Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

भारतीय विज्ञान कांग्रेस के 107वें सत्र से जुड़ी पीएम मोदी के भाषण की खास बातें

न्यू इंडिया को टेक्नोलॉजी भी चाहिए और लॉजिकल टेम्परामेंट भी चाहिए। ताकि हमारे सामाजिक और आर्थिक जीवन के विकास को हम नई दिशा दे सकें।

भारतीय विज्ञान कांग्रेस के 107वें सत्र से जुड़ी पीएम मोदी के भाषण की खास बातेंपीएम मोदी

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Prime Minister Narendra Modi) का आज कर्नाटक (Karnataka) दौरे का दूसरा दिन है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने शुक्रवार को बेंगलुरु में भारतीय विज्ञान कांग्रेस (Indian Science Congress) के 107वें सत्र को संबोधित किया।

पीएम मोदी के भाषण की खास बातें

पीएम मोदी ने कहा कि मुझे बहुत खुशी है कि नए साल और नए दशक की शुरुआत में मेरा पहला कार्यक्रम विज्ञान, प्रौद्योगिकी और इनोवेशन से जुड़ा हुआ है। यह कार्यक्रम बेंगलुरु में हो रहा है, जो विज्ञान और इनोवेशन से जुड़ा हुआ है।

जब हम वर्ष 2020 की शुरुआत विज्ञान और प्रौद्योगिकी संचालित विकास की सकारात्मकता और उम्मीदों के साथ करते हैं, तो हम अपने सपने को पूरा करने की दिशा में एक और कदम बढ़ाते हैं।

मुझे यह जानकर भी खुशी हुई कि भारत की रैंकिंग नवप्रवर्तन सूचकांक (Innovation Index) में 52 तक सुधरी है। हमारी योजनाओं ने पिछले 50 वर्षों की तुलना में पिछले 5 वर्षों में अधिक प्रौद्योगिकी व्यवसाय इन्क्यूबेटरों का निर्माण किया है। मैं इन उपलब्धियों के लिए हमारे वैज्ञानिकों को बधाई देता हूं।

अंतरिक्ष जांच पड़ताल में हमारी सफलता अब गहरे समुद्र के नए सीमांत में प्रतिबिंबित होनी चाहिए। हमें पानी, ऊर्जा, भोजन और खनिजों के विशाल समुद्री संसाधनों का पता लगाने, मानचित्र बनाने और जिम्मेदारी से दोहन करने की आवश्यकता है।

रिसर्च और डेवलपमेंट का एक ऐसा इकोसिस्टम इस शहर ने विकसित किया है, जिससे जुड़ना हर युवा वैज्ञानिक, हर इनोवेटर, हर इंजीनियर का सपना होता है। लेकिन इस सपने का आधार क्या सिर्फ अपनी प्रगति है? जी नहीं, ये सपना जुड़ा हुआ है, देश के कुछ कर दिखाने की भावना से।

न्यू इंडिया को टेक्नोलॉजी भी चाहिए और लॉजिकल टेम्परामेंट भी चाहिए। ताकि हमारे सामाजिक और आर्थिक जीवन के विकास को हम नई दिशा दे सकें।

Next Story
Top