Logo
election banner
Akash Deep: इंग्लैंड के खिलाफ रांची में खेले जा रहे चौथे टेस्ट में भारत की ओर से तेज गेंदबाज आकाश दीप ने ड्रीम डेब्यू किया। उन्होंने पहले ही सेशन में 3 विकेट चटकाकर इंग्लैंड के टॉप ऑर्डर को तहस नहस कर दिया। इस मैच में एक सलाह उनके बहुत काम आई।

Akash Deep: इंग्लैंड के खिलाफ रांची में खेले जा रहे चौथे टेस्ट में भारत की ओर से तेज गेंदबाज आकाश दीप ने ड्रीम डेब्यू किया। उन्होंने पहले ही सेशन में 3 विकेट चटकाकर इंग्लैंड के टॉप ऑर्डर को तहस नहस कर दिया। चौथे औवर की 5वीं गेंद पर आकाश दीप ने इंग्लैंड के सलामी बल्लेबाज जैक क्राउली को बोल्ड किया। हालांकि, यह गेंद नो बॉल थी। इसके बाद आकाश दीप ने 1-1 कर इंग्लैंड के 3 बल्लेबाजों का शिकार किया।

उन्होंने बेन डकेट (11), आली पोप (0) और जैक क्राउली (42) का विकेट अपने नाम किया। इस शानदार डेब्यू के लिए आकाश दीप की हर तरफ तारीफ हो रही है। हालांकि, मैच के बाद उन्होंने खुलासा किया कि कैसे जसप्रीत बुमराह की एक सलाह ने उनका ऐतिहासिक डेब्यू करा दिया। वहीं चौथे टेस्ट में आराम पाने वाले जसप्रीत बुमराह ने आकाश दीप को सलाह देकर घर बैठे ही इंग्लैंड की लंका लगा दी। 

बुमराह भाई ने दी ये सलाह
मैच के बाद आकाश दीप ने कहा, मैं घबराया हुआ नहीं था, मैंने अपने कोचों से बात की थी, इसलिए मैं खेल से पहले तनावग्रस्त नहीं था। मुझे नहीं पता कि यह कैसे हुआ, लेकिन मैं हर गेम को अपना आखिरी गेम मानता था और अपना सर्वश्रेष्ठ प्रयास करता था। बुमराह भाई ने मुझे इंटरनेशनल क्रिकेट में लेंथ को थोड़ा पीछे खींचने की सलाह दी थी। मैंने बिल्कुल वैसा ही किया। 

आकाश दीप ने की जैक क्राली की तारीफ
नो बॉल को लेकर आकाश दीप ने कहा, मुझे बुरा लगा, मैं बस उम्मीद कर रहा था कि टीम इसकी वजह से न हारे, क्योंकि जैक क्रॉली अच्छी बल्लेबाजी कर रहे थे। शुरुआत में थोड़ी मदद मिली, लेकिन गेंद सॉफ्ट हो गई और विकेट भी धीमा था। हमने बस यथासंभव चुस्त रहने और सही क्षेत्रों में गेंदबाजी करने की कोशिश की।

आकाश दीप ने की 17 ओवर गेंदबाजी
मुकाबले की बात करें तो आकाश दीप ने 17 ओवर गेंदबाजी की। इस दौरान उन्होंने 4.10 की इकॉनमी से 70 रन देकर 3 सफलताएं प्राप्त कीं। दरअसल वर्कलोड मैनेजमेंट के तहत जसप्रीत बुमराह को चौथे टेस्ट के लिए आराम दिया गया है। ऐसे में भारतीय टीम मैनेजमेंट ने युवा आकाश दीप पर भरोसा जताया। आकाश दीप भी कप्तान और कोच के भरोसे पर खरे उतरे। 

ये भी पढ़ें: Akash Deep: पिता और भाई की मौत से पहुंचा गहरा सदमा, 3 साल के लिए छोड़ी क्रिकेट, फिर किया विध्वंसक डेब्यू

5379487