Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

राष्ट्रगान के दौरान रसूल चबा रहे थे च्युइंगम, ट्विटर पर विरोध

बीसीसीआइ और कप्तान कोहली से की गई कार्रवाई की मांग।

राष्ट्रगान के दौरान रसूल चबा रहे थे च्युइंगम, ट्विटर पर विरोध
नई दिल्ली. कानपुर के ग्रीन पार्क में खेले गए मैच में जम्मू-कश्मीर के ऑल-राउंडर क्रिकेटर परवेज रसूल को टी20 में अपना डेब्यू करने का मौका मिला। लेकिन डेब्यू के साथ ही रसूल विवादों में भी छा गए। भारत और इंग्लैंड के बीच पहला टी 20 शुरू होने ही वाला था कि एक ट्वीट ने ध्यान खींचा। इसमें परवेज रसूल पर सवाल था। मैच से पहले राष्ट्रगान के समय रसूल च्युइंग गम चबा रहे थे। इससे बढ़िया मुद्दा क्या हो सकता है कि कश्मीर का एक मुस्लिम राष्ट्रगान के समय च्युइंग गम चबा रहा हो! ट्विटर पर मैसेज शुरू हो गए। सवाल पूछे जाने लगे।
सोशल साइट ट्विटर पर लोकेंद्र सिंह ने ट्वीट किया । जिसके बाद सभी की नजरे रसूल पर गईं। ट्वीट कर लिखा कि रसूल के लिए राष्ट्रगान से ज्यादा जरूरी च्युइंग गम चबाना है। चिन्मय जावेलकर ने लिखा कि राष्ट्रगान के दौरान आराम से खड़े होकर च्युइंग गम चबाते देखकर दुख हुआ।
वह भारत की जर्सी पहन सकते हैं, लेकिन राष्ट्रगान नहीं गा नहीं सकते। क्षितिज शर्मा ने ट्वीट किया कि भारत की टीम जहां राष्ट्रगान के लिए खड़ी है, वहीं रसूल च्युइंग गम चबा रहे हैं। उम्मीद है बीसीसीआइ और विराट कोहली उन्हें सुप्रीम कोर्ट की गाइडलाइंस और तमीज सिखाएंगे।
कश्मीर के बिजबेहाड़ा के रहने वाले रसूल जरगर कश्मीर घाटी के पहले अंतरराष्ट्रीय क्रिकेटर हैं। घरलू क्रिकेट में एक ऑलराउंडर के रूप में स्थापित हो चुके रसूल दायें हाथ से ऑफब्रेक गेंदबाजी के साथ मध्यक्रम में बल्लेबाजी भी करते हैं। 27 साल के रसूल जून, 2014 में बांग्लादेश के खिलाफ वनडे टीम में शामिल किए गए थे।
अपने इकलौते वनडे में उन्होंने दस ओवर में 60 रन देकर दो विकेट हासिल किए थे। इंग्लैंड के साथ वनडे सीरीज से पहले अभ्यास मैच में भी उन्हें शामिल किया गया था। इसमें उन्हें 38 रन देकर तीन खिलाड़ियों को पवेलियन भेजा था। आइपीएल में वह पुणे वॉरियर्स, सनराइजर्स हैदराबाद और रॉयल चैलेंजर्स बेंगलूरके लिए खेल चुके हैं।

खबरों की अपडेट पाने के लिए लाइक करें हमारे इस फेसबुक पेज को फेसबुक हरिभूमि, हमें फॉलो करें ट्विटर और पिंटरेस्‍ट पर-

Next Story
Top