Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

सत्ताधारी पार्टी की होर्डिंग गिरने से सॉफ्टवेयर इंजीनियर की मौत, विपक्ष ने दागे तीखे सवाल

सड़क किनारे लगे पोस्टर न सिर्फ हमारा ध्यान भंग करते हैं बल्कि कई बार किसी की मौत का कारण भी बन जाते हैं। तमिलनाडु से एक ऐसा ही मामला सामने आया है जहां सड़क किनारे लगा राजनीतिक पार्टी का पोस्टर एक लड़की पर गिर पड़ा जिससे वह संतुलन खो बैठी और टैंकर से टकरा गई जिसके बाद उसकी मौत हो गई।

सत्ताधारी पार्टी की होर्डिंग गिरने से सॉफ्टवेयर इंजीनियर की मौत, विपक्ष ने दागे तीखे सवालTamil Nadu 23 years software engineer dropped illegal banner tanker collided death

सड़क किनारे लगे पोस्टर न सिर्फ हमारा ध्यान भंग करते हैं बल्कि कई बार किसी की मौत का कारण भी बन जाते हैं। तमिलनाडु से एक ऐसा ही मामला सामने आया है जहां सड़क किनारे लगा राजनीतिक पार्टी का पोस्टर एक लड़की पर गिर पड़ा जिससे वह संतुलन खो बैठी और टैंकर से टकरा गई जिसके बाद उसकी मौत हो गई।

मिली जानकारी के अनुसार चेन्नई में 23 साल की सॉफ्टवेयर इंजीनियर सुभाश्री पल्लावरम-थोराईपक्कम रेडियन रोड पर स्कूटी से जा रही थी तभी उनके ऊपर एक अवैध होर्डिंग गिर पड़ी जिसके बाद सुभाश्री का संतुलन बिगड़ गया और वह सड़क पर ही गिर पड़ी, इसी दौरान पीछे से आया तेज रफ्तार टैंकर उनके ऊपर से गुजर गया।


सुभाश्री को अस्पताल ले जाया गया जहां डॉक्टरों ने मृत घोषित कर दिया। बताया जा रहा कि जो बैनर सुभाश्री की मौत का कारण बना वह सत्ताधारी पार्टी एआईएडीएमके का है। इसे एक स्थानीय नेता ने अपने परिवार की शादी के लिए लगाया था।

उस शादी में प्रदेश के मुख्यमंत्री पनीरसेल्वन व पलानीस्वामी भी आने वाले थे। बैनर के कारण हुई मौत के बाद पार्टी ने सभी प्रकार के बैनरों को नीचे उतारने का फैसला किया है। वहीं डीएके के अध्यक्ष एमके स्टालिन ने इस मामले के बाद सरकार को निशाने पर लिया है।

उन्होंने कहा कि सत्ता के भूखे और अराजकतावादी सरकार न जाने कितनी जान लेती रहेगी। उन्होंने कहा कि सुभाश्री की मौत सरकार की लापरवाही से हुई है। फिलहाल स्थानीय प्रशासन ने मामला दर्ज करते हुए होर्डिंग बनाने वाले प्रेस को सील कर दिया है।

Next Story
Share it
Top