Logo
UP Board Exam Pattern Change: यूपी बोर्ड अगले शैक्षणिक सत्र (2025-26) में एक अहम बदलाव करने वाला है। अब छात्र-छात्राओं को 6 की जगह 10 विषय पढ़ाए जाएंगे। इसके लिए प्रस्ताव तैयार कर लिया गया है। 

UP Board Exam Pattern Change: यूपी बोर्ड से हाईस्कूल की परीक्षा देने वाले स्टूडेंट्स के लिए अगले शैक्षणिक सत्र (2025-26) में एक अहम बदलाव होने वाला है। अब छात्र-छात्राओं को 6 की जगह 10 विषय पढ़ाए जाएंगे। इसमें तीन भाषाओं के अलावा गणित, विज्ञान, सामाजिक विज्ञान के साथ-एक व्यावसायिक पाठ्यक्रम भी अनिवार्य होगा। इसके लिए प्रस्ताव तैयार कर लिया गया है। 

लोगों से मांगे सुझाव
उत्तर प्रदेश माध्यमिक शिक्षा परिषद की साइट पर इस प्रस्ताव को अपलोड किया गया है और लोगों से सुझाव मांगे गए हैं। इसके साथ ही 29 जून 2024 तक upmspncf2023@gmail.com पर इसके बारे में सुझाव मांगे हैं। इस बदलाव के बाद आर्ट्स, साइंस, कामर्स जैसे प्रारूप हाईस्कूल में खत्म हो जाएंगे।

इतने नंबर की होगी परीक्षा
अभी हाईस्कूल की परीक्षा 600 नंबर की होती है। इस बदलाव के बाद ये 1000 नंबर का होगा। बोर्ड ने अपनी साइट पर इस प्रस्ताव को अपलोड किया है। यूपी बोर्ड की ओर प्रस्तावित बदलावों के अनुसार प्रत्येक विद्यार्थी को कम से कम तीन भाषाएं पढ़नी होंगी। सभी छात्रों को गणित, विज्ञान और सामाजिक विज्ञान की पढ़ाई करना जरूरी होगा।

व्यवसायिक शिक्षा अनिवार्य
देश में पाठ्यक्रम में एकरूपता लाने के लिए यूपी बोर्ड ने कोशिश शुरू कर दी है। अगले सत्र से कक्षा 9-10 में व्यवसायिक शिक्षा अनिवार्य होगी। नेशनल एजुकेशन पॉलिसी (NEP) के तहत नेशनल कर्रीकुलम फ्रेमवर्क (NCF) के अंतर्गत ये बदलाव किया जाएगा। शिक्षा और पाठ्यक्रम में एकरूपता लाने के लिए ये बदलाव काफी अहम साबित होने वाले हैं।

ग्रेडिंग सिस्टम लागू
उत्तर प्रदेश माध्यमिक शिक्षा परिषद के सचिव ने बताया कि पाठ्यचर्या में बदलाव के साथ ही ग्रेडिंग सिस्टम लागू कर दिया जाएगा। अंक पत्र में अंकों के सामने ग्रेड भी लिखा रहेगा। उन्होंने बताया -

  • 91 से अधिक अंक पाने वाले ए-1 ग्रेड
  • 81 से 90 अंक तक ए-2
  • 71 से 80 अंक तक बी-1
  • 61 से 70 अंक तक बी-2
  • 51 से 60 अंक तक सी-1
  • 41 से 50 अंक तक सी-2
  • 33 से 40 अंक तक डी ग्रेड 
  • 32 अंक से कम वाले को ई ग्रेड

चुन सकते हैं ऑप्शनल सब्जेक्ट
इसके बाद ऑप्शनल सब्जेक्ट की बारी आती है। इसमें छात्रों को अपनी रुचि और अपनी योग्यता के अनुसार विषय चुनने के लिए कई विकल्प दिए गए हैं। होम साइंस, कृषि, पर्यावरण, मानव विज्ञान, वाणिज्य, कम्प्यूटर में से किसी एक विषय को लिया जा सकता है। फिजिकल एजुकेशन के अंतर्गत चित्रकला, संगीत, गायन जैसे विषय में से एक लेना होगा।

 

jindal steel hbm ad
5379487