Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

असम और मिजोरम ने जारी किया ज्वाइंट बयान, जानें इन 4 पॉइंट में क्या कहा

असम और मिजोरम ने एक संयुक्त बयान जारी करते हुए कहा कि दोनों राज्य सरकारें अंतर्राज्यीय सीमा के आसपास व्याप्त तनाव को दूर करने और चर्चा के माध्यम से विवादों का स्थायी समाधान खोजने के लिए गृह मंत्रालय और उनके मुख्यमंत्रियों द्वारा की गई पहल को आगे बढ़ाने के लिए सहमत हैं। जॉइंट बयान में 4 पॉइंट को दर्शाया गया है।

असम और मिजोरम ने जारी किया ज्वाइंट बयान, जानें इन 4 पॉइंट में क्या कहा
X

असम और मिजोरम ने एक संयुक्त बयान जारी करते हुए कहा कि दोनों राज्य सरकारें अंतर्राज्यीय सीमा के आसपास व्याप्त तनाव को दूर करने और चर्चा के माध्यम से विवादों का स्थायी समाधान खोजने के लिए गृह मंत्रालय और उनके मुख्यमंत्रियों द्वारा की गई पहल को आगे बढ़ाने के लिए सहमत हैं। लिखित में जॉइंट बयान में 4 पॉइंट को दर्शाया गया है। समाचार एजेंसी एएनआई के मुताबिक, 1- असम और मिजोरम ने ज्वाइंट बयान जारी करते हुए कहा कि असम और मिजोरम की सरकारें गृह मंत्रालय, भारत सरकार और असम- मिजोरम के मुख्यमंत्रियों के द्वारा अंतर्राज्यीय सीमाओं के आसपास व्याप्त तनाव को दूर करने और स्थायी समाधान खोजने के लिए की गई पहलों का स्वागत करती हैं और सहमत हैं।

2- मिजोरम सरकार के प्रतिनिधियों ने 26 जुलाई 2021 को हुई मौतों पर शोक व्यक्त किया और घायलों के शीघ्र स्वस्थ होने की कामना व्यक्त की।

3- दोनों राज्य सरकारें अंतर्राज्यीय सीमावर्ती क्षेत्रों में शांति बनाए रखने के लिए सहमत हैं और इस संबंध में भारत सरकार द्वारा तटस्थ बल की तैनाती का दोनों राज्यों ने स्वागत किया। इस उद्देश्य के लिए, दोनों राज्य अपने-अपने वन क्षेत्र में पुलिस बलों को गश्त, वर्चस्व, प्रवर्तन या किसी भी क्षेत्र में नए सिरे से तैनाती के लिए नहीं भेजेंगे, जहां हाल के दिनों में दोनों राज्यों के पुलिस बलों के बीच टकराव और संघर्ष हुआ है।

4- दोनों राज्यों की सरकारों के प्रतिनिधि असम और मिजोरम में विशेष रूप से सीमावर्ती क्षेत्रों में रहने वाले लोगों के बीच शांति और सद्भाव को बढ़ावा देने, संरक्षित करने और बनाए रखने के लिए सभी आवश्यक उपाय करने के लिए सहमत हैं।

Next Story