Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

Sardar Vallabhbhai Patel Jayanti : पीएम मोदी ने कहा आर्टिकल 370 हटाने का महान फैसला सरदार वल्लभभाई पटेल को समर्पित

देश के पहले गृहमंत्री और लौह पुरुष सरदार वल्लभ भाई पटेल की जयंती मनायी जा रही है। इस दौरान प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने गुजरात के केवड़िया में जाकर वल्लभ भाई पटेल को नमन किया है। इस दौरान आंतरिक सुरक्षा को लेकर शपथ दिलायी है।

Sardar Vallabhbhai Patel Jayanti : पीएम मोदी ने लौह पुरूष को नमन कर दिलायी सुरक्षा की शपथ, अमित शाह ने कहा धारा 370 थी आतंकवादियों का गेटवे
X
सरदार वल्लभ भाई पटेल की 144वीं जयंती पर केवड़िया में कार्यक्रम के दौरान प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी

देशभर में लौह पुरुष सरदार वल्लभ भाई पटेल की जयंती पर रन ऑफ यूनिटी कार्यक्रम का आयोजन किया जा रहा है। दिल्ली से लेकर गुजरात तक सभी शहरों में सुबह 7.30 बजे से दौड़ और विशेष कार्यक्रम का आयोजन किया जा रहा है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने गुजरात के केवड़िया में जाकर जाकर श्रद्धा सुमन अर्पित किए हैं। यहां मौजूद हजारों लोगों को आतंरिक सुरक्षा को लेकर शपथ दिलायी है।

सरदार पटेल की जयंती के अवसर पर जनता को संबोधित करने के बाद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी केवड़िया में आयोजित पुलिस प्रौद्योगिकी प्रदर्शनी में भी शामिल हुए।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी ने राष्ट्रीय एकता दिवस के आयोजन पर जनता को संबोधित करते हुए कहा कि सरदार पटेल ने देश की एकता-अखंडता का काम किया। सरदार पटेल की प्रतिमा देश की एकता का प्रतीक है। सरदार पटेल की प्रतिमा के पास ऊर्जा मिलती है। उन्होंने कहा आज भी सरदार पटेल के एक-एक शब्द का महत्व है। सरदार साहब हमेशा उद्देश्य की एकता, लक्ष्य की एकता और प्रयास की एकता की बात करते थे।

प्रधानमंत्री मोदी ने देश की एकता की बात करते हुए कहा कि भारत की विशेषता विविधता में एकता है। विवधता में एकता हमारा गर्व, गौरव है। भारत की विविधता में एकता का सामर्थ्य दिखता है। हमें विविधता में कभी विरोधाभास नहीं दिखता। उन्होंने कहा देश की सैंकड़ों भाषाओं, बोलियों पर गर्व है। विवधता में एकता की देश की शान।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने अपने भाषण के दौरान आर्टिकल 370 का जिक्र करते हुए कहा कि आर्टिकल 370 ने जम्मू-कश्मीर को केवल अलगाववाद और आतंकवाद दिया। केवल जम्मू-कश्मीर पुरे देश में ऐसी एक जगह थी जहां आर्टिकल 370 था। यहां पिछले 3 दशकों में 40,000 से अधिक लोगों की आतंकवाद की वजह से मौत हो गई। आतंकवाद ने कई माताओं को अपने बेटों से अलग कर दिया। लेकिन अब इस आर्टिकल 370 की दीवरा को गिरा दिया गया है।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि आज़ादी के बाद पहली बार जम्मू-कश्मीर में पिछले हफ्ते बीडीसी के चुनाव हुए और 98 प्रतिशत पंच और सरपंचों ने वोट डाला। यह भागीदारी अपने आप में एकता का संदेश है। अब जम्मू-कश्मीर में एक राजनीतिक स्थिरता आएगी। उन्होंने कहा कि मुझे खुशी है कि आज जम्मू-कश्मीर और लद्दाख के सरकारी कर्मचारियों को 7 वें वेतन आयोग के अंतर्गत वह सभी लाभ मिल पाएंगे जो कि अन्य केंद्र शासित प्रदेशों में नौकरी करने वाले लोगों को मिले हुए हैं।

गुजरात के केवड़िया में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने राष्ट्रीय एकता दिवस के अवसर पर भारतवासियों को एकता की शपथ दिलाई।

दूसरी तरफ दिल्ली में राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद और गृहमंत्री अमित शाह ने रन ऑफ यूनिटी कार्यक्रम के तहत आयोजित दौड़ को हरीझंड़ी दिखायी। जिसके बाद पूरी दिल्ली में विशेष कार्यक्रम आयोजित किए गए। इसके जरिए सरदार वल्लभ भाई पटेल के कार्यों को याद किया गया।

370 को छूना मुनासिब नहीं समझा

सरदार पटेल को याद करते हुए गृहमंत्री अमित शाह ने कहा कि पूरे 70 साल हो गए। लेकिन किसी ने धारा 370 को छूना भी मुनासिब नहीं समझा। उन्होंने कहा कि 2019 में देश की जनता ने हमारे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को देश की बागडोर सौंपी।

गृहमंत्री ने कहा कि प्रधानमंत्री को बागडोर दोबारा सौंपने के बाद 5 अगस्त वो दिन है। जिस दिन देश की पार्लियामेंट ने धारा 370 और 35ए को हटाने का कार्य किया। गृहमंत्री ने कहा कि धारा 370 और 35ए देश के अंदर आतंकवाद का गेटवे बनी हुई थी। इस गेटवे को रुक जाओ करके एक फाटक लगाने का काम देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने किया है।


हरियाणा मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर ने पंचकुला में स्थित परेड मैदान में 'रन फॉर यूनिटी' रैली को हरी झंडी दिखाई।


महाराष्ट्र के राज्यपाल भगत सिंह कोशियारी और मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस ने सरदार वल्लभभाई पटेल की 144 वीं जयंती के अवसर पर "रन फॉर यूनिटी" रैली को हरी झंडी दिखाई।

और पढ़े: Haryana News | Chhattisgarh News | MP News | Aaj Ka Rashifal | Jokes | Haryana Video News | Haryana News App

Next Story