Logo
election banner
Ameen Sayani Passed Away: अमीन सयानी ने मंगलवार रात मुंबई के अस्पताल में अंतिम सांस ली। उन्होंने बताया कि अमीन सयानी को दिल का दौरा पड़ा था। अमीन सयानी के निधन से उनके फैंस में शोक की लहर दौड़ गई है। 

Ameen Sayani Passed Away: फेमस एक्टर ऋतुराज की मौत से लोग उबरे नहीं थे कि एंटरटेनमेंट की दुनिया से एक और दुखद खबर सामने आई है। सुविख्यात रेडियो अनाउंसर अमीन सयानी का 91 वर्ष की आयु में निधन हो गया है। उनके बेटे राजिल सयानी ने इस खबर की पुष्टि की। उन्होंने कहा कि अमीन सयानी ने मंगलवार रात मुंबई के अस्पताल में अंतिम सांस ली। उन्होंने बताया कि अमीन सयानी को दिल का दौरा पड़ा था। अमीन सयानी के निधन से उनके फैंस में शोक की लहर दौड़ गई है।

कल अंतिम संस्कार होने की उम्मीद
राजिल सयानी ने बताया कि मंगलवार की शाम 6 बजे पिता अमीन सयानी को दिल का दौरा पड़ा। उस वक्त वे घर में थे। तत्काल उन्हें दक्षिण मुंबई के एचएन रिलायंस फाउंडेशन अस्पताल ले जाया गया। वहां कुछ देर बाद ही उनकी मौत हो गई है। उन्होंने कहा कि हम जल्द ही अंतिम संस्कार पर एक बयान जारी करेंगे। माना जा रहा है  कि गुरुवार को अमीन का अंतिम संस्कार होगा

91 साल के अमीन सयानी बीते लंबे समय से कई बीमारियों से ग्रसित थे। उन्हें हाई ब्लड प्रेशर और उम्र संबंधी कई बीमारी थी। 12 सालों से पीठ दर्द की शिकायत थी। इसलिए उन्हें चलने फिरने के लिए वॉकर का इस्तेमाल करना पड़ता था। 

बिनाका गीतमाला कार्यक्रम से मिली प्रसिद्धि
21 दिसंबर, 1932 को मुंबई में जन्मे अमीन सयानी एक बहुभाषी परिवार से थे। उन्होंने अपना करियर एक अंग्रेजी अनाउंसर के रूप में शुरू किया, लेकिन आजादी के बाद उन्होंने हिंदी की ओर रुख किया। सयानी को दिसंबर 1952 में प्रसारित एक शो ' बिनाका गीतमाला' से खूब प्रसिद्धि मिली। यह कार्यक्रम 1952 से 1994 तक चला। इसके बाद 2000-2001 और 2001-2003 में इसके नाम में मामूली बदलाव किया गया।

सयानी के नाम 54 हजार से ज्यादा रेडियो कार्यक्रम करने का रिकॉर्ड दर्ज है। करीब 19 हजार जिंगल्स के लिए उन्होंने अपनी आवाज दी। यह एक लिम्का बुक ऑफ रिकॉर्ड्स है। 

jindal steel Ad
5379487