Logo
Shobha Karandlaje Apologized: शोभा करंदलाजे ने मंगलवार को कहा कि बेंगलुरू में एक मार्च को हुए रामेश्वरम कैफे विस्फोट के जिम्मेदार हमलावर को तमिलनाडु के कृष्णागिरी जंगलों में आपकी (एमके स्टालिन) नाक के नीचे ट्रेंड किया गया था।

Shobha Karandlaje Apologized: कर्नाटक की भाजपा नेता और केंद्रीय मंत्री शोभा करंदलाजे को द रामेश्वर कैफे ब्लास्ट को तमिलनाडु से जोड़कर टिप्पणी करना महंगा पड़ा। तमिलनाडु के मुख्यमंत्री एमके स्टालिन ने करंदलाजे की टिप्पणी पर आपत्ति जताई तो दोनों नेताओं के बीच जुबानी जंग शुरू हो गई। स्टालिन ने केंद्रीय मंत्री के खिलाफ कार्रवाई की मांग की। वहीं करंदलाजे ने पलटवार करते हुए स्टालिन पर तुष्टीकरण की राजनीति करने का आरोप लगाया। हालांकि बाद में मंत्री ने माफी मांग ली। 

क्या कहा था केंद्रीय मंत्री ने?
केंद्रीय कृषि एवं किसान कल्याण राज्य मंत्री शोभा करंदलाजे ने मंगलवार को कहा कि बेंगलुरू में एक मार्च को हुए रामेश्वरम कैफे विस्फोट के जिम्मेदार हमलावर को तमिलनाडु के कृष्णागिरी जंगलों में आपकी (एमके स्टालिन) नाक के नीचे ट्रेंड किया गया था। उनका एक वीडियो सोशल मीडिया पर सामने आया, जिसमें उन्हें यह कहते हुए सुना जा सकता है कि तमिलनाडु के लोग यहां आते हैं, वहां प्रशिक्षण लेते हैं और यहां बम लगाते हैं। 

स्टालिन ने बयान पर कड़ी आपत्ति जताई
करंदलाजे के वायरल वीडियो को रीट्वीट करते हुए तमिलनाडु के मुख्यमंत्री एमके स्टालिन ने उनके बयान पर कड़ी आपत्ति जताई। उन्होंने भाजपा नेता के खिलाफ कानूनी कार्रवाई की मांग की। स्टालिन ने उनके दावों को लापरवाह करार दिया और कहा कि केवल एनआईए अधिकारी या मामले से करीबी तौर पर जुड़े किसी व्यक्ति को ही कोई टिप्पणी करने का अधिकार होना चाहिए।

स्टालिन ने कहा कि भाजपा नेता को इस तरह के दावे करने का कोई अधिकार नहीं है।  तमिल और कन्नडिगा समान रूप से भाजपा की इस विभाजनकारी बयानबाजी को खारिज कर देंगे। मैं शांति, सद्भाव और राष्ट्रीय एकता के लिए खतरा पैदा करने के लिए शोभा के खिलाफ उचित कानूनी कार्रवाई का भी आग्रह करता हूं। प्रधानमंत्री से लेकर कैडर तक, भाजपा में सभी को तुरंत इस गंदी विभाजनकारी राजनीति में शामिल होना बंद कर देना चाहिए। ईसीआई को इस नफरत भरे भाषण पर ध्यान देना चाहिए और तुरंत कड़ी कार्रवाई शुरू करनी चाहिए।

आपके शासन में तमिलनाडु का क्या हो गया है?
मुख्यमंत्री की आलोचना के बाद शोभा ने एक्स पर एक पोस्ट में राज्य में राष्ट्रीय जांच एजेंसी (NIA) की हालिया छापेमारी का हवाला देते हुए अपने बयान दोहराए। शोभा ने लिखा कि श्री, स्टालिन, आपके शासन में तमिलनाडु का क्या हो गया है? आपकी तुष्टिकरण की राजनीति ने कट्टरपंथी तत्वों को दिन-रात हिंदुओं और भाजपा कार्यकर्ताओं पर हमले करने के लिए प्रोत्साहित किया है। आईएसआईएस जैसे आतंकी संगठनों की पहचान वाले लगातार बम विस्फोट तब होते हैं जब आप आंखें मूंद लेते हैं।

उन्होंने दावा किया, रामेश्वरम विस्फोट कांड के हमलावर को आपकी नाक के नीचे कृष्णागिरी के जंगलों में प्रशिक्षित किया गया था। उन्होंने यह भी कहा कि तमिल मक्कल का कर्नाटक के साथ सौहार्दपूर्ण संबंधों का एक लंबा इतिहास है। तमिल मक्कल कर्नाटक के सामाजिक ताने-बाने का एक अभिन्न अंग रहा है, जो राज्य में बहुत बड़ा योगदान देता है। 

मैं माफी मांगती हूं: शोभा
विवाद के बाद करंदलाजे ने तमिल भाइयों और बहनों से माफी मांगी। उन्होंने कहा कि मेरी टिप्पणियों से कुछ लोगों को दुख पहुंचा है और इसके लिए मैं माफी मांगता हूं। मेरी टिप्पणियां पूरी तरह से कृष्णागिरी जंगल में प्रशिक्षित लोगों के लिए थीं। तमिलनाडु से प्रभावित किसी भी व्यक्ति के लिए, मैं अपने दिल की गहराई से आपसे माफी मांगती हूं। इसके अलावा, मैं अपनी पिछली टिप्पणियों को वापस लेती हूं।

CH Govt jindal steel Haryana Ad hbm ad
5379487