Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

क्या सही में दिवाली पर चीन को हुआ 50 हजार करोड़ का नुकसान, पढ़ें ये रिपोर्ट

भारत की जनता ने चीन पर आर्थिक स्ट्राइक की है। एक रिपोर्ट के मुताबिक, चीन को इस साल दिवाली (Diwali) पर कम से कम 50 करोड़ रुपये के कारोबार का नुकसान हुआ है।

क्या सही में दिवाली पर चीन को हुआ 50 हजार करोड़ का नुकसान, पढ़ें ये रिपोर्ट
X

भारत की जनता ने चीन पर आर्थिक स्ट्राइक की है। एक रिपोर्ट के मुताबिक, चीन को इस साल दिवाली (Diwali) पर कम से कम 50 करोड़ रुपये के कारोबार का नुकसान हुआ है। इस बार दिवाली न केवल खुशियों की थी, बल्कि चीन (China) को सबक सिखाने वाली थी। सिर्फ दिवाली पर 1.25 लाख करोड़ से ज्यादा का कारोबार हुआ है।

मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक, कन्फेडरेशन ऑफ ऑल इंडिया ट्रेडर्स ने दावा किया है कि इस बार लोगों ने चीन सामान खरीदने से परहेज किया है। अनुमान के मुताबिक, इस बार 1.25 लाख करोड़ का कारोबार भारत में चीन ने किया है। पहले कारोबार एक लाख करोड़ का था। लेकिन इससे भी बड़ी बात यह रही कि इस बार चीन को 50 हजार करोड़ का झटका लगा है।

सीएआईटी ने दावा किया कि ग्राहक अब चीनी सामान खरीदने से परहेज कर रहे हैं और व्यापारी अपनी दुकानों पर चीनी सामान भी नहीं रखना ताहते हैं। इसका नतीजा यह रहा कि इस बार दिवाली पर छोटे कारीगरों, कुम्हारों, शिल्पकारों और स्थानीय कलाकारों का सामान काफी मार्किट में बिका है। दिवाली के मौके पर ईंधन की कीमतों में गिरावट के अलावा एक और खुशखबरी है कि भारत में चीनी सामानों की बिक्री में भारी गिरावट आई है। इसका मतलब है कि इस साल दिवाली पर लोगों ने चीन निर्मित उत्पाद नहीं खरीदे और लक्ष्मी-गणेश की मूर्तियों सहित भारत निर्मित वस्तुओं को प्राथमिकता दी।

कन्फेडरेशन ऑफ ऑल इंडिया ट्रेडर्स (CAIT) ने दावा किया कि इस साल दिवाली के लिए भारत में मेड इन चाइना के सामान की बिक्री काफी कम हुई है, जिससे 2021 में चीन को 50,000 करोड़ रुपये का नुकसान हुआ है। साथ ही, व्यापार संगठन का अनुमान है कि इस बार भारत में लोगों ने दिवाली की खरीदारी पर 2 लाख करोड़ रुपये खर्च किए। उम्मीद है कि दिसंबर 2021 तक देशभर के बाजारों में तीन लाख करोड़ का कारोबार होगा। जिससे भारत की अर्थव्यवस्था पटरी पर आ जाएगी।

और पढ़ें
Next Story