Logo
election banner
हरियाणा के सोनीपत के गांव नाहरा में पावर ग्रिड की लाइन बिछाने के मामले में प्रशासन व ग्रामीणों के बीच गतिरोध बरकरार है। मंगलवार को पुलिस की निगरानी में गांव में गड्ढे खोदने का काम तेज कर दिया गया। इसको लेकर टावर कंपनी ने पुलिस बल बढ़ाने की मांग की, जिस पर पुलिस बल की संख्या बढ़ा दी गई।

Sonipat: गांव नाहरा में पावर ग्रिड की लाइन बिछाने के मामले में प्रशासन व ग्रामीणों के बीच गतिरोध बरकरार है। मंगलवार को पुलिस की निगरानी में गांव में गड्ढे खोदने का काम तेज कर दिया गया। इसको लेकर टावर कंपनी ने पुलिस बल बढ़ाने की मांग की, जिस पर पुलिस बल की संख्या बढ़ा दी गई। उधर, मुआवजा बढ़ाने की मांग कर रहे किसानों ने धरना स्थल पर पंचायत की। पंचायत में पुलिस की तरफ से किसानों पर मुकदमा दर्ज करने पर रोष जताया गया। इसके साथ ही किसानों ने स्पष्ट किया कि वे धरना जारी रखेंगे। किसान मुकदमों से डरने वाले नहीं है। साथ ही किसान अब एक बार फिर महापंचायत करने जा रहे हैं, जिसकी तिथि जल्द ही निर्धारित कर दी जाएगी।

गुजरात के कच्छ से शुरू हुई हाई ट्रांसमिशन लाइन

गुजरात के कच्छ से शुरू हुई हाई ट्रांसमिशन लाइन के हिस्से में दिल्ली के औचंदी से सोनीपत के गांव माहरा तक लाइन बिछाई जा रही है। जिसका गांव नाहरा के किसान विरोध कर रहे हैं। किसान इसके लिए मार्केट रेट का मुआवजा मांग रहे हैं। किसानों को हिरासत में लेकर कंपनी ने टावर लगाने का काम भी शुरू करा दिया था, लेकिन उसके बाद से किसान धरने पर बैठे हुए हैं। यही नहीं, इस मामले में कंपनी व प्रशासनिक अधिकारियों के साथ किसानों की कई बार बैठक भी हो चुकी हैं, लेकिन कोई नतीजा नहीं निकला। रविवार को किसानों ने महापंचायत की, जिसके बाद कंपनी की तरफ से खोदे गए गड्ढों को भर दिया और फैसला लिया कि मुआवजा मिलने तक काम नहीं होने दिया जाएगा। इस दौरान किसानों व पुलिस प्रशासन के बीच झड़प भी हुई थी।

अपनी जमीन के लिए फांसी पर चढ़ने को तैयार किसान

कुंडली थाना पुलिस ने कंपनी के अधिकारी के बयान पर सरकारी काम में बाधा पहुंचाने, धमकी देने व सरकारी अधिकारियों से दुर्व्यवहार करने के आरोप में 16 नामजद समेत 100 किसानों के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया। नामजद किसानों में कई किसान नेता भी शामिल हैं। इनमें भाकियू के युवा जिला अध्यक्ष वीरेंद्र पहल, संयुक्त किसान मोर्चा के सदस्य रवि आजाद सहित अन्य किसान शामिल हैं। किसानों ने मंगलवार को धरना स्थल पर पंचायत की और मुकदमें दर्ज किए जाने के मामले में रोष प्रकट किया। किसानों ने कहा कि वह अपनी जमीन के लिए फांसी पर चढ़ने को तैयार है। जल्दी ही फिर से महापंचायत करने की बात कही गई।

रात भर चलता रहा काम, पुलिस रही तैनात

तनातनी के बीच नाहरा में पावर ग्रिड लाइन बिछाने के लिए काम जारी है। बताया जा रहा है कि रात को भी काम किया गया। किसानों की तरफ से भरे गए सभी गड्ढों से बुलडोजर की मदद से मिट्टी निकाल दी गई। मौके पर भारी पुलिस बल तैनात रहा। किसानों के विरोध की आशंका के चलते रात को भी पुलिस की तैनाती की गई थी।

jindal steel Ad
5379487