Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

महिला पायलटों ने रचा इतिहास, दुनिया के सबसे लंबे हवाई मार्ग नॉर्थ पोल क्रॉस कर बेंगलुरु पहुंची एयर इंडिया की फ्लाइट

इन महिला पायलटों की टीम अमेरिका के सैन फ्रांसिस्को शहर से उड़ान भरने के बाद नॉर्थ पोल (उत्तरी ध्रुव) से होते हुए बेंगलुरु पहुंच गई है।

महिला पायलटों ने रचा इतिहास, दुनिया के सबसे लंबे हवाई मार्ग नॉर्थ पोल क्रॉस कर बेंगलुरु पहुंची एयर इंडिया की फ्लाइट
X

एयर इंडिया महिला पायलट, फोटो एएनआई

एयर इंडिया की महिला पायलटों की एक टीम ने दुनिया के सबसे लंबे हवाई मार्ग उत्तरी ध्रुव पर उड़ान भरने का कीर्तिमान रचा है। इन महिला पायलटों की टीम अमेरिका के सैन फ्रांसिस्को शहर से उड़ान भरने के बाद नॉर्थ पोल (उत्तरी ध्रुव) से होते हुए बेंगलुरु पहुंच गई है। मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक, इन महिला पायलटों ने लगभग 16 हजार किलोमीटर की दूरी तय की है।

समाचार एजेंसी एएनआई के मुताबिक, बेंगलुरु हवाई अड्डे पर कप्तान जोया अग्रवाल ने कहा कि आज हमने न केवल उत्तरी ध्रुव पर उड़ान भरकर विश्व इतिहास रचा, बल्कि हमने सभी महिला पायलट ने इस कीर्तिमान को सफलतापूर्वक हासिल किया है। हम इसका हिस्सा बनकर बेहद खुश हैं और गर्व महसूस कर रहे हैं। इस मार्ग ने 10 टन ईंधन बचाया है।

सैन फ्रांसिस्को-बेंगलुरु उड़ान का संचालन उड़ान के संचालन का उद्घाटन करने वालीं शिवानी मन्हास ने कहा कि यह एक रोमांचक अनुभव था क्योंकि यह पहले कभी नहीं किया गया था। यहां पहुंचने में लगभग 17 घंटे लग गए।

एयर इंडिया ने ट्वीट कर कहा कि 'वेलकम होम, हमें आप सभी (महिला पायलटों) पर गर्व है। हम AI176 के यात्रियों को भी बधाई देते हैं, जो इस एतेहासिक यात्रा का हिस्सा बने। बता दें कि कैप्टन जोया अग्रवाल इस ऐतिहासिक उड़ान का नेतृत्व किया है। को-पायलट के तौर पर जोया के साथ कैप्टन पापागरी तनमई, कैप्टन शिवानी और कैप्टन आकांक्षा सोनवरे थीं।

Next Story