Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

Republic Day 2020 : राष्ट्रपति राम नाथ कोविंद का राष्ट्र के नाम संबोधन, कहा 1930 से मना रहे 26 जनवरी

Republic Day 2020 : भारत 26 जनवरी 2020 को 71वां गणतंत्र दिवस मनाएगा। गणतंत्र दिवस से पूर्व भारत के राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने भारत के लोगों को संबोधित किया।

71वे गणतंत्र दिवस से पहले राष्ट्रपति राम नाथ कोविंद का भारत के लोगों को संदेशराष्ट्रपति राम नाथ कोविंद

Republic Day 2020 : भारत के राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने 71वे गणतंत्र दिवस की पूर्व संध्या पर भारत वासियों को संबोधित किया है। भारत अपना 71वां गणतंत्र दिवस रविवार को मानाएगा। राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने भारत वासियों को गणतंत्र दिवस की हार्दिक शुभकामनाएं दी हैं।

राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने अपने संदेश में कहा कि 7 दशक पहले 26 जनवरी को हमारा संविधान लागू हुआ लेकिन इस तारीख यानी 26 जनवरी पहले ही खास बन चुकी थी। राष्ट्रपति ने कहा 1930 से 1947 तक प्रत्येक वर्ष 26 जनवरी को पूर्ण स्वराज दिवस मनाया जाता था। राष्ट्रपति ने अपने सम्बोधन में कहा कि भारतियों ने संविधान के आदर्शों में आस्था रखते हुए गणतंत्र के रूप में यात्रा शुरू की, तब (26 जनवरी 1950) से हम प्रत्येक 26 जनवरी को गणतंत्र दिवस के रूप में मनाते हैं।

राष्ट्रपति ने अपने संबोधन में कहा भारत के राष्ट्रपिता महात्मा गांधी के जीवन मूल्यों को अपनाने से, संवैधानिक आदर्शों का अनुपालन हमारे लिए और भी सरल हो जाता है। ऐसा करने से हम महात्मा गांधी जी की 150 वी जयंती को और सार्थक आयाम दे सकेंगे।

राष्ट्रपति ने कहा कि भारत वासियों ने कम समय में स्वच्छ मिशन को बड़ी सफलता दिलाई है। भले गैस सब्सिटी को छोड़ना हो या फिर डिजिटल पेमेंट का बढ़ना, इन सबमे भारतीय लोगों की भागीदारी बढ़ी है। राष्ट्रपति ने बताया कि प्रधानमंत्री उज्जवला योजना में अब तक 8 करोड़ लोगों को लाभ दिया जा चुका है जो हमारे लिए गौरव की बात है।

राष्ट्रपति ने अपने संबोधन में देशवासियों को बताया कि भारत के विकास के लिए आंतरिक सुक्षा व्यवस्था को मजबूत करने के लिए कई ठोस कदम उठाए गए हैं। वहीं जल संकट से बचने के लिए जलशक्ति मंत्रालय का गठन किया गया है। राष्ट्रपति ने विश्वास जताया कि जल जीवन मिशन भी स्वच्छ भारत मिशन जैसे बड़ा और प्रभावी बनेगा।

राष्ट्रपति ने कहा स्वच्छ भारत अभियान बहुत थोड़े समय में बहुत बड़ा मिशन बना गया है। राष्ट्रपति ने कहा कि भारत के लोगों ने सरकारी कार्यक्रम को स्वीकार करके इसे बड़ा बना दिया है जिससे वो बहुत प्रभावित हैं।




Next Story
Top