Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

तमिलनाडु: चेन्नई में जब्त गांजा बेचने के आरोप में दो कांस्टेबल और एक डीलर गिरफ्तार

एक अंग्रेजी वेबसाइट की एक रिपोर्ट के अनुसार, पुलिस की टीम ने तीनों को 'ऑपरेशन गांजा हंट 2.0' नाम के एक अभियान के तहत गिरफ्तार किया है।

तमिलनाडु: चेन्नई में जब्त गांजा बेचने के आरोप में दो कांस्टेबल और एक डीलर गिरफ्तार
X

तमिलनाडु पुलिस (Tamil Nadu Police) ने रविवार को चेन्नई (Chennai) में एक जब्त बैच से गांजा चुराकर बेचने के आरोप में दो कांस्टेबल को गिरफ्तार (Two Constables Arrested) किया है। पुलिस ने गांजा (Ganja) बेचने के लिए संपर्क करने वाले डीलर को भी गिरफ्तार कर लिया है।

एक अंग्रेजी वेबसाइट की एक रिपोर्ट के अनुसार, पुलिस की टीम ने तीनों को 'ऑपरेशन गांजा हंट 2.0' नाम के एक अभियान के तहत गिरफ्तार किया है। पुलिस ने दिलीप कुमार के पास से 1.2 किलो गांजा बरामद किया है।

अयनावरम पुलिस द्वारा दर्ज एक मामले के अनुसार, 39 वर्षीय दिलीप कुमार एक ड्रग पेडलर है और वह एस्टेट ब्रोकर के रूप में भी काम करता था। गिरफ्तार आरोपी शक्तिवेल, एक रेलवे पुलिस कांस्टेबल है और सेल्वाकुमार एक साइबर-क्राइम विंग कांस्टेबल है।

न्यू इंडियन एक्सप्रेस की रिपोर्ट के अनुसार, एक विशेष टीम ने शनिवार को दिलीप कुमार को उस समय गिरफ्तार किया, जब वह अयनावरम में गांजा बेच रहा था। पूछताछ में उसने कबूल किया कि उसे रेलवे पुलिस के सिपाही शक्तिवेल से गांजा मिला है।

मीडिया रिपोर्ट के अनुसार, आधिकारिक तौर पर तौलने और रिकॉर्ड करने से पहले शक्तिवेल ने कथित तौर पर एक जब्त बैच से गांजा चुराया था। इसके बाद शक्तिवेल और उनके रूममेट सेल्वाकुमार ने गांजा बेचने का फैसला किया। इसलिए, वे दिलीप कुमार को शहर में बेचने के लिए ले आए।

इस सूचना के आधार पर पुलिस ने जांच की और रविवार को दोनों आरक्षकों को गिरफ्तार कर लिया। तीनों आरोपियों को न्यायिक हिरासत में भेज दिया गया है। एक वरिष्ठ पुलिस अधिकारी ने कहा है कि दोनों कांस्टेबलों को निलंबित कर दिया जाएगा।

और पढ़ें
Next Story