Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

भारत को क्यों पड़ी लड़ाकू विमान 'तेजस' की जरूरत, किसने दिया था नाम?

हिन्दुस्तान ऐरोनॉटिक्स लिमिटेड (Hindustan Aeronautics Limited, HAL) (एचएएल) ने लड़ाकू विमान तेजस (Fighter Aircraft Tejas) को बनाया है। तेजस संस्कृत का शब्द है।

भारत को क्यों पड़ी लड़ाकू विमान
X
India needs fighter aircraft Tejas

कर्नाटक (Karnataka) के बेंगलुरु में गुरुवार को केंद्रीय रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह (Defence Minister Rajnath Singh) ने करीब 30 मिनट स्वदेशी तकनीक से निर्मित लड़ाकू विमान 'तेजस' (Fighter Aircraft Tejas) में उड़ान भरी। उड़ान से लौट आने के बाद राजनाथ सिंह (Rajnath Singh) ने पत्रकारों से बातचीत करते हुए बताया कि तेजस में उड़ान का अनुभव अद्भुत और शानदार रहा।

इस विमान (Aircraft) से देश की हवाई सुरक्षा और मजबूत होगी। लड़ाकू विमान 'तेजस' की मांग अन्य देश भी कर रहे हैं। लड़ाकू विमान तेजस (Fighter Aircraft Tejas) को हिन्दुस्तान एरोनॉटिक्स लिमिटेड (Hindustan Aeronautics Limited, HAL) एचएएल ने बनाया है। इस मौके पर जानते हैं कि भारत के पास अन्य लड़ाकू विमान के होते हुए भी क्यों तेजस की जरूरत पढ़ी?


भारत को क्यों पड़ी लड़ाकू विमान तेजस की जरूरत?

* भारतीय एयरफोर्स के पास 33 स्क्वाड्रन हैं। प्रति स्क्वाड्रन में 16-17 फाइटर होते हैं।

* भारतीय एयरफोर्स के पास 33 में से 11 स्क्वैड्रन्स में लड़ाकू विमान MiG-21 और MiG-27 है।

* इनमे केवल 60 फीसदी है ऑपरेशन के लिए तैयार हैं।

* लड़ाकू विमान MiG-21 और MiG-27 की हालत ठीक नहीं है, क्योंकि ये हादसों का शिकार हो चुके हैं।

* एक्सपर्ट्स के मुताबिक पड़ोसी देश चीन और पाकिस्तान के खतरे को देखते हुए भारत को 45 स्क्वाड्रन की जरूरत है।

* तेजस 34th स्क्वाड्रन है। फ्रांस से राफेल मिलने पर वह 35th स्क्वाड्रन होगी।

पूर्व पीएम अटल बिहारी बाजपेयी ने दिया था नाम 'तेजस'

हिन्दुस्तान ऐरोनॉटिक्स लिमिटेड (Hindustan Aeronautics Limited, HAL) (एचएएल) ने लड़ाकू विमान तेजस को बनाया है। इस विमान का आधिकारिक नाम 'तेजस' भारत के पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी बाजपेयी ने दिया था। तेजस संस्कृत का शब्द है। जिसका अर्थ अत्यधिक ताकतवर ऊर्जा होता है। हिन्दुस्तान ऐरोनॉटिक्स लिमिटेड ने तेजस विमान को लाइट कॉम्बैट एयरक्राफ्ट (Light Combat Aircraft, LCA) यानी हल्का युद्धक विमान प्रोजेक्ट के तहत बनाया है।

और पढ़े: Haryana News | Chhattisgarh News | MP News | Aaj Ka Rashifal | Jokes | Haryana Video News | Haryana News App

Next Story
Top