Logo
election banner
बजट सत्र के दौरान स्कूल जतन योजना और आयुर्वेदिक दवाओं में एलोपैथिक दवाओं की मिलावट का मामला गूंजा है।

रायपुर- विधानसभा में बजट सत्र के दौरान स्कूल जतन योजना और आयुर्वेदिक दवाओं में एलोपैथिक दवाओं की मिलावट का मामला गूंजा है। विधायक अनिला भेड़िया ने स्कूल जतन योजना के तहत स्वीकृत कार्यों की जानकारी मांगी है। इस योजना के तहत जो काम शुरू नहीं हुए, इन कामों को शुरू करेंगे या निरस्त करेंगे पूछा गया है।  इस मसले पर मंत्री बृजमोहन अग्रवाल ने कहा कि, योजना के तहत 724 कार्य पूरे किए गए हैं, 234 कार्य अभी बाकी है। लेकिन 40 कार्य शुरू नहीं हुए, इन 40 कामों का परीक्षण कराकर निर्णय लिया जाएगा। 

कार्रवाई शुरू करेंगे तो कोई नहीं बचेगा

मंत्री बृजमोहन अग्रवाल ने कहा कि, कांग्रेस सरकार में स्कूल जतन योजना में अति की गई है। एक कमरे के लिए 20 से 30 लाख खर्च किए हैं। जिसपर कांग्रेस विधायक लखेश्वर बघेल ने पलटवार करते हुए कहा कि, अति किया गया है...कह रहे हैं। जो काम अफसरों ने किया है। इसमें जनप्रतिनिधि का क्या है। क्या इन अफसरों पर कार्यवाही करेंगे? इसका जवाब देते हुए मंत्री बृजमोहन अग्रवाल ने कहा कि, कार्रवाई शुरू करेंगे तो कोई नहीं बचेगा...

आयुर्वेदिक दवाओं में एलोपैथिक दवाओं की मिलावट

विधानसभा में धरमलाल कौशिक ने अमानक दवाइयों का मामला उठाते हुए कहा कि, आयुर्वेदिक दवाओं में एलोपैथिक दवाओं की मिलावट के कितने प्रकरण दर्ज किए गए हैं। स्वास्थ्य मंत्री श्याम बिहारी जायसवाल ने जवाब देते हुए कहा कि, 11 प्रकरण एफडीए की तरफ से दर्ज किए गए हैं। 11 केसों की जांच हो रही है, जांच के बाद कार्यवाही की जाएगी। वहीं अजय चंद्राकर ने पूछा कि, खरीदी गई दवाओं में कितने प्रतिशत दवाईयों की सैंपलिंग की जाती है। स्वास्थ्य मंत्री जायसवाल ने कहा कि, खरीदी गई दवाओं में शत प्रतिशत दवाओं की सैंपलिंग की जाती है।

5379487