Logo
एचडीएफसी के बैंक से 23 किसानों के अकाउंट से 1 करोड़ 84 लाख रुपए गायब हो गए हैं। इस मामले में पुलिस ने बैंक मैनेजर को गिरफ्तार किया है।  

यशवंत गंजीर - कुरुद। छत्तीसगढ़ के धमतरी जिले से धोखाधड़ी का मामला सामने आया है। जहां एचडीएफसी बैंक कुरुद के खाताधारकों से 1 करोड़ 84 लाख रुपए गबन करने के आरोप में धोखाधड़ी के मुख्य आरोपी तत्कालीन बैंक मैनेजर श्रीकांत टेनेटी को पुलिस ने गिरफ्तार किया है। उनके एक सहयोगी आरोपी अभी भी पुलिस गिरफ्त से बाहर है जिसकी पतासाजी की जा रही है। 

मिली जानकारी के अनुसार, आवेदक पीयुष राठौर शाखा प्रबंधक बैंक शााखा कुरूद द्वारा रिपोर्ट किया गया कि,उनके बैंक के तत्कालीन शाखा प्रबंधक श्रीकांत टेनेटी और उसके सहयोगी तेजेन्द्र साहू ने मिलकर बैंक के संपत्ति का दुरुपयोग बैंक कर धोखाधड़ी किया है। बैंक के खाताधारकों से 1 करोड़ 84 लाख 4 हजार 1 सौ 51 रुपए गबन कर लिया है। इसके बाद पुलिस ने शिकायत दर्ज कर आरोपियों की तलाश में जुट गई थी। 

accused
गिरफ्तार आरोपी

आरोपी को हैदराबाद से किया गया गिरफ्तार

जांच के दौरान पुलिस को सूचना मिली कि, धमतरी सिटी कोतवाली थाना क्षेत्र के हाउसिंग बोर्ड कालोनी हटकेश्वर मयूर रायचुरिया निवासी श्रीकांत टेनेटी हैदराबाद में है। इसके बाद पुलिस ने कार्रवाई कर आरोपी  श्रीकांत टेनेटी को गिरफ्तार कर लिया गया। उनसे से कड़ाई से पूछताछ करने पर उन्होंने अपना अपराध कबूल लिया। 

धोखाधड़ी के पैसों से रायपुर मोवा में खरीदा प्लॉट

कुरुद पुलिस ने बताया, पूछताछ के दौरान आरोपी एचडीएफसी के तत्कालीन बैंक मैनेजर श्रीकांत टेनेटी ने ग्राहकों का पैसा आहरण, फंड ट्रांसफर के माध्यम से बिना सहमति के अपने सहयोगी तेजेन्द्र साहू के साथ मिलकर ग्राहकों के खातों का पैसा आहरण, फंड ट्रांसफर, ऑनलाइन और चेक के माध्यम से निकालकर आपस में बांट लिया। आरोपी ने धोखाधडी से प्राप्त रुपए का रायपुर मोवा में प्लाट खरीदना और स्वयं के खाते में 1 लाख 20 हजार रुपए डाला दिया। 

23 खाताधारका किसानों से किया हैं धोखाधड़ी

उल्लेखनीय है कि, कुरूद के बायपास रोड के पास एचडीएफसी बैंक संचालित है, जिसके मैनेजर श्रीकांत टेनेटी है। वह अपने एक अधीनस्थ कर्मचारी के साथ मिलकर करीब 23 खाताधारक किसानों से उनके क्रेडिट कार्ड, ऋण पुस्तिका समेत अन्य माध्यमों से विभिन्न तरह के लोन देने के नाम पर उनके खाते से रुपए निकाले लिए। ऑनलाइन रुपए निकालने की शिकायत खाता धारकों ने बैंक से की थी, जिसके बाद 8 मई को बैंक प्रबंधन ने कुरुद थाना में एफआईआर दर्ज कराई थी। आरोपियों के इस करतूत से कई किसानों के बेटियों की शादी, मकान निर्माण, व्यवसाय जैसे जरूरी कार्य प्रभावित हुए है। इतना ही नही एक ही परिवार के तीन-तीन लोगों को इन्होंने शिकार बनाया है। फिलहाल पुलिस ने कार्रवार्र कर आरोपी मैनेजर को गिरफ्तार कर लिया। वहीं अन्य आरोपी तेजेन्द्र साहू का तलाशी जारी है।

jindal steel Ad
5379487