Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

Swami Vivekanand Birthday: खास मिशन के लिए विवेकानंद जी ने की थी बेलूर मठ की स्थापना, जानें इसका महत्व और उद्देश्य

Swami Vivekanand Birthday: बेलूर मठ की स्थापना स्वामी विवेकानंद जी ने सन 1897 में की थी। बेलूर मठ रामकृष्ण मिशन का मुख्यालय भी है। रामकृष्ण मिशन विवेकानंद जी ने अपने गुरु रामकृष्ण परमहंस के नाम पर शुरू की थी।

Vivekananda Birthday: खास मिशन के लिए विवेकानंद जी ने की थी बेलूर मठ की स्थापना, आज पीएम मोदी ने की अर्चना
X
बेलूर मठ

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी आज स्वामी विवेकानंद जयंती के मौके पर बेलूर मठ पहुंचे थे। प्रधानमंत्री ने बेलूर मठ पहुंच कर रामकृष्ण परमहंस जी के मंदिर में पूजा अर्चना की थी। स्वामी विवेकानंद जी ने अपने गुरु रामकृष्ण परमहंस जी के मरणोपरांत उनके नाम पर रामकृष्ण मिशन की शुरुआत की थी। बेलूर मठ रामकृष्ण मिशन और रामकृष्ण मठ का मुख्यालय है।

बेलूर मठ

हुगली नदी के पश्चिमी तट पर बसा बेलूर मठ रामकृष्ण मिशन का मुख्यालय भी है। इस मठ में सभी धर्मों के वास्तु का मिश्रण दिखता है, जो एकता का प्रतीक भी है। स्वामी विवेकानंद जी ने बेलूर मठ की स्थापना 1897 में की थी।

स्वामी विवेकानंद जी ने अपने गुरु रामकृष्ण परमहंस जी के नाम पर एक मिशन की शुरुआत की थी जिसका उद्देश्य जरूरतमंदों की सेवा है। स्वामी विवेकानंद जी का मानते थे कि दूसरों की सेवा करना भारतीय संस्कृति का सिद्धांत भी है।

मठ के मुख्य परिसर में रामकृष्ण परमहंस जी, स्वामी विवेकानंद, स्वामी ब्रह्मानंद और शारदा देवी जी की समाधियां उपस्थित है। यहीं पर मंदिर और रामकृष्ण मिशन का मुख्यालय भी है। मुख्य परिसर के पास रामकृष्ण मिशन के शिक्षा संस्थान है। बेलूर मठ श्रद्धालुओं के लिए पवित्र स्थान और तीर्थ स्थान है, जिसे देखने बड़ी ताताद में श्रद्धालु पहुंचते हैं।

आज बेलूर मठ में विवेकानंद जी की जयंती पर प्रोग्राम का आयोजन किया जा रहा है। यहां रामकृष्ण परमहंस, सारदा देवी की जयंती और पुण्य तिथि पर मुख्य आयोजनों के आलावा बेलूर मठ में क्रिसमस, दुर्गा पूजा आदि भी बड़ी धूम धाम से मनाया जाता है।

आज बेलूर मठ पहुंचे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आज मठ में साधुओं संतों से मुलाकात भी की थी। प्रधानमंत्री ने मंच से साधुओं और संतों समेत देशवासियों को सम्बोधित भी किया। इससे पहले प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने सुबह की मठ में प्राथना अर्चना भी की थी।

Next Story