका है सरकार बनाई जा चुकी है। लोकसभा चुनाव के दौरान दोनों ही एक दूसरे पर निशाना साध रहे हैं। पंचकूला में प्रेस वार्ता के दौरान सीएम नायब सैनी ने कहा कि अगर दुष्यंत चौटाला के खिलाफ एप्लीकेशन आती है, तो उन पर लगे आरोपों की जांच की जाएगी। सीएम ने कहा कि दुष्यंत चौटाला पर उन्हीं के पार्टी के लोगों ने विधानसभा में भ्रष्टाचार के आरोप लगाए थे। यह एक गंभीर मामला है अगर विधायकों की ओर से एप्लीकेशन आती है तो वह जांच जरूर करवाएंगे।

बोतल बदल गई पर शराब वही है

जानकारी के लिए बता दें कि शुक्रवार को जेजेपी  के राष्ट्रीय महासचिव दिग्विजय चौटाला ने मीडिया में बयान दिया था कि सरकार का मुखौटा बदला है सरकार पुरानी है, यानि बोतल तो बदल गई है लेकिन शराब पुरानी है। अब भी सरकार पूर्व सीएम मनोहर लाल ही चला रहे हैं। उन्होंने ये भी कहा था कि पूर्व सीएम के इशारों पर ही राज्य को लूटा जा रहा है।

दुष्यंत चौटाला ने सीएम पर साधा निशाना

वहीं, दुष्यंत चौटाला ने हिसार अनाज मंडी का दौरा किया और सीए नायब सैनी पर निशान साधते हुए कहा कि आज के दिन हैफेड की परचेज को मंडी के आढ़तियों से हटकर अपने एजेंट को देने से दिखता है कि चुनिंदा लोगों से काम करवाना चाहते हैं। ये नए सीएम की असफलता है, अभी तक वह अपनी नई जिम्मेदारी को संभाल नहीं पाए हैं। उन्हों अधिकारियों के साथ बैठना चाहिए, समय देना चाहिए और उनसे समस्याओं को लेकर बातचीच करनी चाहिए। किसानों  के लिए साल में दो ही अवसर मिलता हैं। सरकार किसानों को यह रियायत दे सकती है कि किसानों की फसल की खरीद में कोई देरी न हो।

दुष्यंत चौटाला पर भ्रष्टाचार के आरोप

दुष्यंत चौटाला पर भ्रष्टाचार के आरोप शुरू से ही लगते रहे हैं। उनके अपने ही लोग विधानसभा तक में भ्रष्टाचार के आरोपों पर उन्हें निशाना बना चुके हैं। दुष्यंत चौटाला पर उनके चाचा अभय चौटाला भी हिसार एयरपोर्ट के पास जमीन की खरीदी, रजिस्ट्री घोटाले और  शराब घोटाले  के आरोप लगा चुके हैं। नारनौंद के जेजेपी विधायक रामकुमार गौतम भी दुष्यंत चौटाला पर  भ्रष्टाचार के आरोप लगा चुके हैं। दोनों के बीच विधानसभा में बहस भी हो चुकी है।

Also Read: सीएम नायब सैनी: हरियाणा में बदमाशी चलेगी न दबंगई, कोई डरे ना, रोहतक में पर फिर कमल खिलेगा, मोदी की गारंटी पर देश को भरोसा

जोजेपी के विधायक बीजेपी में शामिल

जेजेपी के सिंबल पर चुनाव लड़कर विधायक बने पूर्व मंत्री देवेंद्र बबली, नरवाना विधायक रामनिवास सुरजाखेड़ा, बरवाला से विधायक जोगी राम, नारनौंद से विधायक रामकुमार गौतम और गुहला चीका से विधायक ईश्वर सिंह जेजेपी को छोड़ कर बीजेपी में शामिल हो गए हैं। कहा गया है कि इन विधायकों की नाराजगी जेजेपी में तवज्जों ना मिलना और दुष्यंत चौटाना और दिग्विजय पर भ्रष्टाचार के आरोप को लेकर रही है। वहीं,  विधायक रामकुमार गौतम ने विधानसभा में दुष्यंत चौटाला पर सत्ता में रहकर भ्रष्टाचार करने का आरोप लगाया था।

jindal steel Ad
5379487