Logo
election banner
Sandeshkhali Issue: कलकत्ता हाईकोर्ट ने सोमवार को शुभेंदु अधिकारी और भाजपा विधायक शंकर घोष को संदेशखाली जाने की अनुमति दी थी। साथ ही भाजपा नेताओं से यह शपथ पत्र दाखिल करने को कहा कि वे ऐसी किसी भी गतिविधि में शामिल नहीं होंगे।

Sandeshkhali Issue: पश्चिम बंगाल के नॉर्थ 24 परगना के हिंसा प्रभावित संदेशखाली इन दिनों सुर्खियों में है। मंगलवार को भाजपा नेता सुवेंदु अधिकारी और सीपीएम की बृंदा करात को संदेशखाली जाने से पुलिस ने धमखाली में रोक दिया। इसके बाद शुभेंदु और कम्युनिस्ट पार्टी नेता धरने पर बैठ गए। शुभेंदु ने कहा कि उन्हें संदेशखाली जाने की इजाजत कलकत्ता हाईाकेर्ट ने कल ही दी थी। अगर नहीं जाने दिया गया तो फिर से कोर्ट जाएंगे। कुछ देर बाद उन्हें जाने दिया गया।  

शुभेंदु अधिकारी संदेशखाली पहुंच गए हैं। यह उनका तीसरा प्रयास था, जब वे संदेशखाली जा रहे थे। नाव के जरिए वे संदेशखाली पहुंचे हैं। वे पीड़ित 15 परिवारों से मुलाकात करेंगे। 

पुलिस ने सुबह ही लगाए बैरिकेड्स
कलकत्ता हाईकोर्ट ने सोमवार को शुभेंदु अधिकारी और भाजपा विधायक शंकर घोष को संदेशखाली जाने की अनुमति दी थी। साथ ही भाजपा नेताओं से यह शपथ पत्र दाखिल करने को कहा कि वे ऐसी किसी भी गतिविधि में शामिल नहीं होंगे, जिससे कानून-व्यवस्था की स्थिति खराब हो सकती है। लेकिन मंगलवार सुबह, पुलिस और दंगा नियंत्रण बल के जवानों को धमाखली में भाजपा नेता और उनके समर्थकों को रोकने के लिए बैरिकेड्स लगाते देखा गया। इसके अतिरिक्त, स्थानीय प्रशासन ने संदेशखाली और आसपास के इलाकों में सार्वजनिक समारोहों पर रोक लगाते हुए धारा 144 लागू कर दी है।

शुभेंदु अधिकारी ने रोके जाने पर कहा कि मेरे पास अदालत का आदेश है। फिर भी, आप मुझे रोक रहे हैं। यह दुर्भाग्यपूर्ण है। मैं एक घंटे तक इंतजार करूंगा। फिर मैं कोलकाता लौटूंगा और हाईकोर्ट में फिर से अपील करूंगा। 

शाहजहां शेख पर उत्पीड़न का आरोप
भाजपा का आरोप है कि तृणमूल नेता शेख शाहजहां के सहयोगियों ने महिलाओं का यौन उत्पीड़न किया है। जमीन हड़पने और जबरन वसूली के भी आरोप हैं। स्थानीय लोगों ने शाहजहां के सहयोगियों पर केंद्र और राज्य सरकार की कल्याण योजनाओं के तहत मिलने वाले पैसे जबरन लेने का आरोप लगाया। भ्रष्टाचार के एक मामले में छापेमारी कर रही प्रवर्तन निदेशालय की टीम पर भीड़ द्वारा हमला किए जाने के बाद आरोपी शाहजहां एक महीने से फरार है। उनके दो सहयोगियों उत्तम सरदार और शिबू हाजरा को गिरफ्तार कर लिया गया है।

अब तक 17 आरोपी गिरफ्तार, मुख्य आरोपी फरार
राज्य पुलिस ने कहा है कि कुल 17 गिरफ्तारियां की गई हैं और स्थानीय निवासियों की शिकायतें दर्ज करने के लिए संदेशखाली में शिविर स्थापित किए गए हैं। सत्तारूढ़ तृणमूल कांग्रेस ने भाजपा पर संदेशखाली में तनाव पैदा करने का आरोप लगाया है। पार्टी प्रमुख ममता बनर्जी ने कहा है कि संदेशखाली में आरएसएस का कैडर है। 

5379487