Logo
election banner
MS Dhoni Bat Sticker Saga: महेंद्र सिंह धोनी ने पहली क्रिकेट किट देने वाली कंपनी BAS के लिए करोड़ों की डील ठुकरा दी थी। इस कंपनी के ओनर ने माही से जुड़ी ये दिलचस्प कहानी सुनाई है।

नई दिल्ली। महेंद्र सिंह धोनी को यारों का यार माना जाता है। वो अपने दोस्तों के लिए भी कुछ भी कर गुजरते हैं। धोनी हाल ही में खास स्टीकर लगे बैट के साथ प्रैक्टिस करते नजर आए थे। ये स्टीकर रांची की उस 'प्राइम स्पोर्ट्स' दुकान के नाम था, जो धोनी के दोस्त परमजीत सिंह की है। परमजीत सिंह वही हैं, जिन्होंने धोनी को पहली स्पॉन्सरशिप डील दिलाने के लिए कड़ी मशक्कत करते देखा था। ऐसे में धोनी ने आईपीएल 2024 से पहले अपने इस दोस्त को खास गिफ्ट दिया है। 

ऐसा नहीं है कि धोनी ने अपने दोस्त को ही याद रखा। धोनी उस 'Beat All Sports' यानी BAS कंपनी को भी नहीं भूले हैं, जिसने उन्हें पहली स्पॉन्सरशिप डील दी थी और 2019 के वर्ल्ड कप में धोनी अपने बैट पर इसी BAS कंपनी का लोगो लगाकर खेले थे। लेकिन, इसके लिए उन्होंने एक रुपया भी नहीं लिया था। इस कंपनी के ओनर सोमी कोहली का एक वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा, जिसमें उन्होंने ये बताया है कि हमने धोनी को इसके लिए काफी पैसों की पेशकश की थी। लेकिन, उन्होंने साफ इनकार कर दिया था। 

धोनी ने BAS कंपनी के लिए करोड़ों की डील छोड़ी थी
BAS कंपनी के ओनर सोमी कोहली का जो वीडियो वायरल हो रहा, उसमें उन्होंने कहा, "धोनी ने किसी भी पैसे का जिक्र नहीं किया। उन्होंने सिर्फ इतना कहा कि अपने स्टिकर मेरे बैट पर लगाओ और उन्हें भेज दो। तब मैंने उन्हें समझाने की काफी कोशिश की थी कि आप अच्छी डील को छोड़ रहे हैं। उन्होंने करोड़ों रुपये की डील छोड़ दी थी। मुझे याद है कि मैंने तब उनकी पत्नी साक्षी, उनके पिता और मां से भी अनुरोध किया था कि वो धोनी को समझाएं। यहां तक कि मैंने उनके सीए और दोस्त परमजीत को भी ये बात बताई थी। उन सभी लोगों ने  2019 के विश्व कप से पहले धोनी को समझाने की कोशिश की थी। लेकिन, माही ने साफ कह दिया था कि ये मेरा फैसला है और बदलेगा नहीं। 

Cheteshwar Pujara: 'रणजी ट्रॉफी में रन बनाना आसान नहीं, जब 41 के एंडरसन खेल रहे तो मैं...' चेतेश्वर पुजारा ने बताया- कैसे होगा कमबैक?

BAS कंपनी ने ही उन्हें पहली क्रिकेट किट दी थी
धोनी का BAS कंपनी से जुड़ाव 1998 से है। 25 साल से पहले, दोस्त परमजीत सिंह की कोशिशों के बाद इस कंपनी ने धोनी को पहली क्रिकेट किट दी थी। हालांकि, सोमी कोहली को धोनी से मिलने में 6 साल लग गए थे। ये दोनों 2004 में पहली बार मिले थे। उसी साल धोनी ने टीम इंडिया के लिए डेब्यू किया था और जैसा कि किस्मत को मंजूर था, धोनी ने BAS का स्टीकर लगे बल्ले से ही पाकिस्तान के खिलाफ अपना पहला वनडे शतक ठोका था। इसके बाद धोनी ने अपने करियर में रीबॉक, स्पार्टन और कई और कंपनियों से स्पॉन्सरशिप डील साइन की लेकिन इसके बावजूद कोहली उन्हें किट भेजते रहे।

5379487