Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

Haribhoomi-Inh Exclusive: अभिभाषण का बहिष्कार, आंदोलन से सरोकार ! 'चर्चा' प्रधान संपादक डॉ. हिमांशु द्विवेदी के साथ

Haribhoomi-Inh Exclusive: हरिभूमि-आईएनएच के खास कार्यक्रम 'चर्चा' में आज प्रधान संपादक डॉ. हिमांशु द्विवेदी ने कहा कि राष्ट्रपति महोदय का अभिभाषण सरकार के कामकाज का लेखाजोखा होता है। लेकिन इस दौरान विपक्ष ने अपनी गैरमौजूदगी से कई सवाल खड़े कर दिए समेत अन्य मुद्दों पर खास चर्चा की।

haribhoomi inh exclusive editor in chief dr himanshu dwivedi discuss on Boycott of speech concern with movement
X

प्रधान संपादक डॉ. हिमांशु द्विवेदी

Haribhoomi-Inh Exclusive: हरिभूमि-आईएनएच के खास कार्यक्रम 'चर्चा' की शुरुआत करते हुए प्रधान संपादक डॉ. हिमांशु द्विवेदी ने सवाल किया कि अभिभाषण का बहिष्कार, आंदोलन से सरोकार! संदर्भ है संसद के सेंट्रल हॉल में आज राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद का अभिभाषण हुआ और राष्ट्रपति के अभिभाषण के दौरान विपक्ष की गैरमौजूदगी देखी गई। संसद सत्र वो मौका होता है जब विपक्ष अपने धारदार सवालों और जनहित के लिए उठाए गए मुद्दों से सरकार की बोलती बंद कर दे। साथ ही सरकार को नियम कानून और व्यवस्था बदलने पर मजबूर कर दे। राष्ट्रपति महोदय का अभिभाषण एक तरह से सरकार के कामकाज का लेखाजोखा ही होता है। लेकिन इस दौरान विपक्ष ने अपनी गैरमौजूदगी से कई सवाल खड़े कर दिए हैं।

कार्यक्रम चर्चा में प्रधान संपादक डॉ. हिमांशु द्विवेदी ने पूर्व मंत्री भाजपा बृजमोहन अग्रवाल, पूर्व केंद्रीय मंत्री जयप्रकाश, किसान नेता नरेश टिकैत, सीपीएम नेता बादल सरोज और वरिष्ठ पत्रकार प्रमोद जोशी के साथ खास चर्चा की। खास कार्यक्रम चर्चा के दौरान इन मेहमानों से सवाल पूछा... अभिभाषण का बहिष्कार, आंदोलन से सरोकार !

'चर्चा'

कांग्रेस समेत 19 विपक्षी दलों ने आज संसद में हुए राष्ट्रपति के अभिभाषण का बहिष्कार किया। विपक्षी राजनीतिक दल केंद्र सरकार द्वारा लाए गए नए कृषि कानूनों का विरोध कर रहे हैं। इसके अलावा दिल्ली की सीमाओं पर विभिन्न किसान बीते दो महीनों से लगातार नए कृषि कानूनों के खिलाफ में विरोध प्रदर्शन कर रहे हैं। वहीं सत्तापक्ष भाजपा ने राष्‍ट्रपति के अभिभाषण के बहिष्‍कार पर विपक्ष की आलोचना की है।

Next Story