Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

पंजाब के पूर्व मुख्यमंत्री बेअंत सिंह हत्याकांड के दोषी की उम्रकैद में बदली गई मौत की सजा

शनिवार को गृह मंत्रालय के एक प्रवक्ता ने कहा कि पंजाब में आतंकवाद के दौरान अपराध करने के लिए देश की विभिन्न जेलों में बंद आठ सिख कैदियों को सरकार श्री गुरु नानक देवजी की 550वीं जयंती पर मानवीय आधार पर रिहा करेगी।

बेअंत सिंह हत्याकांड के दोषी की उम्रकैद में बदली गई मौत की सजाBeant Singh Murder Case: Death Sentence Of Convict Balwant Singh Rajoana Changed To Life Sentence

गृह मंत्रालय (Ministry Of Home Affairs) ने पंजाब (Punjab) के पूर्व मुख्यमंत्री बेअंत सिंह (Beant Singh) की हत्या मामले के दोषी बलवंत सिंह राजोआना (Balwant Singh Rajoana) की मौत की सजा को उम्रकैद में बदलने का फैसला किया है। अधिकारियों ने रविवार को यह जानकारी दी। बेअंत सिंह की 31 अगस्त, 1995 को हत्या कर दी गई थी। उन्हें पंजाब में आतंकवाद (Terrorism In Punjab) को खत्म करने का श्रेय दिया जाता है।

31 अक्टूबर 1995 को किया विस्फोट

गृह मंत्रालय के एक अधिकारी ने कहा कि बलवंत सिंह राजोआना की मौत की सजा को बदलने पर फैसला कर लिया गया है। औपचारिक अधिसूचना जारी करने की प्रक्रिया चल रही है। 31 अगस्त, 1995 को चंडीगढ़ में सिविल सचिवालय के बाहर एक विस्फोट में तत्कालीन मुख्यमंत्री बेअंत सिंह की मौत हो गई थी। आतंकी हमले में सोलह अन्य लोगों की भी जान चली गई थी।

मानवीय आधार पर रिहा होंगे कैदी

शनिवार को गृह मंत्रालय के एक प्रवक्ता ने कहा कि पंजाब में आतंकवाद के दौरान अपराध करने के लिए देश की विभिन्न जेलों में बंद आठ सिख कैदियों को सरकार श्री गुरु नानक देवजी की 550वीं जयंती पर मानवीय आधार पर रिहा करेगी।

Next Story
Share it
Top