logo
Breaking

भूलकर भी मूंगफली के फायदे को न करें नजरअंदाज, वजन घटाने समेत इन बीमारियों को करती है दूर

मूंगफली के फायदे बहुत सारे होते हैं,उसी तरह मूंगफली को भारत में कई सारे नामों से जाना जाता है। इसे हिंदी में मूंगफली, तेलुगू मे पलेलेलू,गुजराती मे सिंगानाना और मराठी मे शेंगाडेन भी कहा जाता है। मूगंफली मूल रुप से दक्षिण अमेरिका मे उगाई जाती है। मूंगफली सर्दियों का सबसे लोकप्रिय टाइम पास है। ठंड में दोस्तों, परिवार के साथ समूह में बैठकर मूंगफली खाने का अपना ही मजा है। इसे सस्ता बादाम भी कहा जाता है। इसमें लगभग वो सारे तत्व पाए जाते हैं जो बादाम में होते हैं लेकिन सस्ती कीमत पर। लेकिन कम लोगों को ही पता होगा कि ये स्वास्थ्य के लिए भी बहुत फायदेमंद है। ज्यादातर लोग तो इसे स्वाद के लिए ही खाते हैं पर इससे होने वाले फायदे जानकर आप भी चौंक जाएंगे। मूंगफली मे सेहत का खजाना छिपा हुआ होता है । इसमें पर्याप्त मात्रा मे प्रोटीन पाया जाता है। जो शारीरिक वृद्धि के लिए बेहद जरूरी है।

भूलकर भी मूंगफली के फायदे को न करें नजरअंदाज, वजन घटाने समेत इन बीमारियों को करती है दूर

Moongfali ke fayde Peenuts Benefits

मूंगफली के फायदे (Peenuts Benefits) बहुत सारे होते हैं,उसी तरह मूंगफली को भारत में कई सारे नामों से जाना जाता है। इसे हिंदी में मूंगफली, तेलुगू मे पलेलेलू,गुजराती मे सिंगानाना और मराठी मे शेंगाडेन भी कहा जाता है। मूगंफली मूल रुप से दक्षिण अमेरिका मे उगाई जाती है। मूंगफली सर्दियों का सबसे लोकप्रिय टाइम पास है। ठंड में दोस्तों, परिवार के साथ समूह में बैठकर मूंगफली खाने का अपना ही मजा है। इसे सस्ता बादाम भी कहा जाता है। इसमें लगभग वो सारे तत्व पाए जाते हैं जो बादाम में होते हैं लेकिन सस्ती कीमत पर। लेकिन कम लोगों को ही पता होगा कि ये स्वास्थ्य के लिए भी बहुत फायदेमंद है। ज्यादातर लोग तो इसे स्वाद के लिए ही खाते हैं पर
मूंगफली के फायदे (
Peenuts Benefits) जानकर आप भी चौंक जाएंगे। मूंगफली मे सेहत का खजाना छिपा हुआ होता है । इसमें पर्याप्त मात्रा मे प्रोटीन पाया जाता है। जो शारीरिक वृद्धि के लिए बेहद जरूरी है। अगर आप किसी भी कारण से दूध नहीं पी पाते हैं, तो मूंगफली का सेवन इसका एक बेहतर विकल्प है। आज हम आपको
मूंगफली के फायदे (
Peenuts Benefits) बता रहे हैं, जिससे आप मूंगफली में पाए जाने वाले पर्याप्त मात्रा में आयरन, कैल्शियम और जिंक का फायदा ले सकें साथ ही विटामिन ई और विटामिन बी 6 से शरीर को मजबूत बना सकें।

मूंगफली की तासीर (Moongfali ki Taseer in hindi)

मूंगफली की तासीर (Moongfali ki Taseer)गर्म होती है, इसलिए ये हमेशा सर्दियों में ही आती हैं। मूंगफली के होने की वजह से इसे कड़कड़ाती ठंड में खाना सबसे बेहतर समय होता है। मूंगफली की प्राकृतिक रूप से गर्म होती है, इसलिए इसका सेवन रोजाना करें, लेकिन एक सीमित मात्रा में ही करें। क्योंकि ज्यादा मूंगफली के सेवन करने से कई सारी बीमारियों के होने का खतरा बढ़ सकता है।

मूंगफली के फायदे (Peanut Benefits)

डिप्रेशन से बचाव और उपचार में मूंगफली का सेवन अच्छा होता है। मूंगफली में ट्रिपटोफान नामक एमिनोएसिड होता है। जो मूड सुधारने वाले हार्मोन सेरोटोनिन का स्राव बढ़ाता है। जिससे मूड अच्छा होता है और मन शांत होता है।
बढ़ते हुए बच्चों के अच्छे विकास के लिए उन्हें मूंगफली का सेवन अवश्य करवाएं। मूंगफली में शरीर के लिए आवश्यक कई एमिनो एसिड्स और प्रोटीन की उचित मात्रा पाई जाती है। जो शरीर के वृद्धि के लिए बढ़िया होता हैं।
मूंगफली में पाए जाने वाला विटामिन बी 3 दिमाग तेज करता है। याददाश्त अच्छी करता है। इसके साथ इसमें पाए जाने वाला रेस्वेराट्रोल नामक एक फ्लेवोनोइड तत्व दिमाग में ब्लड प्रवाह 30% बढ़ा देता है। इससे दिमाग स्वस्थ रहता है।
मूंगफली में प्रोटीन और फाइबर भरपूर मात्रा में होते है। यह एनर्जी का अच्छा स्रोत भी हैं। अतः इसे खाने पर जल्दी भूख नहीं लगती। ये दोनों पोषक तत्व जो भूख को कम करती है। इसलिए भोजन के बीच में थोड़ी सी मूंगफली खाने से भूख कम लगती है। जिससे वजन कम करने मे मदद मिल सकती है। मूगंफली के रोज सेवन से जल्द ही वजन कम किया जा सकता है।
मूंगफली में विटामिन ई होता है। जिससे स्किन मे चमक आती है और ड्राईनेस जैसे स्किन डिजीज से दूर रखती है।
मूंगफली में आयरन और कैल्शियम की मात्रा, रक्‍त में ऑक्‍सीजन के प्रवाह और हड्डियों को मजबूत बनाने का काम करती है। यह आपके शरीर के विकास में महत्‍वपूर्ण भूमिका निभाता है। यह पोषण संबंधी सभी जरूरतों को पूरा करने में सक्षम है। मूंगफली में विटामिन,खनिज और एंटीऑक्‍सीडेंट के कारण शरीर को ऊर्जा मिलती है।
मूंगफली सर्दी जुकाम के लिए फायदेमंद है। सर्दी के मौसम में मूंगफली खाने से आपका शरीर गर्म रहेगा। जो सर्दी जुकाम और खांसी के लिए उपयोगी है।
गर्भवती महिलाओ के लिए मूंगफली खाना फायदेमंद है। मूंगफली खाने से उनके गर्भ मे पल रहे बच्चे का विकास बेहतर ढंग से होता है।
9. बढ़ती उम्र के लक्षणों को रोकने के लिए भी मूंगफली का सेवन किया जाता है। इसमें मौजूद एंटी-ऑक्सीडेंट बढ़ती उम्र के लक्षणों जैसे बारीक रेखाएं और झुर्रियों को बनने से रोकते हैं, मूंगफली खाने से दिल से जुड़ी बीमारियों का खतरा कम होता है।
मूंगफली खाने से डायबिटीज होने की आशंका घटती है। रोज एक संतुलित मात्रा में मूंगफली खाने से डायबिटीज होने की सम्भावना 21% कम होती है।मूंगफली में पाए जाने वाला मैंगनीज नामक तत्व ब्लड शुगर नियंत्रित करता है, शरीर में कैल्शियम को बढने में मदद करता है और मेटाबॉलिज्म तेज करता है।

मूंगफली के नुकसान (Moongfali ki Nuksan in hindi)

वैसे तो मूंगफली को सस्ता बादाम के नाम से भी जाना जाता है, क्योंकि मूंगफली के फायदे हमें बहुत सारी गंभीर बीमारियों से बचाते हैं, लेकिन सर्दियों के मौसम में मिलने वाली गर्मागर्म मूंगफली के नुकसान(Moongfali ki Nuksan)...भी होते हैं, जिनसे बचने के लिए हमें हमेशा एक सीमित मात्रा में इसका सेवन करना चाहिए। ये हैं
मूंगफली के नुकसान(Moongfali ki Nuksan)...
1. मूंगफली के नुकसान(Moongfali ki Nuksan) के मुताबिक मूंगफली के ज्यादा सेवन करने से आपको त्वचा संबंधी एलर्जी हो सकती है।
2. मूंगफली के नुकसान(Moongfali ki Nuksan) के मुताबिक संवेदनशील त्वचा वाले लोगों को मूंगफली का सेवन करना बेहद घातक साबित होता है। मूंगफली के ज्यादा सेवन से त्वचा, चेहरे और गले पर सूजन आ सकती है।
3.मूंगफली के नुकसान(Moongfali ki Nuksan) मुताबिक मूंगफली के ज्यादा सेवन करने से पेट में गैस की समस्या हो सकती है।
4.मूंगफली के नुकसान(Moongfali ki Nuksan) के मुताबिक मूंगफली के ज्यादा सेवन करने से कई बार सांस लेने में दिक्कत होती है। यही नहीं लगातार मूंगफली के सेवन से अस्थमा अटैक का खतरा भी बढ़ सकता है।
Share it
Top