Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

Union Budget 2021 Reactions : एक्सपर्ट बोले- कुछ राहत मिली लेकिन अधिकतर उम्मीदों पर इस बार के बजट ने फेरा पानी

Union Budget 2021 Reactions : एक्सपर्ट बोले- कुछ राहत मिली लेकिन अधिकतर उम्मीदों पर इस बार के बजट ने फेरा पानी

Union Budget 2021 Reactions : एक्सपर्ट बोले- कुछ राहत मिली लेकिन अधिकतर उम्मीदों पर इस बार के बजट ने फेरा पानी
X

Union Budget 2021 : एक फरवरी को देश की वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने आम बजट पेश किया। एक तरफ पीएम नरेंद्र मोदी ने बजट की तारीख की और कहा कि अभूतपूर्व परिस्थितियों के बीच भी इसे प्रस्तुत किया गया, यह भारत के आत्मविश्वास को दर्शाता है और आत्मविश्वास को बढ़ाएगा। लेकिन वहीं कई एक्सपर्ट्स ने अपनी अपनी राय भी दी।

निर्मला सीतारमण ने आज संसद में बजट 2021-22 पेश किया। जो इस नये दशक का पहला बजट है और अप्रत्‍याशित कोविड-19 संकट के मद्देनजर एक डिजिटल बजट भी है। आत्‍मनिर्भर भारत का विजन प्रस्‍तुत करते हुए उन्‍होंने कहा कि यह दरअसल 130 करोड़ भारतीयों की एक स्‍पष्‍ट अभिव्‍यक्ति है, जिन्‍हें अपनी क्षमता और कौशल पर पूर्ण भरोसा है। उन्‍होंने कहा कि बजट प्रस्‍तावों से राष्‍ट्र पहले, किसानों की आय दोगुनी करने, मजबूत अवसंरचना, स्‍वस्‍थ भारत, सुशासन, युवाओं के लिए अवसर, सभी के लिए शिक्षा, महिला सशक्तिकरण, समावेशी विकास, इत्‍यादि का संकल्‍प और मजबूत होगा। इसके अलावा त्‍वरित कार्यान्‍वयन के पथ पर बजट 2015-16 के वो 13 वादे भी हैं, जिन्‍हें देश की आजादी के 75वें वर्ष यानी 2022 के अमृत महोत्‍सव के दौरान पूरे किये जाने हैं। उन्‍होंने कहा कि ये सभी वादे भी आत्‍मनिर्भरता के इस विजन के अनुरूप हैं।

2021-22 के बजट प्रस्‍ताव इन 6 स्‍तंभों पर आधारित हैं...

1. स्‍वास्‍थ्‍य एवं खुशहाली

2. भौतिक एवं वित्‍तीय पूंजी, और अवसंरचना

3. आकांक्षी भारत के लिए समावेशी विकास

4. मानव पूंजी को फिर से ऊर्जावान बनाना

5. नवाचार और अनुसंधान व विकास

6. न्‍यूनतम सरकार और अधिकतम शासन

बजट पर प्रतिक्रिया

दिल्ली के रोहिणी से सीए कपिल अग्रवाल ने केंद्र सरकार के बजट पेश होने के बाद अपनी प्रतिक्रिया दी। उन्होंने कहा कि कुछ मिली राहत लेकिन अधिकतर उम्मीदों पर इस बार के बजट ने पानी फेर दिया। उन्होंने आगे लिखा कि निर्मला सीतारमण ने संसद में बजट पेश करते हुए वित्तीय कार्यप्रणालियों के सुधार पर ज्यादा जोर दिया। मुख्यत प्रत्यक्ष कर के अन्तर्गत फेसलेस असेस्मेंट के साथ अपील को भी फेसलेंस किया गया। जिससे करदाताओं को होने वाली परेशानियों से बचाया जा सके।

आगे कहा कि टैक्स ऑडिट की सीमा को 10 करोड़ कर दिया गया। लेकिन साथ यह भी शर्त रखी कि भुगतान डिजिटल कम से कम 95 फीसदी हो। वित्त मंत्री ने बजट में भारत की ऑस्ट्रेलिया पर हुई विजय का जिक्र तो किया किन्तु उन्होंने चेतेश्वर पुजारा और पंत में से पुजारा को चुनते हुए बहुत ही धीमी बैटिंग की। याद हो कि भारत ने साल 2021 की शुरुआत धमाकेदार अंदाज में की थी। अपने कई अनुभवी खिलाड़ियों की गैरमौजूदगी में युवाओँ से सजी टीम ने ऑस्ट्रेलिया को उसी की सरजमीं पर टेस्ट सीरीज में 2-1 से हराया।

Next Story