Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

Interview: राधिका ने कहा-मेरी बॉडी ही मेरा इंस्ट्रूमेंट और इस सवाल का दिया ये खतरनाक जवाब

राधिका आप्टे ने धीरे-धीरे बॉलीवुड में अपनी एक पुख्ता जगह बना ली है। उन्होंने शुरुआती फिल्मों में सपोर्टिंग कैरेक्टर निभाए। राधिका ने ‘हंटर’, ‘मांझी द माउंटेन मैन’, ‘फोबिया’ और ‘पार्च्ड’ जैसी फिल्मों में नजर आईं।

Interview: राधिका ने कहा-मेरी बॉडी ही मेरा इंस्ट्रूमेंट और इस सवाल का दिया ये खतरनाक जवाब

राधिका आप्टे ने धीरे-धीरे बॉलीवुड में अपनी एक पुख्ता जगह बना ली है। उन्होंने शुरुआती फिल्मों में सपोर्टिंग कैरेक्टर निभाए। इसके बाद राधिका ‘हंटर’, ‘मांझी द माउंटेन मैन’, ‘फोबिया’ और ‘पार्च्ड’ जैसी फिल्मों में नजर आईं, ये सभी फिल्में उनके करियर ग्राफ को बढ़ाने वाली साबित हुईं।

फिल्म ‘पैड मैन’ में अक्षय कुमार के साथ भी उनका काम सराहा गया। कल ही उनकी एक फिल्म ‘अंधाधुंध’ भी रिलीज हुई है। इसके अलावा जल्द ही सैफ अली खान के साथ ‘बाजार’ में राधिका आप्टे नजर आएंगी।

दो फिल्में एक ही महीने में रिलीज होना, क्या बड़ी बात नहीं है?

यह सिर्फ और सिर्फ इत्तेफाक है कि मेरी दो फिल्में एक ही महीने में रिलीज हो रही हैं। वैसे भी फिल्मों की रिलीज डेट्स कलाकारों के हाथ में नहीं होती। मैं तो बस इतना चाह सकती हूं कि मेरी दोनों फिल्में चलें।

श्रीराम राघवन डायरेक्टेड फिल्म ‘अंधाधुंध’ के बारे में कुछ बताइए?

मैंने श्रीराम राघवन के साथ 2015 में फिल्म ‘बदलापुर’ की थी। अब ‘अंधाधुंध’ उनके साथ दूसरी फिल्म है। हमारी सोच काफी मिलती है। बिना कुछ कहे हम एक-दूसरे की बातें आसानी से समझ लेते हैं।

ऐसा तभी होता है, जब दो लोग मन से जुड़े होते हैं। जहां तक इस फिल्म का सवाल है तो यह एक सस्पेंस थ्रिलर फिल्म है। फिल्म में मेरे साथ आयुष्मान खुराना और तब्बू भी हैं। दोनों ही कमाल के कलाकार हैं।

तब्बू एक बेहतरीन एक्ट्रेस हैं, उनके साथ स्क्रीन शेयर करना कैसा रहा?

तब्बू के बारे में, उनकी एक्टिंग के बारे में जितना कहा जाए, उतना कम है। मैं ‘अंधाधुंध’ में उनके साथ काम करने को लेकर एक्साइटेड थी। जब तब्बू कोई शॉट देती थीं तो मैं उनको देखती रह जाती थी, वह बहुत स्पॉन्टेनियस एक्ट्रेस हैं। अफसोस की बात यही है कि फिल्म में तब्बू के साथ मेरा सिर्फ एक ही सीन है।

फिल्म में आपका किरदार क्या है?

श्रीराम राघवन डार्क फिल्में बनाने में माहिर हैं, यह फिल्म भी कुछ ऐसी ही है। मैंने इस फिल्म में एक खुशमिजाज लड़की का रोल किया है, लेकिन मेरा रोल काफी हटकर है।

फिल्म ‘अंधाधुंध’ की शूटिंग पुणे में हुई और आप भी पुणे से हैं, अपने शहर में शूटिंग करने का एक्सपीरियंस कैसा रहा?

मैं पुणे में ही जन्मी हूं। मेरे माता-पिता वही रहते हैं, मेरी एजुकेशन भी वहीं हुई और श्रीराम राघवन भी पुणे से हैं। इस बार जब पुणे के प्रभात रोड और कैंप एरिया में शूटिंग हुई तो हम दोनों को अपना पुराना समय याद आ गया। पुणे बहुत ही पीसफुल शहर है, वहां शूटिंग करना, मशहूर जगहों पर ब्रेकफास्ट करना बहुत अच्छा लगता था। शूटिंग के दौरान बेहद सुकून से भरे पल थे।

सुना है कि सैफ अली खान स्टारर फिल्म ‘बाजार’ में आप नेगेटिव रोल कर रही हैं?

फिल्म ‘बाजार’ में मेरा नेगेटिव रोल नहीं है। मेरा किरदार एंबिशियस है। फिल्म में मेरा कैरेक्टर सैफ अली खान की दोस्त का है, जो उनकी सेक्रेटरी भी है। मैं मानती हूं फिल्म ‘बाजार’ में मेरा किरदार बहुत चैलेंजिंग है। अभी अपने कैरेक्टर की इससे ज्यादा डिटेल नहीं बता सकती हूं।

राधिका आप्टे असल जिंदगी में कितनी स्ट्रॉन्ग लेडी हैं?

मैं मेंटली कितनी स्ट्रॉन्ग हूं, यह साबित करने के लिए कोई सिचुएशन अब तक नहीं आई है। लेकिन मैंने बिना किसी गॉडफादर के बॉलीवुड में अपना सफर तय किया है, यह तभी मुमकिन हो पाया है, जब मैं स्ट्रॉन्ग बनी रही।

आप वेब सीरीज भी करती हैं, फिल्मों से यह कितनी अलग है?

मैंने ‘सेक्रेड गेम्स’ वेब सीरीज की, क्योंकि इसमें मेरा कैरेक्टर स्ट्रॉन्ग था। इस सीरीज में मैंने रॉ एजेंट का किरदार निभाया। इन दिनों वेब सीरीज में बहुत अच्छी कहानियां देखने को मिलती हैं।एक एक्टर के लिए इसमें बहुत स्कोप है।

आपने कुछ ऐसे किरदार भी निभाए हैं, जिसमें एक्सपोज करना पड़ा। आपको बोल्ड किरदार निभाने में कोई परहेज नहीं है?

मैंने थिएटर के दिनों से सीखा है कि एक्टिंग एक्सप्रेशन से ही नहीं बॉडी से भी होती है। मेरी बॉडी ही मेरा इंस्ट्रूमेंट है। अगर स्टोरी और रोल को बोल्ड लुक चाहिए तो मुझे प्रॉब्लम नहीं है।

अब तक का मेरा फिल्मी सफर कैसे रहा है?

मैं अपने फिल्मी सफर से बेहद खुश हूं। 2011 में ‘शोर इन द सिटी’ फिर 2015 में ‘अहिल्या’ जैसी शॉर्ट फिल्म की। उसके बाद आई हर फिल्म जैसे ‘पार्च्ड’, ‘बदलापुर’, ‘फोबिया’, ‘मांझी-द माउंटेन मैन’ और फिर ‘पैडमैन’ में मेरा अभिनय निखरता गया। मैंने रजनीकांत के साथ फिल्म ‘कबाली’ भी की थी। कुछ हॉलीवुड फिल्में भी कीं, बंगाली फिल्म और मराठी फिल्में भी कीं। मुझे तो ऐसा लगता है, मेरा जन्म सिर्फ एक्टिंग करने के लिए हुआ है।

Next Story
Top