Logo
MP Board Class 10 Exam: मध्य प्रदेश माध्यमिक शिक्षा मंडल बोर्ड भोपाल (Board of Secondary Education Bhopal) की 10वीं की परीक्षाएं कल यानी 05 फरवरी से शुरू हो रही है। हम आपको बताना चाहेंगे कि बोर्ड एग्जाम अहम होता है ऐसे में ध्यान से एक्सपर्ट की बातों को समझें और एग्जाम दें।

MP Board Exam 2024 Class 10: मध्य प्रदेश माध्यमिक शिक्षा मंडल बोर्ड भोपाल (Board of Secondary Education Bhopal) की 10वीं की परीक्षाएं सोमवार (05 फरवरी) से शुरू हो रही है। क्लास 10वीं का पहला बोर्ड पेपर हिंदी का है। पेपर चाहे किसी भी सब्जेक्ट का हो, परीक्षा के नजदीक आते ही स्टूडेंट्स तनाव में आ जाते हैं। जेहन में कई तरह के सवाल उठने लगते हैं। इसी ऊहापोह में कई बार पेपर बिगड़ भी जाता है। हम आपको बताना चाहेंगे कि किसी भी बोर्ड एग्जाम का पहला पेपर बहुत अहम होता है। यकीनन, बोर्ड एग्जाम में अच्छे नंबर को लेकर घबराहट होना आम बात है, लेकिन एग्जाम से एक दिन पहले स्टूडेंट्स ऐसा क्या करें कि पेपर को लेकर कोई घबराहट भी नहीं हो और पेपर भी अच्छा हो। किसी भी एग्जाम में रिवीजन बहुत मायने रखता है। यहां हिंदी के एक्सपर्ट से बात की और उनसे जाना कि एग्जाम से एक दिन स्टूडेंट्स को क्या करना चाहिए? अपने मन को शांत कैसे रखें? ये एक्सपर्ट सलाह आपको टॉपर्स बना सकती है, तो ध्यान से एक्सपर्ट की बातों को समझें और एग्जाम दें।

यह भी पढ़ें: MP Board Exam 2024: 10वीं हिंदी के छात्र ऐसे करें तैयारी; मिलेंगे 100 फीसदी नंबर, अपनाएं ये खास टिप्स

विषय विशेषज्ञ से समझिए क्या करना चाहिए और क्या नहीं
शासकीय कन्या हायर सेकंडरी स्कूल बकतरा, सीहोर के प्रभारी प्राचार्य और हिन्दी शिक्षक बदामी लाल चौहान ने कहा कि बोर्ड परीक्षा के लिए विद्यार्थियों की तैयारियां अंतिम दौर में हैं। ऐसे में उनपर तनाव बढ़ना लाजमी है। पॉइंट में समझिए टिप्स:

  • कुछ नया पढ़ने से यह तनाव और बढ़ सकता है। ऐसे में अब कुछ नया पढ़ने का समय नहीं है।
  • अभी तक जो पढ़ा है, उसी का रिवीजन करें और लिखकर देखें।
  • एग्जाम से एक दिन पहले का समय रिवीजन का होता है। इसमें उस टॉपिक पर फोकस रखें, जो आपको कठिन लग रहा हो।
  • एक-दो घंटे लिखने की भी प्रैक्टिस करें। इससे एग्जाम के दिन आपके हाथ थकेंगे नहीं।
  • बच्चों को परिवार विशेषकर माता-पिता का सहयोग जरूरी है।
  • माता-पिता को चाहिए कि घर का माहौल अच्छा रखें।
  • बच्चों पर लगातार पढ़ाई के लिए दबाब नहीं बनाएं।
  • परीक्षा से एक दिन पहले पर्याप्त नींद लें।
  • रात में बच्चों को हल्का और सादा भोजन करना चाहिए।
  • बच्चों को पढ़ाई के आलवा कुछ समय मनोरंजन और आराम भी करने दें।
  • बच्चों से समय-समय पर बात जरूर करें, उसका मनोबल बढ़ाएं।

यह भी पढ़ें:  MP Board Exam, Expert Tips: विज्ञान में 100% अंक लाने का क्या है फॉर्मूला; स्टूडेंट्स कैसे करें तैयारी, एग्जाम में किन बातों का रखें ध्यान?

परीक्षा केंद्र जाने से पहले इन बातों का रखे ध्यान 

  • समस्त परीक्षार्थियों को परीक्षा कक्ष में प्रातः 8:00 बजे तक उपस्थित होना अनिवार्य हैं।
  • परीक्षा प्रारंभ होने के निर्धारित समय से 15 मिनट पूर्व के पश्चात् किसी छात्र को प्रवेश नहीं दिया जाएगा।
  • परीक्षा प्रारम्भ होने के 10 मिनिट के प्रातः 8:50 बजे से पूर्व छात्रों को उत्तर पुस्तिका एवं 05 मिनिट के प्रातः 8:55 बजे से पूर्व प्रश्न-पत्र दिये जायेंगे।
  • परीक्षा केंद्र में मोबाइल फोन, टैब, स्मार्ट वॉच जैसे इलेक्ट्रानिक डिवाइस का इस्तेमाल करना प्रतिबंधित है।

9.92 लाख स्टूडेंट्स होंगे शामिल
इस परीक्षा में प्रदेश भर से 9 लाख 92 हजार 101 विद्यार्थी शामिल होंगे। परीक्षा के लिए प्रदेश में 3 हजार 868 परीक्षा केंद्र बनाए गए हैं। जिसमें 302 परीक्षा केंद्रों को संवेदनशील की श्रेणी में रखा है। सबसे ज्यादा संवेदनशील केंद्र 62 मुरैना में हैं।

प्रवेश पत्र पर लगा क्यूआर कोड
परीक्षा का समय सुबह 9 बजे से दोपहर 12 बजे तक रहेगा। परीक्षार्थियों को एक घंटे पहले सुबह 8 बजे परीक्षा केंद्रों पर पहुंचना होगा। परीक्षा शुरू होने के 15 मिनिट पूर्व किसी विद्यार्थी को प्रवेश नहीं दिया जाएगा। इस बार मंडल ने 10 वीं और 12वीं की बोर्ड परीक्षाओं के प्रवेश पत्र पर क्यूआर कोड लगाए गए हैं। इनके जरिए परीक्षार्थी की पहचान की जाएगी।

50 से अधिक उडऩदस्ते करेंगे निगरानी
प्रदेशभर में जिला प्रशासन के सहयोग से 50 से अधिक उडऩदस्ते परीक्षा केंद्रों की निगरानी करेंगे।

72 ग्रुप पर साइबर पुलिस की नजर
सोशल मीडिया पर कई ग्रुप पेपर के एवज में रुपए मांगते हैं। ऐसे में जो क्यूआर कोड दे रहे हैं, उससे संबंधित बैंक खाते का पता लगाकर बदमाशों पर नजर रखी जाएगी। मंडल ने ऐसे 72 ग्रुप की सूची साइबर पुलिस को दे दी है।

jindal steel Ad
5379487